अपना शहर चुनें

States

असम रैली में बोले अमित शाह, सेमीफाइनल की तरह जीतना है फाइनल मैच

गृह मंत्री अमित शाह असम ने कोकराझार में एक सभा को संबोधित कर रहे हैं.
गृह मंत्री अमित शाह असम ने कोकराझार में एक सभा को संबोधित कर रहे हैं.

गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने असम (Assam) के कोकराझार (Kokrajhar) में एक सभा को संबोधित करते हुए कहा, बोडो शांति समझौते के बाद पीएम मोदी ने निर्देश दिया कि पूरे उत्तर-पूर्व में जहां-जहां अशांति है, वहां बातचीत की जाए और शांति बहाल की जाए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 24, 2021, 2:30 PM IST
  • Share this:
गुवाहाटी. असम (Assam) के कोकराझार (Kokrajhar) में आयोजित रैली में गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने एक बार फिर कांग्रेस पर हमला बोला. उन्होंने कहा कि जो कांग्रेस पार्टी अपने काल में शांति और विकास नहीं ला सकी वो आज हमें सलाह दे रही है. मैं कांग्रेस पार्टी से पूछना चाहता हूं कि इतने सालों तक असम रक्त रंजित रहा, तो आपने क्या किया? जो भी किया वो नरेंद्र मोदी की बीजेपी सरकार ने किया.

गृह मंत्री अमित शाह ने असम ने कोकराझार में एक सभा को संबोधित करते हुए कहा, बोडो शांति समझौते के बाद पीएम मोदी ने निर्देश दिया कि पूरे उत्तर-पूर्व में जहां-जहां अशांति है, वहां बातचीत की जाए और शांति बहाल की जाए. असम की जनता को पहचानना होगा कि कौन लोग सिर्फ राजनीति करते आए हैं. गृहमंत्री ने कहा, आने वाले समय में बोडो असम का सबसे विकसित क्षेत्र होगा.

अमित शाह ने कहा कि सेमीफाइनल की तरह ही फाइनल मैच भी जीतना है. उन्होंने कहा इस बार होने वाले विधानसभा चुनाव में बीजेपी को पूर्ण बहुमत देकर बोडो लैंड का विकास सुनिश्चित करना जनता की जिम्मेदार है. बीटीआर एकॉर्ड की पहली वर्षगांठ पर अमित शाह ने कहा कि इस संधि के सभी नियमों का सही तरीके से पालन किया जाएगा. उन्होंने बीजेपी की सरकार असम की भाषा और संस्कृति की रक्षा करने के लिए वचनबद्ध है.
इसे भी पढ़ें : असम चुनाव: कांग्रेस की तैयारियों में मदरसों का मुद्दा बना रोड़ा, जानें क्या है मामला



अपने संबोधन में अमित शाह ने कहा, आज से ठीक एक साल पहले देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में बोडो शांति समझौता किया गया था. बोडो शांति समझौते के साथ प्रधानमंत्री जी ने संदेश दिया कि उत्तर पूर्व में जहां-जहां अशांति है, वहां बातचीत कीजिए और शांति का मार्ग प्रशस्त कीजिए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज