Home /News /nation /

मोदी मंत्रिमंडल विस्तार: जानिए कौन हैं आरसीपी सिंह, जिन्हें मिली मोदी कैबिनेट में जगह, ऐसा रहा है करियर

मोदी मंत्रिमंडल विस्तार: जानिए कौन हैं आरसीपी सिंह, जिन्हें मिली मोदी कैबिनेट में जगह, ऐसा रहा है करियर

JDU के राष्ट्रीय अध्यक्ष आरसीपी सिंह का मोदी कैबिनेट में शामिल (File Photo)

JDU के राष्ट्रीय अध्यक्ष आरसीपी सिंह का मोदी कैबिनेट में शामिल (File Photo)

Modi Cabinet Expansion: नीतीश कुमार के बेहद करीबी माने जा रहे सिंह को जेडीयू में नंबर दो का दर्जा हासिल है. बिहार चुनाव के बाद आरसीपी सिंह को पार्टी का अध्यक्ष बनाया गया था. इससे पहले वह जेडीयू के राष्ट्रीय महासचिव थे.

    नई दिल्ली. जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) के राज्यसभा सांसद रामचंद्र प्रसाद सिंह यानी कि आरसीपी सिंह (JDU MP RCP Singh) को केंद्रीय कैबिनेट में जगह मिली है. हालांकि ऐसा कहा जा रहा था कि मुंगेर से जेडीयू सांसद राजीव रंजन उर्फ ललन सिंह को भी कैबिनेट में जगह दी जाएगी लेकिन जेडीयू कैंप से मंत्रिमंडल में सिर्फ आरसीपी सिंह को ही कैबिनेट में शामिल किया गया है. जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष आरसीपी सिंह, नीतीश कुमार के गृह नगर नालंदा के ही रहने वाले हैं. नीतीश कुमार के बेहद करीबी माने जा रहे सिंह को जेडीयू में नंबर दो का दर्जा हासिल है. बिहार चुनाव के बाद आरसीपी सिंह को पार्टी का अध्यक्ष बनाया गया था इससे पहले वह जेडीयू के राष्ट्रीय महासचिव थे.

    आरसीपी सिंह राजनीति में आने से पहले उत्तर प्रदेश कैडर के पूर्व आईएएस अधिकारी रह चुके हैं. 1996 में अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में नीतीश कुमार के मंत्री बनने के समय आरसीपी सिंह केंद्रीय मंत्री बेनी प्रसाद वर्मा के निजी सचिव थे. नीतीश कुमार को रेल मंत्री का पद मिलने के बाद आरसीपी सिंह उनके विशेष सचिव रहे. 2005 में नीतीश कुमार के बिहार में जीत दर्ज करने के बाद उन्होंने आरसीपी सिंह को दिल्ली से बिहार बुला लिया. 2005 से 2010 के बीच आरसीपी सिंह ने नीतीश कुमार के प्रधान सचिव के तौर पर भी काम किया.



    ऐसा रहा है राजनीतिक करियर
    जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय से पढ़ाई करने वाले आरसीपी सिंह ने 2010 में भारतीय प्रशासनिक सेवा से समय से पहले रिटायरमेंट ले लिया था. इसके बाद उन्हें राज्यसभा भेज दिया गया. 2015 में नीतीश कुमार और लालू प्रसाद के महागठबंधन के समय आरसीपी सिंह पार्टी में हाशिए पर पहुंच गए थे. हालांकि 2016 में नीतीश कुमार ने सिंह पर भरोसा जताते हुए उन्हें एक बार फिर से राज्यसभा भेजा.

    आरसीपी सिंह भाजपा की पसंद बताए जाते हैं. बता दें 2019 में मोदी सरकार की वापसी के बाद सहयोगी जेडीयू को एक केंद्रीय मंत्री का ऑफर दिया गया था. बीजेपी तब आरसीपी सिंह को मंत्री पद देना चाहती थी लेकिन नीतीश कुमार अपने एक और करीबी ललन सिंह को मंत्री बनाना चाहते थे. उस समय इस टकराव के चलते नीतीश कुमार ने किसी भी नेता को मंत्रिमंडल में शामिल न करने का फैसला किया था.

    Tags: Cabinet expansion, Cabinet reshuffle, CM Nitish Kumar, Jdu, Modi cabinet expansion, Modi cabinet reshuffle, RCP Singh

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर