हैदराबाद में यह युवक चलाता है RICE ATM, भरता है गरीबों का पेट

हैदराबाद में रामू चलाते हैं राइस एटीएम. (Pic- IANS)
हैदराबाद में रामू चलाते हैं राइस एटीएम. (Pic- IANS)

रामू डोसापटी का राइस एटीएम (Rice ATM) दिन के 24 घंटे चलता है. गरीब और बेसहारा लोग इसके जरिये जरूरत का राशन कभी भी ले सकते हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 1, 2020, 12:02 PM IST
  • Share this:
हैदराबाद. कोरोना वायरस संक्रमण (Coronavirus) या कोविड 19 महामारी दुनिया भर में कई बदलाव कर रही है. इनके तहत बड़ी संख्‍या में ऐसे भी लोग हैं, जिन्‍हें अपनी आजीविका से हाथ धोना पड़ रहा है. ऐसे में अधिकांश लोगों के सामने खानपान का संकट उत्‍पन्‍न हो गया है. हालांकि कुछ ऐसे भी लोग इस दौरान सामने आए हैं, जो गरीब लोगों का पेट निस्‍वार्थ भाव से भर रहे हैं. इन्‍हीं में से एक हैं हैदराबाद के रामू डोसापटी (Ramu Dosapati). वह गरीबों के लिए राइस एटीएम यानी चावल का एटीएम (Rice ATM) चलाते हैं. यह एटीएम गरीब और बेसहारा लोगों को जरूरी चीजें उपलब्‍ध कराता है.

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार रामू डोसापटी का राइस एटीएम दिन के 24 घंटे चलता है. गरीब और बेसहारा लोग इसके जरिये जरूरत का राशन कभी भी ले सकते हैं. रामू लोगों को यह सुविधा भी देते हैं कि अगर उनके पास कुछ खाने को नहीं है तो वह एलबी नगर में उनके घर आकर राशन का सामान ले जा सकते हैं. लॉकडाउन के दौरान से ही रामू डोसापटी लोगों को राशन बांट रहे हैं. उन्‍हें यह काम करते-करते करीब 170 दिन हो गए हैं. उन्‍हें लोगों को राशन बांटने के लिए अब अन्‍य लोगों की मदद भी मिलने लगी है.

जानकारी के मुताबिक रामू अब तक अपनी जेब से 5 लाख रुपये खर्च करके करीब 15 हजार लोगों की मदद कर चुके हैं. रामू एमबीए से ग्रैजुएशन किए हुए हैं और एक सॉफ्टवेयर फर्म में एचआर मैनेजर हैं. उनका यह मदद का ख्‍याल एक सेक्‍योरिटी गार्ड से प्रेरित है. उन्‍होंने उसे लोगों की मदद करते देखा था. इसके बाद वह भी ऐसा करने लगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज