अपना शहर चुनें

States

Vijay Diwas 2020: राजनाथ सिंह ने शहीदों को दी श्रद्धांजलि, कहा- देश बलिदान को हमेशा याद रखेगा

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (फाइल फोटो)
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (फाइल फोटो)

Vijay Diwas 2020: रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने वर्ष 1971 के युद्ध में पाकिस्तान के खिलाफ भारत की जीत की 50वीं वर्षगांठ के अवसर पर बुधवार को कहा कि 1971 के युद्ध में सैनिकों का बलिदान सभी भारतीयों के लिए प्रेरणा का स्रोत है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 16, 2020, 12:15 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भारत और पाकिस्तान के बीच 1971 में हुए तीसरे युद्ध को आज 50 साल पूरे हो चुके हैं. इस मौके पर देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) समेत कई बड़ी हस्तियों ने शहीदों को याद किया है. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) ने भी ट्वीट के जरिए शहीदों को श्रद्धांजलि दी है. उन्होंने लिखा है कि युद्ध में बलिदाने देने वाले सैनिकों को पूरा देश याद रखेगा. गौरतलब है कि 16 दिसम्बर को भारत में ‘विजय दिवस’ के रूप में मनाया जाता है. इसी दिन पाकिस्तान के खिलाफ 1971 में भारत को जीत मिली थी, जिसके फलस्वरूप एक देश के रूप में बांग्लादेश अस्तित्व में आया था.

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने वर्ष 1971 के युद्ध में पाकिस्तान (Pakistan) के खिलाफ भारत की जीत की 50वीं वर्षगांठ के अवसर पर बुधवार को कहा कि 1971 के युद्ध में सैनिकों का बलिदान सभी भारतीयों के लिए प्रेरणा का स्रोत है और यह देश उन्हें हमेशा याद रखेगा. सिंह ने ट्वीट किया, ‘आज विजय दिवस के अवसर पर, मैं भारतीय सेना के शौर्य एवं पराक्रम की परम्परा को नमन करता हूं. मैं स्मरण करता हूं उन जांबाज़ सैनिकों की बहादुरी को जिन्होंने 1971 के युद्ध में एक नई शौर्यगाथा लिखी.’ उन्होंने कहा, ‘उनका त्याग और बलिदान सभी भारतीयों के लिए प्रेरणा का स्रोत है. यह देश उन्हें हमेशा याद रखेगा.’

यह भी पढ़ें: पीएम मोदी ने 1971 की जंग के जांबाजों को दी सलामी, वॉर मेमोरियल में जलाई विजय ज्योति



गृहमंत्री अमित शाह ने दी विजय दिवस की शुभकामनाएं
भारत सरकार में गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने भी 1971 में हुए युद्ध में भारत की जीत की देशवासियों को बधाई दी है. उन्होंने लिखा '1971 में आज ही के दिन भारतीय सेना ने अपने अदम्य साहस और पराक्रम से मानवीय स्वतंत्रता के सार्वभौमिक मूल्यों की रक्षा करते हुए विश्व मानचित्र पर एक ऐतिहासिक बदलाव किया. इतिहास में स्वर्ण अक्षरों से अंकित यह शौर्यगाथा हर भारतीय को गौरवान्वित करती रहेगी. विजय दिवस की शुभकामनाएं.'

वहीं कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने लिखा '1971 में आज ही के दिन भारतीय सेना ने अपने अदम्य साहस और पराक्रम से मानवीय स्वतंत्रता के सार्वभौमिक मूल्यों की रक्षा करते हुए विश्व मानचित्र पर एक ऐतिहासिक बदलाव किया. इतिहास में स्वर्ण अक्षरों से अंकित यह शौर्यगाथा हर भारतीय को गौरवान्वित करती रहेगी. विजय दिवस की शुभकामनाएं.'

(भाषा इनपुट के साथ)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज