VIDEO: घर तक नहीं पहुंच पाई एंबुलेंस तो कोरोना मरीज को 500 मीटर तक लादकर ले गया स्‍वास्‍थ्‍यकर्मी

असम का वीडियो वायरल हो रहा है.
असम का वीडियो वायरल हो रहा है.

मामला असम का है. जानकारी के अनुसार जिस जगह इस मरीज का घर है, वहां तक की सड़क की हालत बेहद खराब है. ऐसे में वहां एंबुलेंस नहीं पहुंच सकती थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 26, 2020, 3:33 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. देश में कोरोना वायरस संक्रमण (Coronavirus) की रफ्तार अब धीरे-धीरे कम हो रही है. साथ ही इससे ठीक होने वाले लोगों की संख्‍या में इजाफा देखने को मिल रहा है. इसके बावजूद देश में दूरदराज में कई ऐसे स्‍थान हैं, जहां लोग कोरोना वायरस (Covid 19) से जूझ रहे हैं. ऐसा ही एक मामला असम (Assam) में सामने आया है. इस घटना का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. इसमें देखा जा सकता है कि एक स्‍वास्‍थ्‍यकर्मी अपने कंधों पर कोरोना मरीज को लादकर रात के अंधेरे में ले जा रहा है.

वीडियो में देखने को मिल रहा है कि यह स्‍वास्‍थ्‍यकर्मी पीपीई किट पहनकर एक कोरोना मरीज को अपने कंधों पर लादकर ले जा रहा है. दरअसल यह घटना असम की बताई जा रही है. जानकारी के अनुसार जिस जगह इस मरीज का घर है, वहां तक की सड़क की हालत बेहद खराब है. ऐसे में वहां एंबुलेंस नहीं पहुंच सकती थी. साथ ही कोरोना मरीज को अस्‍पताल पहुंचाना भी जरूरी था. इस बीच 108 एंबुलेंस सेवा के लिए काम करने वाले गौतम सेकिया ने मरीज को घुलामारा में स्थित उनके घर से अपने कंधों पर लादा और उन्‍हें एंबुलेंस तक ले गए.





बता दें कि असम के पूर्व मुख्यमंत्री तरुण गोगोई को दो महीने बाद रविवार को अस्पताल से छुट्टी मिल गई है. उनका भी कोविड-19 का इलाज चल रहा था. एक वरिष्ठ डॉक्टर ने बताया कि 86 वर्षीय कांग्रेस नेता, गुवाहाटी मेडिकल कालेज एवं अस्पताल के डॉक्टरों के एक दल की निगरानी में रहेंगे. डॉक्टर ने बताया, 'उनका रक्तचाप, शुगर और अन्य पैरामीटर अभी सामान्य स्थिति में हैं. अभी वह पूरी तरह ठीक है. हालांकि हमारे डॉक्टर और नर्स उनके आवास पर उनके स्वास्थ्य की निगरानी करते रहेंगे.'
वहीं, देश में कोविड-19 से 70,78,123 लोगों के ठीक होने के साथ ही संक्रमण से उबरने की राष्ट्रीय दर बढ़कर 90 फीसदी हो गई है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने रविवार को यह जानकारी दी. मंत्रालय ने बताया कि पिछले 24 घंटे में 62,077 और लोग इस महामारी से ठीक हुए जबकि इसी अवधि में संक्रमण के 50,129 नए मामले सामने आए.

इस समय उपचाराधीन मरीजों की संख्या की तुलना में स्वस्थ हुए लोगों की संख्या 64,09,969 अधिक है. पिछले एक सप्ताह से लगातार एक हजार से कम लोगों की मौत हो रही है. मंत्रालय ने बताया कि यह आंकड़ा दो अक्टूबर से 1,100 से कम है. उसने बताया कि देश में अब 6,68,154 संक्रमितों का इलाज चल रहा है जो कुल मामलों का 8.50 प्रतिशत है.

दस राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों- महाराष्ट्र, कर्नाटक, केरल, तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल, दिल्ली, आंध्र प्रदेश, असम, उत्तर प्रदेश और छत्तीसगढ़ में ठीक हुए मामलों में से 75 प्रतिशत मामले दर्ज किये गये हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज