अपना शहर चुनें

States

कोरोना वैक्सीन की तैयारियां शुरू, केंद्र ने राज्‍यों को पत्र लिखकर दिए ये निर्देश

देश में जल्द ही कोविड टीकाकरण शुरू होने वाला है. (सांकेतिक तस्वीर-AP)
देश में जल्द ही कोविड टीकाकरण शुरू होने वाला है. (सांकेतिक तस्वीर-AP)

Coronavirus Vaccine: मुख्य सचिव ने अपने पत्र में आगे लिखा है कि नए साल के जश्न और अभी जारी सर्दी के मौसम के चलते नए मामलों में बढ़ोतरी न हो इसे लेकर खासतौर पर निगरानी रखने की जरूरत है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 28, 2020, 10:49 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. केंद्रीय गृह सचिव (Union Home Secretary) ने राज्य के मुख्य सचिवों को कोविड-19 टीकाकरण (Covid-19 Vaccination) को लेकर पत्र लिखा है. इस पत्र में उन्होंने लिखा कि राज्य/केंद्र शासित प्रदेश प्रशासन को संबंधित अधिकारियों को पहचान करने और इस संबंध में डेटाबेस तैयार करने, टीका वितरण, भंडारण, सुरक्षा, शिपमेंट और लाभार्थियों के टीकाकरण की तैयारी में स्वास्थ्य मंत्रालय को समर्थन के निर्देश दें. गृह सचिव ने अपने पत्र में लिखा है कि देश में पिछले 2-3 महीने में एक्टिव मामले कम हुए हैं. इसके साथ ही स्थिति काफी आशावादी लग रही है. जो भी हो दुनिया में तेजी से बढ़ रहे नए मामले और ब्रिटेन में फैल रहे नए वायरस के प्रकार के चलते अधिक सावधानी और सतर्कता बरतने की जरूरत है.

मुख्य गृह सचिव ने अपने पत्र में आगे लिखा है कि नए साल के जश्न और अभी जारी सर्दी के मौसम के चलते नए मामलों में बढ़ोतरी न हो इसे लेकर खासतौर पर निगरानी रखने की जरूरत है, यह दोनों ही परिस्थितियां वायरस के फैलने के लिए उपयोगी साबित हो सकती हैं. सचिव ने इस संबंध में राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को उचित कदम उठाने के निर्देश दिए हैं. पत्र में आगे लिखा गया है कि भारत सरकार ने कोविड-19 वैक्सीन दिए जाने को लेकर तैयारियां शुरू कर दी हैं.

सबसे पहले इन लोगों का होगा टीकाकरण
वैक्सीन को लेकर बनाए गए समूह ने शुरुआती चरण में इस वैक्सीन को हेल्थकेयर वर्कर्स, फ्रंट लाइन वर्कर्स, 50 और उससे ज्यादा उम्र के लोग या फिर कई बीमारियों से पीड़ित 50 साल से कम उम्र के लोगों को ये वैक्सीन देने का सुझाव दिया है. पत्र में आगे कहा गया कि राज्य/केंद्र शासित प्रदेश प्रशासन को संबंधित अधिकारियों की पहचान करने और इस संबंध में डेटाबेस तैयार करने, टीका वितरण, भंडारण, सुरक्षा, शिपमेंट और लाभार्थियों के टीकाकरण की तैयारी में स्वास्थ्य मंत्रालय को सक्रिय समर्थन के लिए निर्देश दें.



पत्र में आगे लिखा गया है कि इस बात पर भी ध्यान दिलाया जा रहा है कि 18 दिसंबर 2020 को सुप्रीम कोर्ट ने स्वतः संज्ञान लेते हुए राज्य सरकारों को कोविड-19 उपयुक्त व्यवहार, मसलन कि मास्क पहनने, सोशल डिस्टेंसिंग करने करने के निर्देश दिए थे. इसके अलावा गाइडलाइन का पालन न करने वालों पर सख्त कार्रवाई करने, जरूरत पड़ने पर वीकेंड और रात में कर्फ्यू लगाने और कंटेनमेंट जोन में संपूर्ण लॉकडाउन लगाने के भी निर्देश दिए गए हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज