अपना शहर चुनें

States

बंगले पर बवाल! हरदीप सिंह पुरी बोले- गांधी परिवार के करीबी ने किया था फोन, प्रियंका ने कहा- मुझे जरूरत नहीं

प्रियंका गांधी ने कहा कि वह 1 अगस्त को बंगला खाली कर देंगी.
प्रियंका गांधी ने कहा कि वह 1 अगस्त को बंगला खाली कर देंगी.

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) और केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी (Hardeep Singh Puri) के बीच 35 लोधी स्टेट के उस बंगले को लेकर ट्विटर वॉर छिड़ गया है, जिसे 1 अगस्त तक खाली करने के आदेश दिए गए हैं.

  • Share this:
नई दिल्ली. राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली स्थित लुटियंस जोन में 35 लोधी स्टेट आवास को खाली कराने के मुद्दे पर मंगलवार पर केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी (Hardeep Singh Puri) और कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) के बीच ट्विटर वॉर शुरू हो गया. इस पूरे आरोप प्रत्यारोप की शुरुआत मंगलवार को प्रियंका के एक ट्वीट से हुई, जिसमें उन्होंने एक खबर को ‘फर्जी’ करार दिया. इस रिपोर्ट में दावा किया गया था कि कांग्रेस महासचिव के आग्रह पर सरकार ने उन्हें इस अवास में कुछ और समय तक रहने की अनुमति दे दी है. वहीं प्रियंका के इस ट्वीट पर जवाब देते हुए केंद्रीय मंत्री ने दावा किया कि उनके पास एक कांग्रेस नेता का फोन आया था, जिन्होंने बंगले के एक्सटेंशन के लिए अनुरोध किया था. हालांकि प्रियंका ने इस दावे को भी गलत बता दिया.

पुरी ने लिखा कि 'तथ्य खुद बोलते हैं! कांग्रेस में बहुत शक्तिशाली नेता, ने मुझे 4 जुलाई 2020 को दोपहर 12:05 बजे यह अनुरोध करने के लिए फोन किया था कि 35, लोधी एस्टेट को एक अन्य कांग्रेस सांसद को आवंटित किया जाए ताकि प्रियंका वाड्रा रह सकें.' पुरी ने यह टिप्पणी उस ट्वीट के जवाब में की थी जिसमें एक खबर को फर्जी बताते हुए प्रियंका कहा था कि 'बंगले के लिए एक्सटेंशन बढ़ाने के लिए उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अनुरोध किया था.'

पुरी की इस टिप्पणी पर प्रियंका ने भी जवाब दिया. उन्होंने लिखा- 'यदि किसी ने आपको फोन किया था तो मैं उनकी चिंता के लिए उन्हें धन्यवाद देती हूं, साथ ही आप द्वारा विचार करने के लिए भी धन्यवाद देती हूं, लेकिन इससे भी तथ्य नहीं बदलेंगे. मैंने ऐसा कोई अनुरोध नहीं किया है और मैं ऐसा कोई अनुरोध नहीं कर रही हूं. जैसा कि मैंने कहा आदेश के अनुसार मैं 1 अगस्त तक घर खाली कर दूंगी.'



यहीं नहीं थमा आरोप प्रत्यारोप
हालांकि आरोप प्रत्यारोप यहीं नहीं थमा. प्रियंका के जवाब के कुछ देर बाद फिर केंद्रीय मंत्री ने जवाब दिया. प्रियंका के जवाब में पुरी ने कहा- 'जिस नेता ने मुझे, और कई अन्य लोगों को फोन किया वह कांग्रेस पार्टी में शीर्ष स्तर पर है... वही राजनीतिक सलाहकार जो आपके परिवार की ओर से बोलते हैं और काम करते हैं. जब उन्होंने अनुरोध किया कि तो हमने सद्भाव में दो महीने का विस्तार देने का फैसला किया है. आपसे केवल अनुरोध करेंगे कि आप सार्वजनिक रूप से टिप्पणी करने से पहले अपनी पार्टी के भीतर इन मुद्दों को हल करें.  जरूरतमंद और विक्टिम कार्ड एक साथ नहीं चल सकते.'



सरकारी आदेश में कहा- ‘35 लोधी एस्टेट’ खाली करना पड़ेगा 

गौरतलब है कि केंद्रीय आवास एवं शहरी कार्य मंत्रालय ने प्रियंका से नयी दिल्ली स्थित सरकारी बंगला एक अगस्त तक खाली करने को कहा है. उसकी ओर से जारी आदेश में कहा गया कि एसपीजी सुरक्षा वापस लिए जाने के बाद उन्हें मौजूदा आवास ‘35 लोधी एस्टेट’ खाली करना पड़ेगा क्योंकि जेड प्लस की श्रेणी वाली सुरक्षा में आवास सुविधा नहीं मिलती. सरकार ने पिछले साल नवंबर में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और प्रियंका गांधी की एसपीजी सुरक्षा वापस ले ली थी तथा उन्हें जेड-प्लस श्रेणी सुरक्षा दी थी.

वहीं कांग्रेस सूत्रों के मुताबिक, प्रियंका पार्टी की उत्तर प्रदेश प्रभारी होने की वजह से अब ज्यादा समय राज्य में बिताएंगी और लखनऊ में गोखले मार्ग स्थिति शीला कौल के आवास में रहेंगी. यह मकान खाली पड़ा है और फिलहाल इसकी मरम्मत और रंगाई-पुताई का काम चल रहा है. शीला कौल देश के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू की भाभी थीं. वह केंद्रीय मंत्री औेर राज्यपाल भी रहीं. साल 2015 में उनका निधन हो गया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज