संयुक्त राष्ट्र ने कहा- कोरोना की वैक्सीन के लिए 15 अरब डॉलर की जरूरत

संयुक्त राष्ट्र ने कहा- कोरोना की वैक्सीन के लिए 15 अरब डॉलर की जरूरत
संयुक्त राष्ट्र सेक्रेटरी जनरल ने कहा है कि हमें कोरोना वैक्सीन प्रोग्राम तेज करने की जरूरत है. (कॉन्सेप्ट इमेज)

UN के सेक्रेटरी जनरल एंटेनियो गुटेरस (UN Secretary-General Antonio Guterres) ने देशों से एक्ट-एक्सेलेरेटर प्रोग्राम (ACT-Accelerator programme) के तहत कोविड वैक्सीन निर्माण के लिए फंड की गुहार लगाई है. उन्होंने कहा, या तो हम साथ में खड़े होंगे या खत्म हो जाएंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 11, 2020, 5:50 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. संयुक्त राष्ट्र (United Nations-UN) ने कोरोना वैक्सीन (Covid-19 Vaccine) के लिए अगले तीन महीने के भीतर 15 बिलियन डॉलर के फंड की जरूरत बताई है. UN के सेक्रेटरी जनरल एंटेनियो गुटेरस (UN Secretary-General Antonio Guterres) ने देशों से एक्ट-एक्सेलेरेटर प्रोग्राम (ACT-Accelerator programme) के तहत कोविड वैक्सीन निर्माण के लिए फंड की गुहार लगाई है. उन्होंने कहा, या तो हम साथ में खड़े होंगे या खत्म हो जाएंगे. गुटेरस ने एक्ट एक्सेलेरेटर की एक वर्चुअल बैठक में कोविड-19 वायरस को विश्व के लिए सबसे बड़ा खतरा बताया है.

3 अरब डॉलर जुटाए जा चुके
गुटेरस ने कहा, चार महीने पहले वैक्सीन निर्माण के प्रोजेक्ट के शुरुआती फेज के लॉन्च से लेकर अब तक 3 अरब डॉलर जुटाए जा चुके हैं. लेकिन स्टार्टअप से इसे अब स्केलअप करने के लिए 35 अरब डॉलर राशि की और जरूरत है. लिहाजा अगले तीन महीने में 15 अरब डॉलर की सख्त जरूरत है. उन्होंने जोर देकर कहा है कि इस फंड के बिना हम अवसर गंवा देंगे. उन्होंने कहा कि सामान्य मदद से ये काम पूरा नहीं हो पाएगा.

9 वैक्सीन कैंडिडेट का चल रहा तीसरे फेज का ट्रायल
गौरतलब है कि विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा मुहैया कराई गई जानकारी के मुताबिक अब तक 35 वैक्सीन कैंडिडेट का ह्यूमन ट्रायल किया जा रहा है. इनमें से 9 तीसरे फेज के ट्रायल तक पहुंच गए हैं. इन वैक्सीन के ट्रायल इस वक्त दुनिया में हजारों लोगों पर किए जा रहे हैं. इसके अलावा 145 वैक्सीन कैंडिडेट अभी अपने शुरुआती टेस्टिंग फेज में चल रहे हैं.



2 करोड़ 82 लाख से ज्यादा मामले 
गौरतलब है कि पूरी दुनिया में अब तक कोविड-19 महामारी के 2 करोड़ 82 लाख से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं. दुनियाभर में नौ लाख से ज्यादा लोग अपनी जान गंवा चुके हैं. भारत अब महामारी का वैश्विक केंद्र बन चुका है. देश में 44 लाख से ज्यादा कोरोना केस सामने आए हैं जिनमें 34 लाख से ज्यादा रिकवर भी हो चुके हैं. 75 हजार से ज्यादा लोगों ने जान गंवाई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज