• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • टीकाकरण: बच्चों के लिए पूरा होने वाला है क्लीनिकल ट्रायल, केंद्र ने दिल्ली HC को दी जानकारी

टीकाकरण: बच्चों के लिए पूरा होने वाला है क्लीनिकल ट्रायल, केंद्र ने दिल्ली HC को दी जानकारी

आशंका है कि कोविड-19 की तीसरी लहर उन्हें ज्यादा प्रभावित करेगी. (प्रतीकात्मक तस्वीर: Shutterstock)

आशंका है कि कोविड-19 की तीसरी लहर उन्हें ज्यादा प्रभावित करेगी. (प्रतीकात्मक तस्वीर: Shutterstock)

Vaccination for Kids: मुख्य न्यायाधीश डीएन पटेल और न्यायमूर्ति ज्योति सिंह की पीठ ने कहा, 'परीक्षण पूरा हो जाने दीजिए, नहीं तो बिना परीक्षण के टीका लगाने से, वह भी बच्चों के मामले में, यह आपदा हो जाएगी.'

  • Share this:
    नई दिल्ली. केंद्र ने दिल्ली उच्च न्यायालय (Delhi High Court) को शुक्रवार को बताया कि 18 साल से कम उम्र के बच्चों के लिए कोविड वैक्सीन (Covid-19 Vaccine) का क्लिनिकल परीक्षण (Clinical Trials) जारी है और यह पूरा होने की कगार पर पहुंच गया है. केंद्र ने कहा कि सरकार नीति बनाएगी और विशेषज्ञों की अनुमति के बाद ही बच्चों का टीकाकरण किया जाएगा. यह कहा जाता रहा है कि कोरोना वायरस संक्रमण की तीसरी लहर बच्चों को प्रभावित कर सकती है.

    मुख्य न्यायाधीश डीएन पटेल और न्यायमूर्ति ज्योति सिंह की पीठ ने कहा, 'परीक्षण पूरा हो जाने दीजिए, नहीं तो बिना परीक्षण के टीका लगाने से, वह भी बच्चों के मामले में, यह आपदा हो जाएगी.' पीठ ने कहा, 'एक बार परीक्षण पूरे हो जाएं, तो आप जल्द से जल्द इसे बच्चों पर लागू करें. पूरा देश इंतजार कर रहा है.' अदालत ने मामले में अगली सुनवाई छह सितंबर को निर्धारित की है.

    उच्च न्यायालय एक नाबालिग की ओर से दायर जनहित याचिका पर सुनवाई कर रहा था. इसमें 12 से 17 आयुवर्ग के बच्चों को तत्काल टीकाकरण के निर्देश देने का इस आधार पर अनुरोध किया गया था कि आशंका है कि कोविड-19 की तीसरी लहर उन्हें ज्यादा प्रभावित करेगी. ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज के निदेशक डॉक्टर रणदीप गुलेरिया ने चेताया था कि अगर कोविड संबंधी व्यवहार का पालन नहीं किया गया, तो तीसरी लहर 6-8 हफ्तों में दस्तक दे सकती है.

    यह भी पढ़ें: कांवड़ यात्रा: सुप्रीम कोर्ट में केंद्र ने कहा- राज्य ना दें अनुमति, यूपी को मिली पुनर्विचार की मोहलत

    देश में टीकाकरण का हाल
    शुक्रवार सुबह 7 बजे तक के सरकारी आंकड़े बताते हैं कि देश में 39 करोड़ 53 लाख 43 हजार 767 डोज दिए जा चुके हैं. इनमें पहले डोज की संख्या 31 करोड़ 61 लाख 16 हजार 189 है. जबकि, दूसरे डोज के मामले में यह आंकड़ा 7 करोड़ 92 लाख 27 हजार 578 है. कुल टीकाकरण के मामले में उत्तर प्रदेश शीर्ष पर है. राज्य में 3 करोड़ 95 लाख 20 हजार 85 डोज दिए जा चुके हैं. जबकि, दूसरे स्थान पर महाराष्ट्र है. यहां 3 करोड़ 82 लाख 68 हजार 323 लोगों को वैक्सीन लगाई जा चुकी है.



    केरल में शुरू होगी गर्भवती महिलाओं का टीकाकरण
    सभी गर्भवती महिलाओं को कोविड रोधी टीका लगाने के केरल सरकार के अभियान ‘मातृकवचम’ का उद्घाटन 16 जुलाई को किया जाएगा. स्वास्थ्य विभाग ने गुरुवार को कहा कि उद्घाटन समारोह थायकॉड के महिला एवं बाल अस्पताल में जिलाधिकारी की मौजूदगी में होगा. विज्ञप्ति के मुताबिक, राजधानी के विभिन्न सरकारी अस्पतालों में टीकाकरण के लिए गर्भवती महिलाओं का मौके पर ही पंजीकरण किया जाएगा. (भाषा इनपुट के साथ)

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज