अपना शहर चुनें

States

दिल्ली में अब मुफ्त में होगी कोरोना की जांच, गृह मंत्री अमित शाह ने किया टेस्ट लैब का उद्घाटन

शाह ने दिल्ली में सचल आरटी-पीसीआर जांच प्रयोगशाला का उद्घाटन किया (Photo- ANI)
शाह ने दिल्ली में सचल आरटी-पीसीआर जांच प्रयोगशाला का उद्घाटन किया (Photo- ANI)

Delhi Coronavirus Test: गृह मंत्रालय ने बताया कि इस टेस्ट की कीमत 499 है जिसका खर्च आईसीएमआर उठाएगा. दिल्ली के लोगों को जांच के लिए कोई भी शुल्क नहीं देना होगा.

  • भाषा
  • Last Updated: November 23, 2020, 11:03 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Home Minister Amit Shah) ने सोमवार को राजधानी दिल्‍ली में सचल आरटी-पीसीआर जांच प्रयोगशाला (RT-PCR Testing Lab) का उद्घाटन किया, जिसके जरिए सिर्फ 499 रुपये में कोविड-19 की जांच (Covid-19 Testing) कराई जा सकेगी और छह घंटे में परिणाम प्राप्त किए जा सकेंगे. सचल आरटी-पीसीआर जांच प्रयोगशाला की शुरुआत सरकार और ‘स्पाइस हेल्थ’ के संयुक्त प्रयास से की गई है. ज्ञात हो कि दिल्ली में कोविड-19 के मामलों (Covid-19 Cases) की अचानक हुई वृद्धि के बाद केंद्र सरकार (Central Government) को हस्तक्षेप करना पड़ा था. गृह मंत्रालय ने बताया कि इस टेस्ट की कीमत 499 है जिसका खर्च आईसीएमआर उठाएगा. दिल्ली के लोगों को जांच के लिए कोई भी शुल्क नहीं देना होगा.

स्पाइस हेल्थ विमानन कंपनी स्पाइस जेट (Spice Jet) का हिस्सा है. एक बयान में स्पाइस हेल्थ ने कहा कि इस सचल प्रयोगशाला के जरिए एक दिन में 3000 लोगों की जांच की जा सकेगी. बयान में कहा गया कि स्पाइस हेल्थ ने इस सिलसिले में भारतीय चिकित्सा शोध संस्थान (Indian Council of Medical Research) के साथ एक समझौता ज्ञापन किया है. एक अधिकारी ने बताया कि प्रयोगशाला का उद्घाटन शाह ने किया और 499 रुपये में लोग कोविड-19 की जांच करा सकेंगे और सिर्फ छह घंटे में परिणाम हासिल कर सकेंगे.


ये भी पढ़ें- दिल्ली समेत इन 4 राज्यों से महाराष्ट्र जा रहे लोगों को कोरोना टेस्ट रिपोर्ट के बिना नहीं मिलेगी एंट्री



सबसे सटीक जांच मानी जाती है RT-PCR जांच
ज्ञात हो कि आरटी-पीसीआर जांच को विश्व भर में कोविड-19 की सबसे सटीक जांच माना जाता है. अन्य प्रयोगशालाओं में सरकार द्वारा नियुक्त एक समिति ने इसकी जांच की कीमत 2400 रुपये तय की है. सामान्यत: 24 से 48 घंटों में इसकी रिपोर्ट आती है.

स्पाइस हेल्थ ने बताया कि पहले चरण के तहत वह राजधानी के विभिन्न हिस्सों में ऐसी 20 प्रयोगशालाओं को तैनात किया जाएगा.

ये भी पढ़ें- उत्तराखंड की राज्यपाल बेबी रानी मौर्य की Covid टेस्ट पॉजिटिव, AIIMS में एडमिट

दिल्ली में संक्रमण के मामले बढ़ने के बीच 15 नवंबर को शाह की अध्यक्षता में उच्चस्तरीय बैठक में 12 दिशा-निर्देश जारी किए गए थे.

दिल्ली में 28 अक्टूबर के बाद से कोरोना वायरस के मामलों में बढ़ोतरी देखी गई है और संक्रमण के रोजाना सामने आने वाले नए मामलों की संख्या 28 अक्टूबर को पहली बार 5,000 के पार पहुंच गई थी. यह संख्या 11 नवंबर को 8,000 के पार पहुंच गई.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज