अपना शहर चुनें

States

अबू धाबी से 363 भारतीयों को लेकर केरल पहुंचे एअर इंडिया के दो विमान

इसे ‘वंदे भारत अभियान’ नाम दिया गया है.
इसे ‘वंदे भारत अभियान’ नाम दिया गया है.

भारत ने कोरोना वायरस (Coronavirus) महामारी के चलते लागू अंतरराष्ट्रीय यात्रा लॉकडाउन के बीच विदेशों से अपने फंसे हुए नागरिकों को वापस लाने के लिये अब तक का सबसे बड़ा अभियान शुरू किया है. इसे ‘वंदे भारत अभियान’ नाम दिया गया है.

  • Share this:
नई दिल्‍ली. कोरोना वायरस संक्रमण (Coronavirus) के कारण लगे लॉकडाउन (Lockdown) की वजह से विदेश में फंसे भारतीयों (Indians) की घर वापसी गुरुवार को शुरू हो गई है. इसके तहत संयुक्त अरब अमीरात (UAE) से भारतीयों को ला रहीं एअर इं‍डिया (Air India) की दो फ्लाइट वहां से करीब 363 भारतीयों को लेकर गुरुवार को केरल पहुंच गई है.

एयर इंडिया एक्सप्रेस के एक प्रवक्ता ने बताया कि चार नवजात शिशुओं और 177 यात्रियों को लेकर एक विमान रात 10 बजकर नौ मिनट पर कोच्चि अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर उतरा. उन्होंने कहा कि इतने ही यात्रियों और पांच शिशुओं को लेकर एअर इंडिया एक्सप्रेस का एक और विमान 10 बजकर 32 मिनट पर दुबई से कोझिकोड पहुंचा.


दरअसल, भारत ने कोरोना वायरस महामारी के चलते लागू अंतरराष्ट्रीय यात्रा लॉकडाउन के बीच विदेशों से अपने फंसे हुए नागरिकों को वापस लाने के लिये अब तक का सबसे बड़ा अभियान शुरू किया है. इसे ‘वंदे भारत अभियान’ नाम दिया गया है. एअर इंडिया की उड़ान संख्या IX452 ने गुरुवार को अबू धाबी से कोच्चि के लिए उड़ान भरी थी. इसके बाद एअर इंडिया का ही एक और विमान दुबई से कोच्चि के लिए रवाना होगा.



भारत आने के लिए यात्री गुरुवार सुबह 9 बजकर 30 मिनट से ही अबूधाबी और दुबई हवाई अड्डे पर पहुंचने शुरू हो गए थे. कुछ यात्री अपने साथ भारत का राष्ट्रध्वज लेकर आए थे. इससे पहले, भारत सरकार ने सोमवार को घोषणा की थी कि वह विदेशों में फंसे भारतीयों को चरणबद्ध तरीके से सात मई से स्वदेश लाएगी.

दुबई में भारतीय वाणिज्य दूतावास में प्रेस, सूचना एवं संस्कृति दूत नीरज अग्रवाल ने गल्फ न्यूज से कहा कि दो लाख से अधिक आवेदकों के डेटाबेस में से प्रथम यात्रियों को चयनित करना एक बहुत मुश्किल कार्य है, जिसमें दूतावास के लिये कई चुनौतियां हैं. इन आवेदकों में 6,500 गर्भवती महिलाएं भी शामिल हैं.

यह भी पढ़ें: दिल्‍ली में शराब लेनी है तो ऑनलाइन करना होगा ये काम, सरकार की नई व्यवस्‍था
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज