UP: ट्रांसपोर्ट ऑफिस जाने से पहले आपको ये जरूरी काम अब सिर्फ Online ही करने होंगे

पेपरलेस व्यवस्था में अब नए वाहनों के रजिस्ट्रेशन के लिए सभी जरूरी कागजात ऑनलाइन अपलोड किए जाएंगे.
पेपरलेस व्यवस्था में अब नए वाहनों के रजिस्ट्रेशन के लिए सभी जरूरी कागजात ऑनलाइन अपलोड किए जाएंगे.

Registration of New Vehicles: नए वाहनों के रजिस्ट्रेशन (Registration) के लिए अब सभी जरूरी कागजात ऑनलाइन अपलोड (Online Upload) किए जाएंगे. आरटीओ (RTO) में कागजातों के सत्यापन के बाद वाहनों का रजिस्ट्रेशन नंबर जारी किया जाएगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 9, 2020, 8:49 PM IST
  • Share this:
गाजियाबाद. उत्तर प्रदेश परिवहन विभाग (Transport Department) अब प्रदेश के सभी क्षेत्रीय परिवहन कार्यालयों (RTO) में पेपरलेस व्यवस्था की शुरुआत करने जा रहा है. पेपरलेस व्यवस्था में अब नए वाहनों के रजिस्ट्रेशन (Registration) के लिए सभी जरूरी कागजात ऑनलाइन अपलोड (Online Upload) किए जाएंगे. आरटीओ कार्यालय कागजातों के सत्यापन करने के बाद वाहन का रजिस्ट्रेशन नंबर जारी कर देगा. इसके साथ ही अब उन लोगों के लिए एक टोकन सिस्टम शुरू किया जाएगा, जो अपने गाड़ियों से संबंधित रिकॉर्ड को अपडेट करना चाहते हैं, जो लोग गाड़ियों के डुप्लीकेट कॉपी और अनापत्ति प्रमाण पत्र लेना चाहते हैं या जो लोग अपना पता बदलना या अपडेट करना चाहते हैं, उन्हें राज्य के परिवहन विभाग की वेबसाइट पर अब ऑनलाइन आवेदन करना पड़ेगा.

गाड़ियों के रजिस्ट्रेशन को लेकर नया आदेश
बता दें कि बीते 28 सितंबर से पूरे राज्य में कमर्शियल गाड़ियों (Commercial Vehicles) को लेकर बड़ा ऐलान किया गया था. प्राइवेट गाड़ियों की तरह कमर्शियल गाड़ियों के भी रजिस्ट्रेशन डीलर के जरिए ही किए जा रहे हैं. पहले कमर्शियल वाहनों के रजिस्ट्रेशन के लिए आरटीओ ऑफिस का चक्कर लगाना पड़ता था, लेकिन नई व्यवस्था के तहत अब गाड़ी खरीदने वालों को आरटीओ कार्यालय जाने की जरूरत नहीं पड़ रही है. अब प्राइवेट गाड़ियों की तरह शोरूम से ही डीलर कमर्शियल गाड़ियों का भी ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करा रहे हैं.

Commercial vehicle, commercial vehicle registration, Transport Department, yogi adityanath covernment, ghaziabad rto office, vehicle registration, new vehicle registration, vehicle registration in showroom, कमर्शियल गाड़ी, कमर्शियल गाड़ी का रजिस्ट्रेशन, गाड़ियों का रजिस्ट्रेशन, नई गाड़ियों का रजिस्ट्रेशन, शोरूम में होगा, परिवहन विभाग, गाजियाबाद, निजी वाहन, डीलर पॉइंट, अब प्राइवेट गाड़ियों की तरह कमर्शियल गाड़ियों की भी रजिस्ट्रेशन डीलर के जरिए ही किए जाएंगे.
अब प्राइवेट गाड़ियों की तरह कमर्शियल गाड़ियों की भी रजिस्ट्रेशन डीलर के जरिए ही किए जाएंगे.

अब गाड़ियों का रजिस्ट्रेशन और अप्रूवल ऐसे होगा


इसी सिलसिले में सोमवार को गाजियाबाद में रजिस्ट्रेशन और अप्रूवल के लिए आ रहे ऑनलाइन समस्याओं के बारे में जिलाधिकारी, आरटीओ और जिले के डीलर्स ने चर्चा की. जिलाधिकारी अजय शंकर पांडे ने जिले के सभी डीलरों को निर्देश दिया है कि ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन में आ रही समस्याओं को 2 दिनों में लिखित रूप से अवगत कराएं, जिससे उसका समाधान जल्द किया जा सके.

आरटीओ गाजियाबाद ने क्या कहा
मीटिंग के बाद गाजियाबाद के एआरटीओ विश्वजीत सिंह ने कहा, 'जिले में नए वाहनों के रजिस्ट्रेशन ऑनलाइन माध्यम से हो इसके लिए जिलाधिकारी ने आवश्यक निर्देश दिए हैं. इस बैठक में जिले के सभी डीलर्स से ऑनलाइन प्रक्रिया में आ रही दिक्कतों के बारे में पूछा गया है. शासन की नई व्यवस्था में अब वाहनों के रजिस्ट्रेशन से संबंधित सभी कागजात डीलर के पास ही जमा होंगे. डीलर ही इन कागजातों को आरटीओ गाजियाबाद के पोर्टल पर अपलोड करेंगे. अपलोड किए गए कागजात का ऑनलाइन सत्यापन होने के बाद परिवहन कार्यालय द्वारा उस वाहन के रजिस्ट्रेशन को अप्रूव किया जाएगा और उस वाहन का रजिस्ट्रेशन नंबर जारी किया जाएगा.'

Commercial vehicle, commercial vehicle registration, Transport Department, yogi adityanath covernment, ghaziabad rto office, vehicle registration, new vehicle registration, vehicle registration in showroom, कमर्शियल गाड़ी, कमर्शियल गाड़ी का रजिस्ट्रेशन, गाड़ियों का रजिस्ट्रेशन, नई गाड़ियों का रजिस्ट्रेशन, शोरूम में होगा, परिवहन विभाग, गाजियाबाद, निजी वाहन, डीलर पॉइंट, 28 सितंबर 2020 से पूरे राज्य में यह व्यवस्था लागू कर दी जाएगी.
28 सितंबर 2020 से पूरे राज्य में यह व्यवस्था लागू कर दी जाएगी.


कागजात अब डीलर के यहां ही रहेंगे
सिंह आगे कहते हैं, 'नई व्यवस्था में अब डीलर्स को कागजात कार्यालय में जमा करने की आवश्यकता नहीं होगी. अब वाहन से संबंधित सभी कागज डीलर के शोरूम पर ही जमा रहेगी. इस प्रकार नए वाहनों के रजिस्ट्रेशन डीलर के माध्यम से ऑनलाइन पेपरलेस व्यवस्था के तहत परिवहन कार्यालय गाजियाबाद द्वारा शुरू किया जाएगा.'

ये भी पढ़ें: Driving License बनवाने वालों को योगी सरकार ने दी बड़ी राहत, लिए कई बड़े फैसले



इसके साथ ही अब उन लोगों के लिए एक टोकन सिस्टम शुरू किया गया है, जो अपने गाड़ियों से संबंधित रिकॉर्ड को अपडेट करना चाहते हैं. इसके लिए लोग ऑनलाइन फॉर्म भर कर एक स्लॉट ले सकते हैं. आरटीओ ऑफिस आवेदक को तय स्लॉट पर काम पूरा करेंगे. सुविधा के लिए तीन स्लॉट तय किए गए हैं. सुबह 10 से 12, दोपहर 12.30 से 2.30 और 3.30 से 5 बजे शाम.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज