वायुशक्ति 2019: 16 फरवरी को बॉर्डर पर 137 एयरक्राफ्ट के साथ दमखम दिखाएगी वायुसेना

'वायुशक्ति 2019' में मिग 29, जगुआर, मिराज 2000, सुखोई -30, मिग 21, मिग 27 अपग्रेड, हॉक और तेजस शामिल होंगे.

News18Hindi
Updated: February 12, 2019, 9:49 PM IST
वायुशक्ति 2019: 16 फरवरी को बॉर्डर पर 137 एयरक्राफ्ट के साथ दमखम दिखाएगी वायुसेना
प्रतीकात्मक तस्वीर
News18Hindi
Updated: February 12, 2019, 9:49 PM IST
(संदीप बोल)

पिछले साल अब तक के सबसे बड़े वायुसैनिक अभ्यास 'गगन शक्ति' में भारत ने चीन और पाकिस्तान को अपनी ताकत का एहसास कराया था. वायुसेना ने दिखा दिया कि हम कितने कम समय में 'टू फ्रंट वॉर' के लिए तैयार हैं. इस साल फिर 16 फरवरी को वायुसेना दुनिया के सामने अपनी रक्षात्मक और आक्रमक ताकत का प्रदर्शन करने जा रही है. राजस्थान के पोखरण इलाके में वायुसेना 'वायुशक्ति 2019' अभ्यास के दौरान अपने 137 एयरक्राफ्ट उतारेगी.

इस अभ्यास में वायुसेना के जाबांज दिन एवं रात के अंधेरे में अपने लक्ष्यों को नेस्तानाबूत करने का कौशल दिखाएंगे. वहीं 'हवा से हवा' और 'हवा से जमीन' में मिसाइल को दागकर अपने निशाने को भेदेगी. 'वायुशक्ति 2019' में मिग 29, जगुआर, मिराज 2000, सुखोई -30, मिग 21, मिग 27 अपग्रेड, हॉक और तेजस शामिल होंगे.



इसके अलावा ट्रांसपोर्ट एयरक्राफ्ट और अटैक हेलीकॉप्टर समेत 137 विमान शामिल होंगे. वाइस चीफ एयर मार्शल अनिल खोसला ने कहा कि इस वायुशक्ति में भारतीय वायुसेना की फायर पॉवर दिखाई देगी. खुद रक्षामंत्री इस फायर पॉवर का गवाह होंगी.

ये भी पढ़ें: जैसलमेर में मिग 27 लड़ाकू विमान क्रैश, 12 दिन में दूसरा हादसा

वहीं राफेल पर वायुसेना के अधिकारियों ने ज्यादा कुछ तो नहीं कहा. हालांकि ये जरूर कहा कि राफेल एक बेहतर विमान है और इसकी भारतीय वायुसेना को इसकी जरुरत है. इसके आने से वायुसेना की ताकत में इजाफा होगा. वहीं टू फ़्रंट वॉर के मद्देनजर भारतीय वायुसेना की मौजूदा ताक़त 42 फाइटर स्क्वाड्रन की होनी चाहिए लेकिन फ़िलहाल 31 फाइटर स्क्वाड्रन से भारतीय वायुसेना दो तरफा खतरे का सामना कर रही है.

ये भी पढ़ें: राफेल आने के बाद कितनी मजबूत होगी वायु सेना?
Loading...

वीमान लगातार पुराने हो रहे हैं. अपग्रेडेशन का काम समय से काफी पीछे चल रहा है. विमान दुर्घटनाएं लगातार हो रही हैं. ऐसे में फाइटर स्क्वाड्रन कम हो रहे है. इस कमी को पूरा करने के लिए तेजस और राफेल शामिल किए जा रहे हैं और 114 मल्टी रोल फायटर एयरक्राफ़्ट के लिए आरएफपी भी जारी की जा चुकी है.

'वायुशक्ति 2019' में इतने एयरक्राफ्ट होंगे शामिल

मिग 29- 7
जगुआर- 17
एसयू 30- 24
मिग 27 अपग्रेडेड- 11
मिग 21 बाइसन- 4
मिराज 2000- 4
हॉक- 8
तेजस- 6
एएन 32- 4
सी130- 5
एईडब्ल्यू एण्ड सी- 1
एमआई 17 वी5- 15
एएलएच एमके IV- 7
एमआई 35-3
आरपीए- 4

कुल फाइटर: 81
कुल टी एण्ड एच: 35
कुल आरपीए: 4
सपोर्ट एयरक्राफ्ट: 17

कुल एयरक्राफ्ट: 137

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...