मुंबई में एक बार फिर वैक्सीन संकट! 54 केंद्रों पर टीकाकरण ठप; BMC ने जारी की अस्पतालों की सूची

मुबंई के कम से कम 54 वैक्सीन केंद्रों को बंद करना पड़ा. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

मुबंई के कम से कम 54 वैक्सीन केंद्रों को बंद करना पड़ा. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

Vaccine Shortage in Mumbai: मुंबई में फिलहाल 132 वैक्सीन केंद्र हैं. इनमें से 42 नागरिक अस्पताल हैं. 17 शासकीय अस्पताल हैं. जबकि, निजी अस्पतालों की संख्या 73 है. मुंबई में काफी समय से वैक्सीन (Covid Vaccine) की किल्लत बनी हुई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 23, 2021, 3:34 PM IST
  • Share this:
मुंबई. महाराष्ट्र में एक बार फिर वैक्सीन संकट गहरा गया है. खबर है कि टीके खत्म होने के चलते मुबंई के कम से कम 54 वैक्सीन केंद्रों को बंद करना पड़ा. इन केंद्रों पर शुक्रवार को वैक्सीन कार्यक्रम नहीं चलाए जाने का फैसला किया गया है. बीएमसी की तरफ से उन अस्पतालों की सूची भी जारी कर दी गई है, जहां आज टीकाकरण नहीं किया जाएगा. कुछ ही हफ्तों पहले महाराष्ट्र के कई हिस्सों और खासतौर से मुंबई में वैक्सीन की किल्लत की खबरें आई थीं.

इंडिया टुडे की एक रिपोर्ट के अनुसार, जसलोक अस्पताल, सैफी अस्पताल, सैफी अस्पताल, एशियन हार्ट इंस्टीट्यूट समेत कई केंद्रों पर आज वैक्सीन नहीं लगाई जाएगी. इधर, बीएमसी की तरफ से सूची जारी किए जाने के बाद लोगों की तरफ से मिली जुली प्रतिक्रिया आई है. एक तरफ कुछ नागरिक बीएमसी से नई तारीखों, नई बुकिंग, वैक्सीन की उपलब्धता जैसे सवाल कर रहे हैं. वहीं, दूसरी तरफ कुछ नागरिक बीएमसी का समय पर जानकारी देने के लिए धन्यवाद कर रहे हैं.

Youtube Video


बीएमसी ने जारी की अस्पतालों की सूची-


मुंबई में फिलहाल 132 वैक्सीन केंद्र हैं. इनमें से 42 नागरिक अस्पताल हैं. 17 शासकीय अस्पताल हैं. जबकि, निजी अस्पतालों की संख्या 73 है. मुंबई में काफी समय से वैक्सीन की किल्लत बनी हुई है. इससे पहले भी कई केंद्रों पर कमी के चलते वैक्सीन कार्यक्रम रुक गया था. बीती 22 अप्रैल को करीब 48 केंद्रों ने टीके की कमी के चलते कार्यक्रम को बीच में रोक दिया था.





बीती 20 अप्रैल को मुंबई को एक लाख से ज्यादा वैक्सीन डोज मिले थे. इससे पहले निजी अस्पतालों में 10, 11 और 12 अप्रैल को टीकाकरण रुक गया था. सरकारी आंकड़े बताते हैं कि महाराष्ट्र में अब तक कोविड टीके के 1 करोड़ 36 लाख 75 हजार 149 डोज लगाए जा चुके हैं. वहीं, पूरे देश में अब तक 19 करोड़ 25 लाख 873 पहले और 12 करोड़ 21 लाख 909 दूसरे डोज लगाय जा चुके हैं. देश में 31 करोड़ से ज्यादा डोज लगाए जा चुके हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज