अपना शहर चुनें

States

कोरोना टीकाकरणः हर्षवर्धन बोले-कुछ हैं जो अफवाह फैला रहे, लोग बिना झिझक लगवाएं टीका

वैक्सीन को मिल रही प्रतिक्रिया पर हर्षवर्धन ने कहा,
वैक्सीन को मिल रही प्रतिक्रिया पर हर्षवर्धन ने कहा, "मुझे नहीं लगता कि वैक्सीन को लेकर किसी को नाराजगी है.'

केंद्रीय मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन (Dr Harsh Vardhan) ने कहा कि बिना किसी झिझक और डर के लोग वैक्सीन (Coronavirus Vaccine) का टीका लगवाएं. ये कोरोना वायरस के अंत की शुरुआत है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 16, 2021, 11:16 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Coronavirus) के खिलाफ 16 जनवरी से देशव्यापी टीकाकरण अभियान (Vaccination Programme) की शुरुआत हो गई. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन ने CNNNews18 के साथ एक्सक्लूसिव बातचीत में कहा कि वैक्सीन को मंजूरी देने के लिए बेहतरीन संभावित वैज्ञानिक प्रणाली का उपयोग किया गया. लोगों से अपील है कि किसी भी तरह की भ्रामक जानकारियों के झांसे में ना आएं और अपनी बारी आने पर बिना किसी डर और झिझक के वैक्सीन का टीका लगवाएं. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि हमारा फोकस अपने नागरिकों पर है. टीकाकरण के क्षेत्र में देश के पास व्यापक अनुभव है. हमने बड़े पैमाने पर टीकाकरण अभियान चलाया है. हर साल हम 60 करोड़ बच्चों को वैक्सीन देते हैं, जिनका उद्देश्य पोलिया और चेचक जैसी बीमारियों से छुटकारा पाना होता है. उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस टीकाकरण कार्यक्रम के लिए हमने पर्याप्त तैयारी की है.

वैक्सीन को मिल रही प्रतिक्रिया पर हर्षवर्धन ने कहा, "मुझे नहीं लगता कि वैक्सीन को लेकर किसी को नाराजगी है. अनावश्यक चीजों को सार्वजनिक पटल रखे जाने से लोगों में भ्रम फैलेगा. विपक्ष को चाहिए कि वह काम पर ध्यान लगाए और हम लोगों की मदद करे." उन्होंने कहा कि एक बहस शुरू की गई है कि स्वास्थ्य मंत्री या चुने गए जनप्रतिनिधियों ने वैक्सीन का टीका क्यों नहीं लगवाया? मुझसे पूछा गया कि मैंने टीका क्यों नहीं लगवाया. मैंने जवाब दिया कि मैं अपनी बारी की प्रतीक्षा करूंगा और ये तब लगेगा, जब 50 साल से ऊपर के लोगों को वैक्सीन का टीका लगाया जाएगा.

उधर, ANI से बातचीत में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने कहा, "अगर जनप्रतिनिधि पहले वैक्सीन का टीका लगवाते हैं, तो लोग कहते हैं कि नेताओं ने खुद ही पहले लगवा लिया. लिहाजा हम इस तरह की बहस में पड़ना ही नहीं चाहते हैं." केंद्रीय मंत्री ने कहा, "वैक्सीन, उसके प्रभाव और सुरक्षा को लेकर कुछ लोगों का एक धड़ा अफवाह फैला रहा है, जिससे समाज में लोगों के बीच भ्रांतियां फैल रही है. लेकिन, बड़े पैमाने पर लोगों ने बड़ी खुशी और जोशो जुनून से 16 जनवरी को वैक्सीन का टीका लगवाया है. देश के बड़े डॉक्टरों ने वैक्सीन का टीका लगवाया है."



राज्यों और केंद्रशासित प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बात करते हुए हर्षवर्धन ने कहा कि पिछले एक में आज का दिन सबसे राहत भरा रहा है. हर्षवर्धन ने कहा कि पिछले एक साल में कोरोना वायरस के खिलाफ भारत को बड़ी कामयाबी मिली है. पिछले 3 से 4 महीने के डाटा के मुताबिक संक्रमण से रिकवरी, मृत्यु दर से संकेत मिलता है कि देश जीत की ओर बढ़ रहा है.
केंद्रीय मंत्री ने कहा कि वैक्सीन हमारे लिए संजीवनी बनकर आई. ये कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई की शुरुआत है, जो धीरे-धीरे जीत की ओर बढ़ेगी.

उन्होंने कहा कि टीकाकरण कार्यक्रम की शुरुआत के साथ ही कोरोना वायरस के अंत की शुरूआत हो गई है."
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज