• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • क्या यूपी में बीजेपी अगला चुनाव सीएम योगी के नेतृत्व में ही लड़ेगी? सुधांशु त्रिवेदी ने कही बड़ी बात

क्या यूपी में बीजेपी अगला चुनाव सीएम योगी के नेतृत्व में ही लड़ेगी? सुधांशु त्रिवेदी ने कही बड़ी बात

प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी का कहना है कि उत्तर प्रदेश में विपक्षी पार्टियां बिखरी हुई हैं. (फाइल फोटो)

प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी का कहना है कि उत्तर प्रदेश में विपक्षी पार्टियां बिखरी हुई हैं. (फाइल फोटो)

सुधांशु त्रिवेदी (Sudhanshu Trivedi) ने कहा कि बिहार (Bihar) में एक व्यक्ति गरीब गुरबा होने की बात करते थे लेकिन उनका परिवार बिहार का सबसे समृद्ध परिवार है. सुधांशु त्रिवेदी का कहना है कि जातीय जनगणना के मुद्दे पर व्यवहारिक पक्ष और राजनीति अलग-अलग की जा रही है.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

नई दिल्ली: यूपी में अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं और बीजेपी अभी से अपनी रणनीति तैयार करने में जुट गई है. चुनावों की तैयारी और नेतृत्व को लेकर पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी (Sudhanshu Trivedi) ने News18 के साथ खुलकर बातचीत की और कई बड़ी बातें कहीं. बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) को धुआंधार बताया.

News18 के यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में चुनाव लड़ने और जीतने के सवाल का जवाब देते हुए बीजेपी सांसद और प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी का कहना है कि उत्तर प्रदेश में विपक्षी पार्टियां बिखरी हुई हैं और उनमें से कई अपने आप को दावेदार मुख्यमंत्री मानते हैं. इस दावेदारी के कारण विपक्षी पार्टियों में खींचातानी चल रही है. सुधांशु त्रिवेदी ने इसी बात पर चुटकी लेते हुए कहा कि विपक्ष में कई योगी हैं और इसके कारण मठ उखाड़ की स्थिति बनी हुई है और बीजेपी में एक सीएम योगी है जिसके कारण बीजेपी  की स्थिति धुआंधार बनी हुई है.

यह भी पढ़ें- मुस्लिमों को ‘भारतीय संस्कृति’ को नमन करना चाहिए, राम, कृष्ण, शिव उनके पूर्वज- मंत्री आनन्‍द स्‍वरूप शुक्‍ला

यह भी पढ़ें-  Exclusive: महंत नरेंद्र गिरि ने बनवाई थी तीन वसीयत, हर बार बदला था उत्तराधिकारी

जातीय जनगणना पर यह कहा
सुप्रीम कोर्ट में केंद्र सरकार द्वारा जातीय जनगणना में तकनीकी कारण से असमर्थता जाहिर करने पर सुधांशु त्रिवेदी का कहना है कि सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में अपना पक्ष रखा है. साथ ही साथ विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश में मुलायम सिंह यादव धरतीपुत्र होने का दावा करते थे लेकिन वास्तविकता में वे सिर्फ अपने पुत्र के हुए.

इसी के साथ ही साथ मायावती उत्तर प्रदेश की जनता का बहन होने का दावा करती थीं, लेकिन वह सिर्फ अपने सगे भाई की हुईं. सुधांशु त्रिवेदी ने कहा कि बिहार में एक व्यक्ति गरीब गुरबा होने की बात करते थे लेकिन उनका परिवार बिहार का सबसे समृद्ध परिवार है. सुधांशु त्रिवेदी का कहना है कि जातीय जनगणना के मुद्दे पर व्यवहारिक पक्ष और राजनीति अलग-अलग की जा रही है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज