मिशन वंदे भारतः 25 मई तक विदेशों में फंसे 30 हजार भारतीयों की हुई स्वदेश वापसी

मिशन वंदे भारतः 25 मई तक विदेशों में फंसे 30 हजार भारतीयों की हुई स्वदेश वापसी
जून महीने के मध्य तक लगभग 49 हजार लोग उड़ान भरने में सक्षम होंगे.

केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी (Hardeep Singh Puri) ने कहा, '25 मई तक विभिन्न देशों से 158 उड़ानों में 30,000 से अधिक लोग भारत लौट आए हैं.'

  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना लॉकडाउन (Corona lockdown) के बाद विदेशों में फंसे भारतीयों को स्वदेश वापस लाने के लिए वंदे भारत मिशन (Vande bharat mission) चलाया गया है. इस मिशन के तहत अब तक कितने लोगों की स्वदेश वापसी हुई इसके बारे में जानकारी देते हुए केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री (Union Civil Aviation Minister) हरदीप सिंह पुरी (Hardeep Singh Puri) ने कहा, '25 मई तक विभिन्न देशों से 158 उड़ानों में 30,000 से अधिक लोग भारत लौट आए हैं और 164 उड़ानों में 10,000 से अधिक लोग भारत से बाहर आ गए हैं.' पुरी ने कहा, जून महीने के मध्य तक लगभग 49 हजार लोग उड़ान भरने में सक्षम होंगे.

पिछले हफ्ते, पुरी ने कहा था कि मिशन के तहत अब तक 20 हजार भारतीय नागरिकों को देश में वापस लाया जा चुका है और आने वाले दिनों में इस संख्या में बढ़ोतरी होगी.

 





13 जून तक स्वदेश लाए जाएंगे भारतीय
हाल ही में विदेश मंत्रालय ने घोषणा की थी कि इस मिशन के दूसरे चरण को बढ़ाकर 13 जून तक कर दिया गया है. मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने कहा था कि इस मिशन का दूसरा चरण 16 मई से शुरू हुआ और यह चरण 13 जून तक चलेगा. हम इस चरण में 162 उड़ानों में 47 देशों में फंसे अपने नागरिकों को वापस लाना चाहते हैं. उन्होंने कहा था कि इस चरण में, हम इस्तांबुल, हो ची मिन्ह सिटी, लागोस आदि स्थानों को शामिल कर रहे हैं. साथ ही अमेरिका और यूरोप के लिए उड़ानें बढ़ा रहे हैं.

ये भी पढ़ेंः- 

चीनी 'बैट वुमन' की चेतावनी, 'कोरोना वायरस महज एक शुरुआत, फिर फैल सकते हैं ऐसे वायरस'

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज