उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता की दुर्घटना की जांच सीबीआई को सौंपने की सिफारिश

पीड़िता और उनके वकील महेंद्र सिंह की हालत नाजुक है और दोनों को वेंटिलेटर पर रखा गया है .

News18Hindi
Updated: July 30, 2019, 7:37 AM IST
उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता की दुर्घटना की जांच सीबीआई को सौंपने की सिफारिश
पीड़िता और उनके वकील महेंद्र सिंह की हालत नाजुक है और दोनों को वेंटिलेटर पर रखा गया है .
News18Hindi
Updated: July 30, 2019, 7:37 AM IST
उत्तर प्रदेश सरकार ने उन्नाव से भारतीय जनता पार्टी के विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर बलात्कार का आरोप लगाने वाली पीड़िता की रायबरेली में हुई सड़क दुर्घटना की जांच सीबीआई को सौंपेने की सोमवार देर रात सिफारिश कर दी.

प्रधान गृह सचिव अरविंद कुमार ने बताया, 'सरकार ने रायबरेली जिले के गुरबख्शगंज थाना में आईपीसी की धारा 302,307, 506,120 के तहत दर्ज अपराध संख्या 305/2019 की जांच सीबीआई को सौंपने का फैसला किया है. इस बारे में एक औपचारिक अनुरोध भारत सरकार को भेजा गया है.'

इससे पहले, प्रदेश के DGP ओम प्रकाश सिंह ने कहा था कि अगर पीड़िता की मां या अन्य कोई रिश्तेदार अनुरोध करेंगे, तो राज्य सरकार रायबरेली में हुई इस दुर्घटना की सीबीआई जांच कराने को तैयार है.

यह भी पढ़ें:  उन्नाव गैंगरेप पीड़िता के पास जा रहा संदिग्ध युवक पकड़ा गया

पुलिस ने भी दर्ज किया मामला

वहीं, प्रदेश पुलिस ने उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता की दुर्घटना के मामले में उनके परिवार की शिकायत के बाद बीजेपी विधायक सेंगर और नौ अन्य लोगों के खिलाफ हत्या का एक मामला दर्ज किया.

गौरतलब है कि रविवार को रायबरेली में एक तेज रफ्तार ट्रक ने एक कार को टक्कर मार दी थी, जिसमें पीड़िता और उसकी रिश्तेदार तथा वकील सवार थे. इस घटना में पीड़िता की दो रिश्तेदारों की मौत हो गई, जबकि पीड़िता एवं वकील गंभीर रूप से घायल हो गये और वे अस्पताल में भर्ती हैं.
Loading...

यह भी पढ़ें:  चाचा का आरोप, सुरक्षाकर्मी ही देता रहा MLA को हर जानकारी

पीड़ित की मां का आरोप

पीड़िता की मां ने आरोप लगाया, 'यह हादसा नहीं बल्कि हम सबको खत्म करने की साजिश थी.' एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि रायबरेली में हुए हादसे में बलात्कार पीड़िता की दो महिला रिश्तेदारों की मौत के मामले में बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर समेत 10 लोगों के खिलाफ नामजद, तथा 15-20 अज्ञात लोगों पर आईपीसी की धारा 302 (हत्या), 307 (हत्या की कोशिश), 506 (डराने धमकाने), 120 बी (आपराधिक साजिश रचने) का मामला दर्ज किया गया है.

कांग्रेस नेता राहुल गांधी, प्रियंका गांधी वाड्रा, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने इस घटना को लेकर बीजेपी सरकार पर निशाना साधा.

यह भी पढ़ें:  उन्नाव रेप पीड़िता के गनर ने सुनाई चौंकाने वाली कहानी

संसद में उठा मामला

समाजवादी पार्टी के नेता राम गोपाल यादव ने संसद में यह मामला उठाते हुए आरोप लगाया कि दुष्कर्म पीड़िता को जान से मारने का प्रयास किया गया. इस मुद्दे पर हुए शोरगुल को लेकर कुछ देर तक के लिए राज्यसभा की कार्यवाही स्थगित करनी पड़ी.

रामगोपाल ने कहा कि पीड़िता को मुहैया किया गया सुरक्षाकर्मी हादसे के वक्त उसके साथ नहीं था और हादसे में शामिल ट्रक का नंबर प्लेट भी ग्रीस से पोत दिया गया था. ट्रामा सेंटर (केजीएमयू) के प्रभारी डॉ संदीप तिवारी के मुताबिक पीड़िता और उनके वकील महेंद्र सिंह की हालत नाजुक है और दोनों को वेंटिलेटर पर रखा गया है .

यह भी पढ़ें:   विधायक कुलदीप और उसके भाई समेत 25 पर हत्या की FIR
First published: July 30, 2019, 5:24 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...