Home /News /nation /

'फेल' हुए विराट कोहली, उधर सोशल मीडिया का शिकार बन गई अनुष्का!

'फेल' हुए विराट कोहली, उधर सोशल मीडिया का शिकार बन गई अनुष्का!

गुरुवार को वर्ल्डकप सेमीफाइनल में ऑस्ट्रेलिया ने जब भारत को 329 रनों का टारगेट दिया तो भारत के फैन्स को सबसे ज्यादा उम्मीदें शायद विराट कोहली से थीं। लेकिन विराट कोहली सिर्फ एक रन बना पाए और 13 गेंदें खेलने के बाद पवेलियन लौट गए। कुछ ही देर में जब मैच भी हारता दिखने लगा तो भारत ने दर्शकों ने अपना आपा खो दिया।

गुरुवार को वर्ल्डकप सेमीफाइनल में ऑस्ट्रेलिया ने जब भारत को 329 रनों का टारगेट दिया तो भारत के फैन्स को सबसे ज्यादा उम्मीदें शायद विराट कोहली से थीं। लेकिन विराट कोहली सिर्फ एक रन बना पाए और 13 गेंदें खेलने के बाद पवेलियन लौट गए। कुछ ही देर में जब मैच भी हारता दिखने लगा तो भारत ने दर्शकों ने अपना आपा खो दिया।

गुरुवार को वर्ल्डकप सेमीफाइनल में ऑस्ट्रेलिया ने जब भारत को 329 रनों का टारगेट दिया तो भारत के फैन्स को सबसे ज्यादा उम्मीदें शायद विराट कोहली से थीं। लेकिन विराट कोहली सिर्फ एक रन बना पाए और 13 गेंदें खेलने के बाद पवेलियन लौट गए। कुछ ही देर में जब मैच भी हारता दिखने लगा तो भारत ने दर्शकों ने अपना आपा खो दिया।

अधिक पढ़ें ...
  • News18
  • Last Updated :
    गुरुवार को वर्ल्डकप सेमीफाइनल में ऑस्ट्रेलिया ने जब भारत को 329 रनों का टारगेट दिया तो भारत के फैन्स को सबसे ज्यादा उम्मीदें शायद विराट कोहली से थीं। लेकिन विराट कोहली सिर्फ एक रन बना पाए और 13 गेंदें खेलने के बाद पवेलियन लौट गए। कुछ ही देर में जब मैच भी हारता दिखने लगा तो भारत ने दर्शकों ने अपना आपा खो दिया।

    नतीजा यह हुआ कि सोशल मीडिया पर विराट कोहली के खिलाफ लिखा जाने लगा और सबसे दुखद और निराशाजनक बात यह थी कि इसके लिए अनुष्का शर्मा को निशाना बनाया गया। फेसबुक से लेकर टि्वटर तक हल्के-फुल्के चुटुकलों से लेकर बेहद आपत्तिजनक और अभद्र टिप्पणियां की गईं।

    न सिर्फ टिप्पणियां, लोगों ने सड़कों पर प्रदर्शन किए, नारे जलाए और यहां तक की अपनी घर की टीवी भी फोड़ दीं। स्थिति यह बन गई कि विराट कोहली के घर पर सुरक्षा इंतजाम किए गए।

    पढ़िए कुछ कमेंट्स जिनमें अनुष्का शर्मा को निशाना बनाया गया या विराट कोहली के आउट होने और भारत की हार का वजह बताया गया।

    मैं लोगों से रिक्वेस्ट करता हूं कि वे जाएं और अनुष्का शर्मा के घर पर पत्थर फेंके। वही टीम इंडिया की हार की असली वजह हैं।
    -कमाल आर खान

    नारी नर्क का द्वार है। #‎विराट‬  -अभिषेक शर्मा

    अनुष्का शर्मा विराट कोहली का एक रन देखने के लिए सिडनी पहुंची। अरे तुम सिडनी आई ही क्यों मूर्ख?
    -रंजन शर्मा

    मुझे अनुष्का शर्मा कभी पसंद नहीं आई। वह बदसूरत है हैं और बैड लक का साइन हैं। उनकी फिल्मों का बहिष्कार करना चाहिए। (टि्वटर पर एक यूजर)

    अनुष्का भाभी के ढीले पड़े तेवर, ना सैयां चले ना ही देवर। -नीरज भट्ट

    लेकिन इसके बाद भारतीय दर्शकों का एक और चेहरा देखने को मिला। भले ही भारत ऑस्ट्रेलिया से 95 रनों से सेमीफाइन्स हार गया लोगों ने अनुष्का को निशाना बनाया लेकिन उसके बाद दर्शकों ने जो किया उसने सबका जीत लिया। हुया हूं कि विराट के आउट होने को लेकर अनुष्का को निशाना बनाए जाने पर सोशल मीडिया पर लोगों ने न सिर्फ अनुष्का के पक्ष में लिखा जबकि इंडियन फैन्स को भी मूर्ख करार दिया। और पूरी सोशल मीडिया साफ-साफ दो पक्षों में बंटी दिखाई दी। एक फेसबुक यूजर अविनाश चंचल ने लिखा कि वर्ल्ड कप के फाइनल में तो हम चार साल बाद भी पहुंच जायेंगे लेकिन संवेदनशीलता कहां से लाया जाय जो किसी भी कप से ज्यादा जरुरी है। देखिए सोशल मीडिया पर लोगों ने अनुष्का के पक्ष पर क्या कहा!

    इसमें विराट की क्या गलती है? विराट के अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाने के लिए अनुष्का पर टिप्पणियां करना गलत है। - सौरव गांगुली

    सिर्फ एक महिला होने के नाते अनुष्का को कोसना और उनका मजाक उड़ाना पागलपन है। - सानिया मिर्जा

    अनुष्का को निशाना बनाया जाना न सिर्फ हैरान करने वाला, बल्कि घृणित भी है। -मधुर भंडारकर

    ऑस्ट्रेलियन मीडिया भी देख ही रहा होगा कि कल तक उनकी टीम को 'अनुष्का के दस देवरों से धुलवाने' वाले भारतीय कैसे आज इंडियन टीम के एक प्लेयर के ख़राब परफोर्मेंस की वजह उसकी गर्लफ्रेंड को बताते हुए उसे 'मनहूस' कह रहे हैं। अंधविश्वास और सेक्सिस्म के और बड़े झंडे गाड़ते जाओ दोस्तों ! सारी दुनिया को बता दो की हम क्रिकेट वर्ल्ड कप क्या, कहीं भी पहुंचने के लायक क्यों नहीं हैं। -प्रियंका दुबे

    विराट नहीं अच्छा कर पाए तो दोष अनुष्का का है... ऐसी सोच रखने वाले मुल्क़ को मैं फाइनल तो क्या कहीं नहीं देखना चाहता! अनुराग वत्स

    इस देश का हास्य बोध बिना महिलाओं को टारगेट किये पूरा नहीं हो पाता। अनुष्का जिसने न मैच खेला, न मैच हारा उसके ऊपर भद्दे कमेंट करने वाले लोग उसी मानसिकता और परंपरा से ग्रसित है जो सिखाता है कि शुभ कार्य के लिये महिलाएं वर्जित हैं, जो बताता है कि महिलाएं सारे काम को बिगाड़ने वाली होती है। और अगर कोई इस सड़ी हुई मानसिकता पर सवाल उठाये तो फिर उसे मजाक में लें, हल्के में कहा गया है जैसे तर्क देकर डिफेंड करने वाले भी कम नहीं। जबकि सच्चाई है कि चाहे-अनचाहे हम ऐसी गलतियां करते ही रहते हैं जो हमें महिलाओं के खिलाफ खड़ा करता रहता है और ताजुब्ब है कि हमें पता भी नहीं चलता। वर्ल्ड कप के फाइनल में तो हम चार साल बाद भी पहुंच जायेंगे लेकिन संवेदनशीलता कहां से लाया जाय जो किसी भी कप से ज्यादा जरुरी है।- अविनाश चंचल

    गुरूवार को जितनी चर्चा ऑस्ट्रेलिया-भारत के सेमीफाइनल्स की हुई उतनी ही चर्चा इस मु्द्दे पर हुई कि किस तरह लोगों ने अनुष्का शर्मा के पोस्टर तक जला डाले। न सिर्फ भारत के टीवी और अखबारों में बल्कि कई विदेशी वेबसाइट्स ने भी इस बारे में लिखा कि विराट कोहली के आउट होने पर भारतीय दर्शकों ने सोशल मीडिया पर आपत्तिजक टिप्पणियां की।

    आप hindi.news18.com की खबरें पढ़ने के लिए हमें फेसबुक और टि्वटर पर फॉलो कर सकते हैं.

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर