लाइव टीवी

जम्मू-कश्मीर जाएंगे 36 केंद्रीय मंत्री, लोगों को बताएंगे आर्टिकल 370 हटाने के फायदे

भाषा
Updated: January 15, 2020, 7:53 PM IST
जम्मू-कश्मीर जाएंगे 36 केंद्रीय मंत्री, लोगों को बताएंगे आर्टिकल 370 हटाने के फायदे
जम्मू-कश्मीर से 5 अगस्त को अनुच्छेद 370 हटा दिया गया था.

मंत्रियों के जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) यात्रा कार्यक्रम को 17 जनवरी को केन्द्रीय मंत्रिपरिषद की एक बैठक में अंतिम रूप दिये जाने की संभावना है.

  • Share this:
नई दिल्ली. अनुच्छेद 370 (Article 370) के प्रावधानों को निरस्त किये जाने के करीब छह महीने बाद केंद्रीय मंत्रियों का एक समूह जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) का दौरा करेगा. ये मंत्री सकारात्मक प्रभावों और क्षेत्र के लिए सरकार के विकास कदमों के बारे में लोगों को अवगत कराने के वास्ते जम्मू कश्मीर के दौरे पर जायेंगे. सूत्रों ने बुधवार को यह जानकारी दी.

मंत्रियों के जम्मू कश्मीर यात्रा कार्यक्रम को 17 जनवरी को केन्द्रीय मंत्रिपरिषद की एक बैठक में अंतिम रूप दिये जाने की संभावना है. सूत्रों ने बताया कि यह यात्रा केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह (Home Minister Amit Shah) की एक पहल है और मंत्रालय इसमें समन्वय कर रहा है.



इन मंत्रियों में पीयूष गोयल (Piyush Goyal), रविशंकर प्रसाद, स्मृति ईरानी, अनुराग सिंह ठाकुर, वीके सिंह, हरदीप सिंह पुरी, आरके सिंह, गिरिराज सिंह, महेंद्र नाथ पांडेय, साध्वी निरंजन ज्योती समेत कई बड़े नेता शामिल हैं. ये नेता 19 जनवरी से 25 जनवरी के बीच केन्द्र शासित प्रदेश जम्मू कश्मीर की यात्रा कर सकते हैं.ये है इस पहल का मकसद
अनुच्छेद 370 हटाए जाने के 6 महीने पूरे होने के बाद जम्मू- कश्मीर में केंद्र सरकार के मंत्रियों का अलग-अलग जगह कार्यक्रम हैं. केंद्रीय मंत्री जम्मू में 51 जगह और श्रीनगर में 8 जगह आयोजित कार्यक्रमों में शरीक होंगे.

jammu kashmir
ये मंत्री जाएंगे जम्मू-कश्मीर


इस कार्यक्रम में केंद्र सरकार के अलग-अलग केंद्रीय मंत्री हिस्सा लेंगे. ये मंत्री वहां जनसभा में या फिर अलग-अलग कार्यक्रम में अनुच्छेद 370 हटाने के पीछे सरकार की मंशा का जिक्र करेंगे. उसके बाद जम्मू और कश्मीर को क्या फायदा हुआ है यह भी वहां की जनता को बताएंगे.

राजनयिकों ने जताई थी चिंता
सरकार ने यह कदम ऐसे समय उठाया है जबकि कश्मीर में जारी प्रतिबंधों, लंबे समय तक संचार सेवाओं पर रोक और राज्य के नेताओं की गिरफ्तारी को लेकर सवाल उठ रहे हैं. पिछले दिनों सरकार द्वारा आर्टिकल 370 के अधिकतर प्रावधान हटाए जाने के बाद पहली बार अमेरिका के राजदूत केनेथ जस्टर समेत 15 देशों के राजनयिकों ने पिछले सप्ताह जम्मू कश्मीर की यात्रा की थी. उन्होंने नेताओं को लगातार नजरबंद रखे जाने और इंटरनेट पर पाबंदी पर चिंता जाहिर की थी.

ये भी पढ़ें-
J&K पुलिस के डीजीपी बोले-दविंदर को बर्खास्त करने की सिफारिश,मेडल भी छीना जाएगा

हिज्बुल के आतंकियों के साथ पकड़े गए DSP दविंदर सिंह बर्खास्त

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 15, 2020, 7:18 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर