UP के मेडिकल कॉलेज पर 5 करोड़ का जुर्माना, NMC ने सुप्रीम कोर्ट से मांगा 12 हफ्ते का समय

उच्चतम न्यायालय. (पीटीआई फाइल फोटो)

उच्चतम न्यायालय. (पीटीआई फाइल फोटो)

UP Medical College News: सुप्रीम कोर्ट ने 24 फरवरी को उन्नाव के सरस्वती मेडिकल कॉलेज पर नियमों की अनदेखी के मामले में 5 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया था.

  • Share this:

नई दिल्ली. उत्तर प्रदेश के सरस्वती मेडिकल कॉलेज को मेडिकल काउंसिल के नियमों का जानबूझकर उल्लंघन करने के लिए सुप्रीम कोर्ट की रजिस्ट्री में 5 करोड़ रुपये जमा करने के फैसले पर एनएमसी (National Medical Commission) ने इस मामले में कम्प्लांस रिपोर्ट दाखिल करने के लिए 12 हफ्ते का समय मांगा है.


सुनवाई के दौरान एनएमसी के वकील ने कहा कि कोरोना महामारी के चलते सुप्रीम कोर्ट के आदेश का अनुपालन नहीं हो सका है इस लिए और समय दिया जाए, जिसके बाद सुप्रीम कोर्ट ने मामले में एनएमसी को एक्शन टेकन रिपोर्ट दाखिल करने के लिए अतिरिक्त समय दे दिया.


Youtube Video

क्या है पूरा मामला
सुप्रीम कोर्ट ने 24 फरवरी को उन्नाव के सरस्वती मेडिकल कॉलेज पर नियमों की अनदेखी के मामले में 5 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया था. साथ ही कोर्ट ने छात्रों की परीक्षा कराने और नियमानुसार एडमिशन देने का भी आदेश दिया. सुप्रीम कोर्ट ने MBBS के 132 छात्रों की याचिका पर सुनवाई के दौरान यह आदेश दिया था. इसके साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने साफ किया था कि छात्रों से जुर्माने की कोई राशि नहीं वसूली जाएगी.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज