सिंगल यूज प्लास्टिक को लेकर केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने शुरू किया जागरूकता अभियान

प्रकाश जावड़ेकर की फाइल फोटो

प्रकाश जावड़ेकर की फाइल फोटो

प्रकाश जावडेकर ने कहा, 'प्लास्टिक के इस्तेमाल से स्थलीय और जलीय दोनों ही इकोसिस्टम को होने वाले नुकसान को रोकने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2018 में सिंगल यूज़ प्लास्टिक के इस्तेमाल को कम करने की दिशा में पहल की थी'.

  • Share this:

नई दिल्ली. केंद्रीय पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावडेकर ने सिंगल यूज़ प्लास्टिक के उपयोग को कम करने की दिशा में पैन इंडिया जागरूकता कार्यक्रम का शुभारंभ किया. इस कार्यक्रम की शुरुआत करते हुए प्रकाश जावडेकर ने कहा, 'प्लास्टिक के इस्तेमाल से स्थलीय और जलीय दोनों ही इकोसिस्टम को होने वाले नुकसान को रोकने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2018 में सिंगल यूज़ प्लास्टिक के इस्तेमाल को कम करने की दिशा में पहल की थी. इस पहल को और आगे बढ़ाने की जरूरत है.'

प्लास्टिक से उत्पन्न होने वाले कचरे के सही इस्तेमाल और सिंगल यूज़ प्लास्टिक का कम से कम उपयोग करने के लिए जागरूकता कार्यक्रम चलाया जाना आवश्यक है. प्रकाश जावड़ेकर का कहना है कि इससे ही लोगों में इस विषय को लेकर व्यवहारिक बदलाव आ पाएगा. इस दिशा में आज पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालय के निर्देशन में GIZ, UNEP एवं FICCI द्वारा एक 2 महीने लंबा अवेयरनेस का कार्यक्रम प्रारम्भ किया गया है, जिसके अंतर्गत प्लास्टिक वेस्ट मैनेजमेंट और सिंगल यूज़ प्लास्टिक के इस्तेमाल को कम करने पर ध्यान केंद्रित किया जाएगा.

कैलाश विजयवर्गीय ने भी किया ट्वीट

विश्व महासागर दिवस के मौके पर स्वच्छ समुद्र, प्लास्टिक मुक्त समुद्र के लिए बीजेपी के राष्ट्रीय महामंत्री कैलाश विजयवर्गीय ने भी ट्वीट किया. अपने ट्वीट में उन्होंने लिखा कि आज है 'विश्व महासागर दिवस' और एक रिसर्च के अनुसार 2050 तक समुद्र में प्लास्टिक का वज़न मछलियों के वज़न से ज़्यादा होगा, इसलिए प्लास्टिक को कीजिए 'ना' और स्वच्छता को कहिए 'हां.'

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज