होम /न्यूज /राष्ट्र /

75 करोड़ के बीमा के लिए अमेरिकी मॉडल की हत्या में साथ देने का आरोप, अब प्राग से होगा प्रत्यर्पण

75 करोड़ के बीमा के लिए अमेरिकी मॉडल की हत्या में साथ देने का आरोप, अब प्राग से होगा प्रत्यर्पण

आरोपी विपुल पटेल की गिरफ्तारी के लिए ठाणे पुलिस की टीम प्राग गई है. (फोटो साभार सोशल मीडिया)

आरोपी विपुल पटेल की गिरफ्तारी के लिए ठाणे पुलिस की टीम प्राग गई है. (फोटो साभार सोशल मीडिया)

US model murder case: विपुल पटेल पर आरोप है कि उन्होंने 2003 में अमेरिकी मॉडल लियोना स्विंदर्स्की (33) की हत्या में अमेरिकी नागरिक प्रणेश देसाई का साथ दिया. ठाणे की सत्र अदालत ने दोनों को बरी कर दिया था. इस ऑर्डर के खिलाफ अपील पर सुनवाई के लिए पेश न होने पर हाईकोर्ट ने गैर-जमानती वारंट जारी किया है.

अधिक पढ़ें ...

ठाणे (महाराष्ट्र): अमेरिकी मॉडल की हत्या के मामले में वॉन्टेड आरोपी की गिरफ्तारी और प्रत्यर्पण के लिए महाराष्ट्र पुलिस की एक टीम चेक गणराज्य के प्राग गई है. विपुल पटेल पर मॉडल की हत्या में अपने मित्र की मदद करने का आरोप है ताकि उसके 10 लाख डॉलर (करीब 75 करोड़ रुपये) के इंश्योरेंस की रकम हासिल की जा सके. पुलिस प्रणेश देसाई को पहले ही गिरफ्तार कर चुकी है. मॉडल की हत्या फरवरी 2003 में हुई थी.

बॉम्बे उच्च न्यायालय ने अमेरिकी नागरिक प्रणेश देसाई और उसके मित्र विपुल पटेल के खिलाफ गैर-जमानती वारंट जारी किया था. पटेल अभी प्राग में है. अदालत ने मामले में उसे बरी किए जाने को चुनौती देने वाली अपील पर सुनवाई के लिए पेश न होने पर यह वारंट जारी किया. ठाणे की एक सत्र अदालत ने अमेरिकी मॉडल लियोना स्विंदर्स्की (33) की हत्या के मामले में दोनों को बरी कर दिया था. इस फैसले को हाईकोर्ट में चुनौती दी गई है.

अधिकारी ने बताया कि देसाई और स्विंदर्स्की के बीच प्रेम संबंध थे. वे मई 2003 में शादी करने वाले थे. दोनों मुंबई में एक हवाईअड्डे पर 7 फरवरी 2003 को पहुंचे, लेकिन उसके तुरंत बाद मॉडल लापता हो गयी. अगले दिन उसका शव ठाणे के काशीमीरा इलाके में एक राजमार्ग पर बरामद हुआ. पुलिस ने आरोप लगाया था कि देसाई ने अपने मित्र विपुल पटेल की मदद से मॉडल की हत्या कर दी ताकि उसका 10 लाख डॉलर का बीमा हासिल कर सके. आरोपों के अनुसार, पटेल ने हवाई अड्डे से कैब में बैठने के बाद मॉडल की हत्या के लिए दो लोगों को सुपारी दी. हत्या के बाद उसका शव हाइवे पर फेंक दिया गया.

अधिकारी ने बताया कि देसाई को इस साल की शुरुआत में गुजरात के वडोदरा से गिरफ्तार किया जा चुका है. पुलिस काफी समय से पटेल की तलाश में थी. इंटरपोल ने उसके खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस भी जारी किया था. अब महाराष्ट्र के ठाणे से पुलिस का दल एक अमेरिकी मॉडल की हत्या की जांच के सिलसिले में पटेल के प्रत्यर्पण के लिए प्राग गया है. काशीमीरा थाने के अधिकारी ने बताया कि विदेश मंत्रालय और इंटरपोल के साथ समन्वय कर पुलिस उपायुक्त की अगुआई में दल शनिवार को प्राग के लिए रवाना हो गया. उनके इस हफ्ते लौटने की संभावना है.

Tags: Maharastra, Thane

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर