Assembly Banner 2021

पीएम मोदी ने क्यों कहा: जम्मू-कश्मीर के लिए खास है 25 मार्च, लोगों से की घूमने की अपील

प्रसिद्ध ट्यूलिप गार्डन 25 मार्च से आम जनता के लिए खुल रहा है.

प्रसिद्ध ट्यूलिप गार्डन 25 मार्च से आम जनता के लिए खुल रहा है.

Jammu Kashmir tulip Garden: ट्यूलिप गार्डन जबरवन रेंज की तलहटी में स्थित है और यह एशिया का सबसे बड़ा ट्यूलिप गार्डन है. यह लगभग 30 हेक्टेयर क्षेत्र में फैला हुआ है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 24, 2021, 4:18 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने बुधवार को लोगों से जम्मू-कश्मीर में जबरवन पर्वत श्रृंखला की तलहटी में स्थित ट्यूलिप गार्डन (Tulip garden) घूमने और केंद्र शासित प्रदेश के लोगों के गर्मजोशी भरे आतिथ्य-सत्कार का आनंद लेने का आग्रह किया. ट्यूलिप गार्डन को बृहस्पतिवार को आम जनता के लिए खोल दिया जाएगा.

बाग के बारे में ट्वीट करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, 'जब भी आपको अवसर मिले, जम्मू-कश्मीर की यात्रा करें और सुंदर ट्यूलिप गार्डन का दर्शन करें.' उन्होंने कहा, 'ट्यूलिप के अलावा, आप जम्मू-कश्मीर के लोगों के गर्मजोशी भरे आतिथ्य-सत्कार का अनुभव करेंगे.'

25 मार्च जम्मू कश्मीर के लिए है खास
पीएम मोदी ने एक अन्य ट्वीट में कहा, 'कल 25 मार्च जम्मू-कश्मीर के लिए खास है. जबरवन पर्वत की तलहटी में स्थित अद्भुत ट्यूलिप गार्डन आगंतुकों के लिए खुल जाएगा. गार्डन में 64 से अधिक किस्मों के 15 लाख से अधिक फूल दिखाई देंगे.' ट्यूलिप गार्डन जबरवन रेंज की तलहटी में स्थित है और यह एशिया का सबसे बड़ा ट्यूलिप गार्डन है. यह लगभग 30 हेक्टेयर के क्षेत्र में फैला हुआ है. यह उद्यान को 2007 में तत्कालीन मुख्यमंत्री गुलाम नबी आज़ाद की पहल पर कश्मीर घाटी में फूलों की खेती और पर्यटन को बढ़ावा देने के उद्देश्य से खोला गया था.



कोरोना का प्रभाव, गार्डन में एंट्री की शर्तें
जम्‍मू-कश्‍मीर की पहचान बने इस ट्यूलिप गार्डन में एंट्री की शर्तें होंगी. यहां केवल उन लोगों को एंट्री मिलेगी, जिन्‍होंने मास्‍क लगाए हों, सभी लोगों की थर्मल स्‍कैनिंग की जाएगी. यहां सैनिटाइजर भी मौजूद होगा और गार्डन के भीतर लोगों को पीने का पानी मिलेगा. इसके लिए वाटर एटीएम और आरओ लगाए गए हैं. फ्लोरीकल्चर विभाग के निदेशक फारूक अहमद ने बताया कि गार्डन तय समय पर खुल जाएगा, लेकिन मौसम खराब होता है तो इसे बंद ही रखा जाएगा.

ये भी पढ़ें :-  कोरोना की नई लहर, वैक्‍सीन के असर पर शक: जानिये ब्रिटेन के कोविड स्‍ट्रेन के बारे में सबकुछ

गार्डन ओपनिंग के लिए फिर प्रोग्राम तय किया जाएगा. उन्‍होंने कहा कि गार्डन नो प्‍लास्टिक जोन है, इसलिए पर्यटक कोई भी प्‍लास्टिक का सामान लेकर अंदर नहीं जा सकेगा. वहीं गार्डन में खाने-पीने की मनाही है. ऐसे में पर्यटकों को खाने का सामान अंदर नहीं ले जाने दिया जाएगा. गार्डन में कोरोना गाइडलाइन के मुताबिक सोशल डिस्‍टेंसिंग का पालन करना होगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज