Home /News /nation /

union minister nitin gadkari saud government has to right the break laws for poor welfare lkm

गरीबों के कल्याण में कोई कानून बाधा बने तो तोड़ने में संकोच नहीं करना चाहिएः नितिन गडकरी

केंद्रीय मंत्री गडकरी ने कहा कि सरकार हमारे हिसाब से चलेगी अधिकारियों के हिसाब से नहीं. फोटो- ANI

केंद्रीय मंत्री गडकरी ने कहा कि सरकार हमारे हिसाब से चलेगी अधिकारियों के हिसाब से नहीं. फोटो- ANI

Nitin Gadkari News: गडकरी ने कहा कि सरकार के पास गरीब कल्याण की राह में बाधा बने कानून को तोड़ने का अधिकार है. केंद्रीय मंत्री ने कहा कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने भी ऐसा ही कहा है.

हाइलाइट्स

गरीब कल्याण की राह में कोई कानून बाधक नहीं बन सकताः गडकरी
केंद्रीय मंत्री ने कहा- अधिकारियों को हमारे हिसाब से काम करना होगा
गरीब कल्याण में बाधक कानून को 10 बार भी तोड़ना हो तो संकोच नहीं करना चाहिएः गडकरी

नई दिल्ली. केंद्रीय सड़क, परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नीतिन गडकरी अक्सर जनता के दिलों को छू लेने वाले बयान देते हैं. इस बार नागपुर में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान गडकरी ने कहा कि ‘कोई भी कानून गरीब कल्याण में बाधक नहीं बन सकता. यदि कोई भी कानून गरीब कल्याण की राह में बाधक बनता है तो सरकार को इसे तोड़ने या दरकिनार का पूरा अधिकार है. ऐसा राष्ट्रपिता महात्मा गांधी भी कहते थे.’ ANI के मुताबिक गडकरी ने कहा, ‘मैं जानता हूं कि गरीबों के कल्याण में कोई भी कानून आड़े नहीं आता, ऐसे कानून को 10 बार भी तोड़ना हो तो संकोच नहीं करना चाहिए क्योंकि महात्मा गांधी ने भी ऐसा ही कहा था.’

कार्यक्रम के दौरान गडकरी ने कहा, ‘मैं हमेशा अधिकारियों से कहता हूं कि आप जो कहेंगे, सरकार उसके अनुसार सरकार काम नहीं करेगी. आपको केवल हां सर कहना है. आपको, हम जो कह रहे हैं, उसपर अमल करना होगा, उसे क्रियान्वित करना होगा. सरकार हमारे हिसाब से काम करेगी. केंद्रीय मंत्री ने 1995 की एक घटना को याद करते हुए कहा, ‘जब महाराष्ट्र में मनोहर जोशी मुख्यमंत्री थे, तब मैं अक्सर अधिकारियों से कहा करता था कि आपके हिसाब से सरकार नहीं चलेगी, सरकार हमारे हिसाब से चलेगी और हम जो कहेंगे उसका पालन करना होगा.’

‘5 लाख सड़क हादसों में करीब 1.5 लाख लोगों की मौत’
इससे पहले इंदौर में एक कार्यक्रम के दौरान केंद्रीय मंत्री ने कहा था कि सरकार ने देश में सड़क हादसों की वजह से हर साल होने वाली करीब 1.5 लाख मौतों को 2024 तक घटाकर आधी करने का लक्ष्य तय किया है. उन्होंने कहा कि इस सिलसिले में करोड़ों रुपये खर्चकर ‘‘ब्लैक स्पॉट’’(वे स्थान जहां सबसे ज्यादा सड़क हादसे होते हैं) हटाने का काम जारी है. गैर सरकारी संगठन ‘जन आक्रोश’ के कार्यक्रम में गडकरी ने बताया कि देश में हर साल पांच लाख सड़क हादसों में करीब 1.5 लाख लोगों की मौत होती है, जबकि तीन लाख व्यक्ति गंभीर रूप से घायल हो जाते हैं.

Tags: Nitin gadkari

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर