अपना शहर चुनें

States

Vande Bharat Mission: ब्रिटेन में फंसे 331 भारतीय पहुंचे हैदराबाद एयरपोर्ट

16 मई से शुरू होगा वंदे भारत का दूसर फेज
16 मई से शुरू होगा वंदे भारत का दूसर फेज

एअर इंडिया (Air India) का एक विमान ब्रिटेन में फंसे 331 लोगों को लेकर यहां अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट (International Airport) पहुंचा.

  • Share this:
हैदराबाद. वंदे भारत मिशन (Vande Bharat Mission) के तहत विदेशों में फंसे भारतीय नागरिकों को निकालने के अभियान के तहत, एअर इंडिया का एक विमान ब्रिटेन में फंसे 331 लोगों को लेकर यहां अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट (International Airport) पहुंचा. एयरपोर्ट के सूत्रों ने कहा कि बोइंग 773 विमान तड़के दो बजकर 21 मिनट पर पहुंचा. बाद में, वही विमान दिल्ली होते 87 यात्रियों को लेकर अमेरिका गया. यात्रियों को मुख्य यात्री टर्मिनल के पूरी तरह स्वच्छ एवं रोगमुक्त अंतरराष्ट्रीय आगमन स्थल से ले जाया गया.

20-25 लोगों के ग्रुप में लाया गया सभी को
हवाईअड्डा अधिकारियों ने आने जाने वाली हर जगह को पूरी तरह स्वच्छ एवं रोगमुक्त किया था. सभी यात्री और विमान के चालक दल के सदस्यों को 20-25 लोगों के जत्थे में लाया गया. स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के दिशा-निर्देशों के मुताबिक इमीग्रेशन प्रोसेस पूरी करने से पहले एयरोब्रिज निकास पर लगे थर्मल कैमरा के जरिए प्रत्येक यात्री और चालक दल के प्रत्येक सदस्यों की जांच की गई.

यात्रियों की स्वास्थ्य जांच के बाद, सुरक्षात्मक उपकरण पहने CISF के जवान यात्रियों के समूह को इमीग्रेशन काउंटर तक ले गए. यहां आगमन के बाद यात्रियों को निर्धारित स्थानों पर आइसोलेशन के लिए ले जाया गया.
7 मई 2020 से शुरू हुआ मिशन


मिशन के तहत दुनिया के विभिन्न हिस्सों से भारतीयों का आना जारी है. मिशन के छठे दिन आज विदेश से 12 उड़ानें भारतीय नागरिको को लेकर देश के अलग-अलग राज्यों में पहुंचेंगी. लॉकडाउन के कारण विदेश में फंसे भारतीयों को स्वदेश लाने के लिए वंदे भारत मिशन गुरुवार से शुरू हुआ था. नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने कहा कि 7 मई 2020 से शुरू होने वाले इस मिशन के तहत 5 दिनों में एअर इंडिया और एअर इंडिया एक्सप्रेस द्वारा संचालित 31 इनबॉन्ड फ्लाइट्स में 6037 भारतीयों को भारत वापस लाया गया.

संयुक्त राज्य अमेरिका, ब्रिटेन, बांग्लादेश, सिंगापुर, सऊदी अरब, कुवैत, फिलीपींस, यूएई और मलेशिया से पहले चरण में 14800 भारतीयों को वापस लाने के लिए एअर इंडिया अपनी सहायक एअर इंडिया एक्सप्रेस के साथ 12 देशों के लिए कुल 64 उड़ानों (एअर इंडिया द्वारा 42 और एअर इंडिया एक्सप्रेस द्वारा 24) का संचालन कर रही है.

ये भी पढ़ें : 580 टन आवश्यक सामग्री लेकर मालदीव पहुंचा भारतीय नौसेना का जहाज 'केसरी'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज