होम /न्यूज /राष्ट्र /

सरकार का ऐलान, बेरोजगार कर्मचारी निकाल सकते हैं 75 तक पीएफ

सरकार का ऐलान, बेरोजगार कर्मचारी निकाल सकते हैं 75 तक पीएफ

प्रतीकात्मक चित्र

प्रतीकात्मक चित्र

प्रश्नकाल के दौरान कहा गया कि ईपीएफ का वह सदस्य जो लगातार एक महीने से बेरोजगार है, अपने पीएफ खाते में जमा कुल राशि का 75 प्रतिशत हिस्सा निकाल सकता है.

    सरकार ने सोमवार को ऐलान कर बताया कि एक महीने से रोजगार पर नहीं चल रहा कोई कर्मचारी, भविष्य निधि (पीएफ) के अपने खाते से 75 प्रतिशत राशि निकाल सकता है.

    श्रम मंत्री संतोष गंगवार ने लोकसभा में कहा कि कर्मचारी भविष्य निधि (ईपीएफ) के केंद्रीय न्यासी मंडल (सीबीटी) ने 26 जून को अपनी 222वीं बैठक में ईपीएफ योजना 1952 में पैराग्राफ 68एचएच को शामिल करने के प्रस्ताव पर विचार किया था. उन्होंने प्रश्नकाल में कहा कि इससे ईपीएफ का वह सदस्य जो लगातार एक महीने से बेरोजगार है, अपने पीएफ खाते में जमा कुल राशि का 75 प्रतिशत हिस्सा निकाल सकेगा.

    ये भी पढ़ें : ये है PF से करोड़पति बनने का फार्मूला!

    मंत्री ने कहा कि ईपीएफ योजना, 1952 के तहत कोई सदस्य उसके द्वारा आवेदन करने की तारीख के तत्काल पूर्व दो माह की निरंतर अवधि में किसी प्रतिष्ठान का कर्मचारी नहीं रहने पर निधि में उसके नाम से जमा पूरी राशि निकालने के लिए समर्थ होता है.

    हालांकि दो महीने की प्रतीक्षा अवधि विवाह के लिए प्रतिष्ठान की सेवाओं से त्यागपत्र देने वाली महिला सदस्यों के मामले में लागू नहीं होगी.

    Tags: EPFO account, Government of India

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर