• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • UP Polls: 'गौ सेवा' से लोगों को रिझाएगी योगी सरकार, गोहत्या और तस्करों के खिलाफ कदमों का करेगी प्रचार

UP Polls: 'गौ सेवा' से लोगों को रिझाएगी योगी सरकार, गोहत्या और तस्करों के खिलाफ कदमों का करेगी प्रचार

UP: गोवंश की तस्करी पर CM योगी सरकार ने की है बड़ी कार्रवाई. (File photo)

UP: गोवंश की तस्करी पर CM योगी सरकार ने की है बड़ी कार्रवाई. (File photo)

UP Election 2022: यूपी सरकार से मिली जानकारी के मुताबिक, राज्य में योगी आदित्यनाथ की सरकार आने के बाद से 150 अवैध कसाईखाने बंद हो गए हैं और केवल 35 बूचड़खाने ही चल रहे हैं. सरकार यह बताने के लिए भी आंकड़े जारी कर रही है कि बीते साढ़ें चार सालों में गो तस्करी में शामिल 1823 आरोपियों के खिलाफ मामले दर्ज किए गए हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

नई दिल्ली. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में चुनावी पारा धीरे-धीरे चढ़ रहा है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) की सरकार गोहत्या और तस्करी को एक मुख्य चुनावी मुद्दा बनाएगी. साथ ही राज्य को यह समझाने की कोशिश करेगी कि समाजवादी पार्टी (SP) की सरकार ने इसके संबंध में कुछ नहीं किया. खास बात यह है कि यूपी में सत्ता हासिल करने के बाद सीएम आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली राज्य सरकार ने अवैध कसाईखानों पर सख्त कार्रवाई की है.

2017 के चुनाव में बीजेपी का यह बड़ा चुनावी वादा था. यूपी सरकार से मिली जानकारी के मुताबिक, राज्य में योगी आदित्यनाथ की सरकार आने के बाद से 150 अवैध कसाईखाने बंद हो गए हैं और केवल 35 बूचड़खाने ही चल रहे हैं. बंद हो चुके कई कसाईखानों में हर रोज 300-500 मवेशियों का वध करने की क्षमता थी. योगी सरकार यह दिखाएगी कि दूसरी ओर उन्होंने 5 हजार 278 गौशालाएं खोली हैं, जहां 5.86 लाख से ज्यादा मवेशी रखे गए हैं.

सरकार यह बताने के लिए भी आंकड़े जारी कर रही है कि बीते साढ़ें चार सालों में गो तस्करी में शामिल 1823 आरोपियों के खिलाफ मामले दर्ज किए गए हैं. इनमें से 319 गिरफ्तार हुए, 280 पर गैंगस्टर अधिनियम के तहत मामला दर्ज हुआ, 114 पर गुंडा एक्ट लगी और 14 के खिलाफ पहली बार नेशनल सिक्युरिटी एक्ट (NSA) के तहत मामले दर्ज किए गए. योगी सरकार यह भी दावा कर रही है कि समाजवादी पार्टी ने अपने शासन में और भी ज्यादा कसाईखाने खोलने की अनुमति दी थी और गो तस्करी भी बड़े स्तर पर हुई.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज