गोल्ड स्मगलिंग मामला: वियजन का इस्तीफा मांग रहे केंद्रीय मंत्री ने दिन भर का रखा उपवास

गोल्ड स्मगलिंग मामला: वियजन का इस्तीफा मांग रहे केंद्रीय मंत्री ने दिन भर का रखा उपवास
केंद्रीय मंत्री वी मुरलीधरन की फाइल फोटो

मुरलीधरन (Muraleedharan) ने कहा, "मुख्यमंत्री ने देश विरोधी गतिविधियों में लिप्त लोगों को अपने कार्यालय (office) के उपयोग की अनुमति देकर देश के साथ विश्वासघात किया है. उन्हें इस्तीफा (resign) देना चाहिए.

  • Share this:
नई दिल्ली. केंद्रीय मंत्री वी मुरलीधरन (Union Minister V Muraleedharan) ने सोने की तस्करी मामले (Gold Smuggling Case) को लेकर केरल के मुख्यमंत्री पी विजयन (Kerala Chief Minister Pinarayi Vijayan) के इस्तीफे की मांग करते हुए रविवार को यहां अपने आवास पर एक दिन का उपवास रखा. उपवास (fast) हाल में चर्चा में आए तस्करी मामले को लेकर केरल सरकार के खिलाफ प्रदर्शनों को तेज करने के भाजपा के प्रयासों का एक हिस्सा था. विदेश और संसदीय मामलों के राज्य मंत्री (Minister of state for External Affairs and Parliamentary Affairs) ने आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री ने उन लोगों को अपने कार्यालय का उपयोग करने की अनुमति दी जो "राष्ट्रविरोधी गतिविधियों में लिप्त रहे और राष्ट्र के साथ विश्वासघात किया."

मुरलीधरन ने कहा, "मुख्यमंत्री ने देश विरोधी गतिविधियों में लिप्त लोगों को अपने कार्यालय (office) के उपयोग की अनुमति देकर देश के साथ विश्वासघात किया है. उन्हें इस्तीफा (resign) देना चाहिए. आरोपी लोगों के आतंकी संबंध होने संबंधी सीमा शुल्क विभाग की रिपोर्ट के बाद एनआईए (NIA) ने यह मामला अपने हाथ में ले लिया.’’ मामले में कुछ आरोपियों के साथ पूर्व आईटी सचिव एम शिवशंकर (former IT secretary M Sivashankar) के घनिष्ठ संबंध होने संबंधी रिपोर्टों के सामने आने के बाद केरल सरकार (Kerala Government) को आलोचना का सामना करना पड़ रहा है.

NIA ने 6 और लोगों को किया गिरफ्तार
इससे पहले रविवार को ही जानकारी दी गई कि केरल सोना तस्करी मामले (Kerala Gold Smuggling Case) में जांच जारी रखते हुए एनआईए (NIA) ने इस हफ्ते 6 जगहों पर खोजबीन की और 6 नई गिरफ्तारियां (new arrests) कीं. आज रविवार को एनआईए (NIA) ने एर्नाकुलम (Ernakulam) में आरोपी जलाल एएम और रबिन्स हमीद के आवासों और मलप्पुरम (Malappuram) में रमीज केटी, मोहम्मद शफी, सईद अलावी और अब्दू पीटी के ठिकानों की तलाशी ली.
यह भी पढ़ें: HSL क्रेन हादसे में मरने वालों के परिवार को मिलेगा 50-50 लाख रुपये का मुआवजा



तलाशी (searches) के दौरान आरोपियों के बैंक पासबुक (Bank Passbook), क्रेडिट / डेबिट कार्ड, यात्रा दस्तावेज और आईडी सहित विभिन्न दस्तावेजों के अलावा 2 हार्ड डिस्क, 1 टैबलेट पीसी, 8 मोबाइल फोन (Mobile Phone), 6 सिम कार्ड, 1 डिजिटल वीडियो रिकॉर्डर और 5 डीवीडी जब्त किए गए. मामले में अब तक एनआईए (NIA) ने 10 आरोपियों को गिरफ्तार किया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading