लाइव टीवी

Budget 2020: निर्मला सीतारमण ने पढ़ा इतिहास का सबसे लंबा बजट भाषण

News18Hindi
Updated: February 1, 2020, 3:03 PM IST
Budget 2020: निर्मला सीतारमण ने पढ़ा इतिहास का सबसे लंबा बजट भाषण
निर्मला सीतारमण देश की पहली पूर्णकालिक महिला वित्तमंत्री हैं.

आम बजट 2020 (Union Budget 2020) पेश करते हुए वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने एक नया रिकॉर्ड बना दिया. उन्होंने बजट इतिहास की अब तक की सबसे लंबी स्पीच पढ़ी. इससे पहले भी सबसे लंबा बजट भाषण पढ़ने का रिकॉर्ड उनके नाम था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 1, 2020, 3:03 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने शनिवार को आम बजट 2020 पेश करते हुए एक नया रिकॉर्ड बना दिया. उन्होंने बजट इतिहास की अब तक की सबसे लंबी स्पीच पढ़ी. इससे पहले भी सबसे लंबा बजट भाषण पढ़ने का रिकॉर्ड उनके नाम था, हालांकि तब उन्होंने सबसे लंबे बजट भाषण से सिर्फ 3 मिनट ज्यादा लंबा भाषण दिया था. लेकिन 2020-21 का बजट पेश करते हुए उन्होंने सबसे लंबा भाषण दिया. सीतारमण की बजट स्पीच 2 घंटे 41 मिनट तक चली. पिछला बजट भाषण उन्होंने 2 घंटे 15 मिनट का दिया था.

निर्मला सीतारमण से पहले बजट इतिहास में सबसे लंबा भाषण देने का रिकॉर्ड एनडीए सरकार में वित्त मंत्री रहे जसवंत सिंह के नाम था. उन्होंने 2003 में दो घंटे 13 मिनट का भाषण दिया था. अब सबसे लंबा बजट भाषण देने में चौथे, पांचवें और छठे नंबर पर पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली का नाम है. उन्होंने ये बजट भाषण 2014, 2017 और 2016 में दिए थे.



और लंबा हो सकता था निर्मला सीतारमण का भाषण



निर्मला सीतारमण का ये बजट भाषण और लंबा हो सकता था, लेकिन बजट पेश करते हुए उनकी तबीयत खराब हो जाने के कारण उन्हें अपना बजट भाषण अंत में छोड़ना पड़ा. मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में जब अरुण जेटली बजट पेश कर रहे थे, उस समय उनकी भी तबीयत खराब होने के कारण उन्होंने आधा बजट बैठकर पढ़ा था.

शब्दों के लिहाज से सबसे लंबे बजट भाषण का रिकॉर्ड मनमोहन के नाम
शब्द सीमा की बात की जाए तो सबसे ज्यादा शब्दों वाले बजट भाषण का रिकॉर्ड पूर्व वित्तमंत्री मनमोहन सिंह के नाम है. 1991 में ऐतिहासिक बजट पेश करते हुए मनमोहन सिंह के बजट भाषण में 18,650 शब्द थे. इसके बाद दूसरा नंबर अरुण जेटली का है. उन्होंने 2018 में जो बजट पेश किया था, उसमें 18604 शब्द थे.

1977 में सिर्फ 800 शब्दों का बजट पेश किया
बजट इतिहास में सबसे कम शब्दों का बजट पेश करने का रिकॉर्ड एचएम पटेल के नाम है. उन्होंने 1977 में सिर्फ 800 शब्दों का बजट पेश किया था.

यह भी पढ़ें :-

सरकार ने Income Tax बचाने के दिए दो विकल्‍प, आप खुद करें चुनाव

BUDGET 2020: 5 लाख तक की आय पर कोई टैक्स नहीं, जानें आप पर कितना लगेगा आयकर

बजट 2020: मोबाइल फोन और इलेक्ट्रॉनिक सामान को भारत में बनाने पर जोर देगी सरकार

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 1, 2020, 2:24 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर