Home /News /nation /

केंद्रीय मंत्री वीके सिंह ने पेगासस रिपोर्ट पर ‘न्यूयॉर्क टाइम्स’ को कहा ‘सुपारी मीडिया’, विश्वसनीयता पर उठाए सवाल

केंद्रीय मंत्री वीके सिंह ने पेगासस रिपोर्ट पर ‘न्यूयॉर्क टाइम्स’ को कहा ‘सुपारी मीडिया’, विश्वसनीयता पर उठाए सवाल

राज्य मंत्री ने कहा कि न्यूयॉर्क टाइम्स को सुपारी मीडिया के तौर पर जाना जाता है.(फाइल फोटो)

राज्य मंत्री ने कहा कि न्यूयॉर्क टाइम्स को सुपारी मीडिया के तौर पर जाना जाता है.(फाइल फोटो)

New York Times, Vijay Kumar Singh, PM Narendra Modi: अमेरिकी समाचार पत्र ‘न्यूयॉर्क टाइम्स’ ने अपनी एक खबर में दावा किया है कि 2017 में भारत और इजराइल के बीच हुए लगभग दो अरब डॉलर के अत्याधुनिक हथियारों एवं खुफिया उपकरणों के सौदे में पेगासस स्पाईवेयर तथा एक मिसाइल प्रणाली की खरीद मुख्य रूप से शामिल थी.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली: केंद्रीय मंत्री वी के सिंह (Vijay Kumar Singh) ने शनिवार को पेगासस स्पाईवेयर (Pegasus spyware) से संबंधित खबर के कारण ‘न्यूयॉर्क टाइम्स’ (New York Times) को ‘‘सुपारी मीडिया’’ करार दिया और साथ ही उसकी विश्वसनीयता पर सवाल खड़े किए.

    अमेरिकी समाचार पत्र ‘न्यूयॉर्क टाइम्स’ ने अपनी एक खबर में दावा किया है कि 2017 में भारत और इजराइल के बीच हुए लगभग दो अरब डॉलर के अत्याधुनिक हथियारों एवं खुफिया उपकरणों के सौदे में पेगासस स्पाईवेयर तथा एक मिसाइल प्रणाली की खरीद मुख्य रूप से शामिल थी. इस खबर के सामने आने के बाद कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी सहित कई अन्य विपक्षी नेताओं ने सरकार को कटघरे में खड़ा करने की कोशिश शुरू कर दी है.

    ‘न्यूयॉर्क टाइम्स’ की खबर पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए सड़क परिवहन और राजमार्ग तथा नागर विमानन राज्य मंत्री सिंह ने ट्वीट कर कहा, ‘‘क्या आप एनवाईटी पर भरोसा कर सकते हैं? उसे ‘सुपारी मीडिया’ के रूप में जाना जाता है.’’

    इस मामले पर पिछले साल खासा विवाद हुआ था और विपक्षी दलों ने संसद में सरकार पर जासूसी का आरोप लगाते हुए हंगामा किया था. हालांकि सरकार ने इन आरोपों का खंडन किया था.

    उच्चतम न्यायालय ने इजरायली स्पाईवेयर ‘पेगासस’ के जरिए भारतीय नागरिकों की कथित जासूसी के मामले की जांच के लिए पिछले साल अक्टूबर में विशेषज्ञों की एक समिति का गठन किया था.

    कुछ अंतरराष्ट्रीय मीडिया समूहों के एक संगठन ने दावा किया था कि कई भारतीय नेताओं, मंत्रियों, सामाजिक कार्यकर्ताओं, कारोबारियों और पत्रकारों के खिलाफ पेगासस का कथित तौर पर इस्तेमाल किया गया.

    Tags: Pegasus, Pegasus case

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर