जजों के समर्थन में उतरे उद्धव, कहा- जस्टिस लोया की मौत की जांच हो

उद्धव ठाकरे ने ज्यूडिसरी से जुड़े मसले उठाने के लिए जस्टिस जस्ती चेलमेश्वर, जस्टिस रंजन गोगोई, जस्टिस मदन लोकुर और जस्टिस कुरियन जोसेफ ठाकरे की प्रशंसा की, लेकिन साथ ही इस पूरे घटनाक्रम को बेहद चौंकाने वाला बताया है.

News18Hindi
Updated: January 13, 2018, 4:04 PM IST
जजों के समर्थन में उतरे उद्धव, कहा- जस्टिस लोया की मौत की जांच हो
शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे
News18Hindi
Updated: January 13, 2018, 4:04 PM IST
शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने प्रधान न्यायाधीश दीपक मिश्रा के खिलाफ मोर्चा खोलने वाले सुप्रीम कोर्ट के चार जजों का समर्थन किया है. उद्धव ठाकरे ने ज्यूडिसरी से जुड़े मसले उठाने के लिए जस्टिस जस्ती चेलमेश्वर, जस्टिस रंजन गोगोई, जस्टिस मदन लोकुर और जस्टिस कुरियन जोसेफ ठाकरे की प्रशंसा की, लेकिन साथ ही इस पूरे घटनाक्रम को बेहद चौंकाने वाला बताया है.

उद्धव ठाके ने कहा, 'कल जो हुआ, वह बहुत परेशान करने वाला है. सुप्रीम कोर्ट के उन चार जजों के खिलाफ कार्रवाई शुरू की जा सकती है, लेकिन यहां यह समझना जरूरी है कि उन्होंने यह कदम क्यों उठाया. लोकतंत्र के चारों खंभों को स्वतंत्र खड़ा रहना है, अगर वे एक दूसरे पर गिरे, तो यह (लोकतंत्र) ढह जाएगा.'



उद्धव ठाकरे ने इसके साथ ही शोहराबुद्दीन एनकाउंटर केस की सुनवाई कर रहे तत्कालीन सीबीआई जज जस्टिस लोया की मौत के मामले में जांच होनी चाहिए. ठाकरे ने कहा कि अगर कुछ गलत नहीं है तो किसी को भी जांच-पड़ताल से क्या दिक्कत हो सकती है.

गौरतलब है कि इससे पहले कांग्रेस ने भी जस्टिस लोया की मौत की शीर्ष स्तरीय जांच कराने की मांग की है. जजों की प्रेस कॉन्फ्रेंस को लेकर मीडिया को संबोधित करने आए कांग्रेस राहुल गांधी ने शुक्रवार शाम कहा था, 'सुप्रीम कोर्ट के जजों ने जो सवाल उठाए हैं, वो बेहद जरूरी हैं. इनको ध्यान से देखा जाना चाहिए और इसको सुलझाया जाना चाहिए. जजों ने जस्टिस लोया की मौत का मामला उठाया है, जिसकी शीर्ष स्तरीय जांच होनी चाहिए. जो हमारा लीगल सिस्टम है, उस पर हम सब और पूरा हिंदुस्तान भरोसा करता है.'
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर