Home /News /nation /

vinay mohan kwatra new foreign secretary on the retirement of harsh vardhan shringla

विनय मोहन क्वात्रा नए विदेश सचिव, हर्षवर्धन श्रृंगला के रिटायर होने पर संभालेंगे पद

विनय मोहन क्वात्रा को नया विदेश सचिव नियुक्त किया गया है.  ( फाइल फोटो)

विनय मोहन क्वात्रा को नया विदेश सचिव नियुक्त किया गया है. ( फाइल फोटो)

नेपाल (Nepal) में भारत (India) के राजदूत (Ambassador) विनय मोहन क्वात्रा (Vinay Mohan Kwatra) को सोमवार को नया विदेश सचिव नियुक्त किया गया. वह हर्षवर्धन श्रृंगला (Harsh Vardhan Shringla) की जगह लेंगे जो इस महीने के अंत में सेवानिवृत्त हो रहे हैं.

अधिक पढ़ें ...

नयी दिल्ली.  नेपाल (Nepal) में भारत (India) के राजदूत (Ambassador) विनय मोहन क्वात्रा (Vinay Mohan Kwatra) को सोमवार को नया विदेश सचिव नियुक्त किया गया. वह हर्षवर्धन श्रृंगला (Harsh Vardhan Shringla) की जगह लेंगे जो इस महीने के अंत में सेवानिवृत्त हो रहे हैं. कार्मिक मंत्रालय के आदेश में यह जानकारी दी गई. मंत्रालय ने 1988 बैच के भारतीय विदेश सेवा (आईएफएस) के अधिकारी क्वात्रा की नियुक्ति की घोषणा करते हुए कहा कि वह 30 अप्रैल को विदेश सचिव का कार्यभार संभालेंगे. मंत्रिमंडल की नियुक्ति समिति ने क्वात्रा की नियुक्ति को मंजूरी दे दी थी.

वर्ष 2020 में नेपाल में राजदूत नियुक्त किए जाने से पहले क्वात्रा ने अगस्त 2017 से फरवरी 2020 तक फ्रांस में भारत के राजदूत के रूप में कार्य किया. उन्होंने 32 वर्षों की अपनी सेवा के दौरान अक्टूबर 2015 से अगस्त 2017 के बीच दो वर्षों के लिए प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) में संयुक्त सचिव का पद भी संभाला. विनय मोहन क्वात्रा ने जुलाई 2013 और अक्टूबर 2015 के बीच विदेश मंत्रालय के नीति नियोजन और अनुसंधान डिवीजन का नेतृत्व किया और बाद में विदेश मंत्रालय में अमेरिका डिवीजन के प्रमुख के रूप में कार्य किया, जहां वह अमेरिका और कनाडा के साथ भारत से जुड़े विषयों को देखते थे.

विनय मोहन क्वात्रा ने 2003 और 2006 के बीच काउंसलर के रूप में और बाद में भारतीय दूतावास, बीजिंग, चीन में मिशन के उप प्रमुख के रूप में कार्य किया. सेवा में शामिल होने के बाद उन्होंने 1993 तक जिनेवा में भारत के स्थायी मिशन में तीसरे सचिव और फिर दूसरे सचिव के रूप में कार्य किया, जहां उन्होंने फ्रेंच भाषा सीखने के अलावा संयुक्त राष्ट्र की विशेष एजेंसियों के साथ मानवाधिकार आयोग से संबंधित काम संभाला. इस अवधि के दौरान, उन्होंने जिनेवा में ‘ग्रेजुएट स्कूल ऑफ इंटरनेशनल स्टडीज’ से अंतरराष्ट्रीय संबंधों में डिप्लोमा भी प्राप्त किया.  विनय मोहन क्वात्रा का विदेश सेवा में लंंबा अनुभव रहा है. यह महज संयोग ही है कि मौजूदा समय में भारत के विदेश मंत्री के तौर पर कार्यरत एस. जयशंकर भी पहले विदेश सेवा में रहे हैं. वो भी विदेश सचिव रहे हैं.

Tags: Ambassador, Harsh Vardhan Shringla, India, Nepal

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर