उत्तर भारत में UK वेरियंट के मामले ज्यादा, महाराष्ट्र, गुजरात, कर्नाटक में डबल म्यूटेंट के केस: NCDC प्रमुख

सिंह ने कहा कि दिसंबर से दस शीर्ष सरकारी प्रयोगशालाएं और संस्थाएं कोरोनोवायरस के जीनोम की सीक्वेंसिंग कर रही हैं. (सांकेतिक तस्वीर)

सिंह ने कहा कि दिसंबर से दस शीर्ष सरकारी प्रयोगशालाएं और संस्थाएं कोरोनोवायरस के जीनोम की सीक्वेंसिंग कर रही हैं. (सांकेतिक तस्वीर)

Coronavirus Cases in India: डबल म्यूटेंट वेरियंट जिसे कि B.1.617 के तौर पर भी जाना जाता है, के अधिकतर मामले महाराष्ट्र (761) पश्चिम बंगाल (124), दिल्ली (107) और गुजरात में (102) हैं.

  • Share this:

नई दिल्ली. देश भर में कोरोना वायरस के मामले (Coronavirus Cases in India) तेजी से बढ़ते जा रहे हैं. अब ये बात सामने आई है जिसके मुताबिक वर्तमान में कोरोनावायरस के यूके स्ट्रेन के मामले उत्तर भारत में सामने आ रहे हैं, जबकि डबल म्यूटेंट वैरिएंट के मामले ज्यादातर महाराष्ट्र, कर्नाटक और गुजरात में पाए जा रहे हैं. नेशनल सेंटर फॉर डिसीज कंट्रोल (एनसीडीसी) के निदेशक सुजीत सिंह ने बुधवार को यह जानकारी दी. हालांकि, उन्होंने कहा कि SARS CoV-2 (यूके वेरिएंट) का B1.1.7 वंशावली पिछले डेढ़ महीने में देश भर में घट रहा है.

संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए, उन्होंने कहा कि B.1.1.7 (ब्रिटेन म्यूटेंट) के पंजाब में 482 नमूने, दिल्ली में 516 केस सहित उत्तर भारत के कुछ हिस्सों में फैल रहा है, इसके बाद तेलंगाना में 192, महाराष्ट्र में 83 केस और कर्नाटक में 82 केस हैं. सिंह ने कहा कि दिसंबर से दस शीर्ष सरकारी प्रयोगशालाएं और संस्थाएं कोरोनोवायरस के जीनोम की सीक्वेंसिंग कर रही हैं. अब तक 18,053 नमूनों की जांच की जा चुकी है.

Youtube Video

ये भी पढ़ें- ओरिजिनल वायरस जैसा ही संक्रमण पैदा कर रहा नया वैरिएंट, वैक्सीन कारगर: केंद्र
राज्यों को दिए जा रहे निर्देश

उन्होंने कहा कि जीनोम सीक्वेंसिंग पर जानकारी फरवरी में दो बार, मार्च और अप्रैल में चार बार साझा की गई है. सिंह ने राज्यों के साथ वीडियो-कॉन्फ्रेंसिंग में कहा, स्वास्थ्य मंत्रालय ने वेरियंट्स और नए म्यूटेंट की वर्तमान स्थिति के बारे में जानकारी दी और और इसने सार्वजनिक स्वास्थ्य हस्तक्षेपों को बढ़ाने पर जोर दिया.

डबल म्यूटेंट वेरियंट जिसे कि B.1.617 के तौर पर भी जाना जाता है, के अधिकतर मामले महाराष्ट्र (761) पश्चिम बंगाल (124), दिल्ली (107) और गुजरात में (102) हैं. दक्षिण अफ्रीकी वेरियंट, B.1.315 मुख्य रूप से तेलंगाना और दिल्ली में पाया गया है. इसका ब्राजीलियन वेरियंट (P1) सिर्फ महाराष्ट्र में एक नगण्य अनुपात में पाया गया था. सिंह ने कहा कि सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में स्वास्थ्य मंत्रालय और एनसीडीसी द्वारा वेरिएंट पर लगातार लिखित तौर पर चर्चा हो रही है.



ये भी पढ़ें- कोरोना संक्रमित NSG जवान को नहीं मिल सका ICU बेड, रास्ते में तोड़ दिया दम

10 राज्यों से आए 71 प्रतिशत केस

देश में पिछले 24 घंटे के दौरान सामने आए कोरोना वायरस संक्रमण के 3,82,315 नए मामलों में से 71 प्रतिशत मामले महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश और दिल्ली समेत 10 राज्यों से आए हैं. मंत्रालय की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक इन नए मामलों के सामने आने के बाद देश में कोरोना से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 2,06,65,148 हो गयी है.

नए मामलों में 70.91 प्रतिशत मामले महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, दिल्ली, कर्नाटक, केरल, हरियाणा, पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश और राजस्थान से सामने आए हैं.


इस दौरान महाराष्ट्र से सर्वाधिक 51,880 नए मामले सामने आए जबकि कर्नाटक में 44,631 और केरल में कोरोना वायरस संक्रमण के 37,190 नए मामलों की पुष्टि हुई है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज