कोरोना के गिरते ग्राफ के बीच बढ़ा वैक्‍सीनेशन, गोवा की 37% आबादी को लगाई गई वैक्‍सीन

देश में कोरोना वैक्‍सीनेशन अभियान तेजी से चलाया जा रहा है. (फाइल फोटो)

स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक गोवा (Goa) में 15.9 लाख आबादी में से 37.35% से अधिक लोगों को वैक्‍सीन (Vaccine) की कम से कम पहली डोज लगाई जा चुकी है. वैक्‍सीन लगाने के मामले में सिक्किम (Sikkim), गोवा से कुछ ही पीछे दिखाई पड़ रहा है. उत्तर-पूर्वी राज्य सिक्किम ने अपनी 37.29% आबादी को वैक्सीन की पहली डोज दे दी है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. देश में जैसे-जैसे कोरोना की दूसरी लहर (Corona Second Wave) कमजोर पड़ रही है, वैसे-वैसे वैक्‍सीनेशन अभियान (Vaccination Campaign) को रफ्तार मिलती दिख रही है. नागरिकों को वैक्‍सीन (Vaccine) देने के मामले में गोवा (Goa) अब पूरे देश में पहले स्‍थान पर पहुंच गया है. स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक गोवा में 15.9 लाख आबादी में से 37.35% से अधिक लोगों को कोरोना वायरस से सुरक्षा देने वाली वैक्‍सीन की कम से कम पहली डोज लगाई जा चुकी है.

    लोगों को वैक्‍सीन लगाने के मामले में सिक्किम, गोवा से कुछ ही पीछे दिखाई पड़ रहा है. उत्तर-पूर्वी राज्य सिक्किम ने अपनी 37.29% आबादी को वैक्सीन की पहली डोज दे दी है. इस मामले में हिमाचल प्रदेश भी तेजी से आगे बढ़ता दिखाई पड़ रहा है. हिमाचल प्रदेश ने अपने यहां 30.35 प्रतिशत आबादी को वैक्‍सीन की कम से कम पहली डोज दे दी है. कोरोना से सुरक्षा के लिए लगाई जा रही वैक्‍सीन के मामले में केरल चौथे स्‍थान पर है. केरल ने 26.23 प्रतिशत लोगों को कोरोना की पहली खुराक दे दी. वहीं गुजरात की दो करोड़ की आबादी में से अब तक 25.69% लोगों को कोरोना वैक्‍सीन लगाई जा चुकी है.

    पिछले काफी समय से कोरोना वैक्‍सीन को लेकर केंद्र सरकार के साथ विवादों में रहे अरविंद केजरीवाल ने राजधानी दिल्‍ली में कोरोना वैक्‍सीन अभियान को तेजी से बढ़ाया है. दिल्‍ली की 25.39% आबादी को कोरोना वैक्‍सीन की पहली खुराक दी जा चुकी है. बता दें कि 1.87 करोड़ की आबादी वाली राष्‍ट्रीय राजधानी के 47.52 लाख लोगों को वैक्‍सीन की दो डोज में से पहली डोज दी जा चुकी है.

    इसे भी पढ़ें :- क्या कोरोना वैक्सीन लगानी है जरूरी? जानें वैक्सीनेशन से जुड़े सभी सवालों के जवाब

    केंद्र शासित प्रदेशों में लक्ष्यद्वीप पहले स्‍थान पर
    उत्तर-पूर्वी राज्यों में भी कोरोना वैक्‍सीनेशन अभियान को तेजी से आगे बढ़ाने की कवायद जारी है. त्रिपुरा की 29% जबकि मिजोरम की 28% आबादी को कोरोना की पहली खुराक दी जा चुकी है. वहीं उत्‍तराखंड और केंद्र शासित प्रदेा जम्‍मू और कश्‍मीर की 24% से अधिक की आबादी को वैक्‍सीन की पहली डोज दी जा चुकी है. केंद्र शासित प्रदेशों में कोरोना वैक्‍सीन की देने के मामले में लक्ष्यद्वीप और लेह लद्दाख पहले स्थान पर हैं. 73 हजार से अधिक की आबादी वाले लक्षद्वीप की 58% आबादी को कोरोना की पहली डोज दी जा चुकी है जबक‍ि लद्दाख ने 54 फीसदी आबादी को वैक्सीन की पहली डोज दी जा चुकी है.

    इसे भी पढ़ें :- गेम चेंजर: बायोलॉजिकल ई की स्‍वदेशी कोरोना वैक्‍सीन 90% तक हो सकती है प्रभावी

    बड़े राज्‍यों में कोरोना वैक्‍सीनेशन की रफ्तार कम
    बड़े राज्यों की बात करें तो कर्नाटक ने अपने यहां की 6.75 करोड़ आबादी में से 22% को कोरोना वैक्‍सीन की पहली खुराक लगाई है, इसके बाद राजस्थान (21%), तेलंगाना (19%), आंध्र प्रदेश (18%), और महाराष्ट्र ने 17 फीसदी जनसंख्या को पहला डोज दिया है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.