आंध्रप्रदेश की मदद करेगा गुजरात, सरकार भेजेगी जहरीली गैस को बेअसर करने वाला रसायन

आंध्रप्रदेश की मदद करेगा गुजरात, सरकार भेजेगी जहरीली गैस को बेअसर करने वाला रसायन
एलजी पॉलीमर फैक्ट्री से स्टाइरीन गैस के रिसाव का असर आसपास के पांच किलोमीटर के दायरे में हुआ है.

Vizag gas leak case: एलजी पॉलीमर फैक्ट्री से रिसी स्टाइरीन गैस के असर को खत्म करने या उसे निष्प्रभावी बनाने के लिए गुजरात के वापी शहर से तुरंत एक विशेष रसायन पीटीबीसी मौके पर रवाना किया जा रहा है.

  • Share this:
अहमदाबाद. आंध्रप्रदेश के विशाखापत्तनम (Visakhapatnam) में एलजी पॉलीमर फैक्ट्री से रिसी स्टाइरीन गैस के असर को खत्म करने या उसे निष्प्रभावी बनाने के लिए गुजरात के वापी शहर से तुरंत एक विशेष रसायन पीटीबीसी मौके पर रवाना किया जा रहा है. उक्त जानकारी देते हुए गुजरात सरकार (Government of Gujarat) ने बताया कि स्टाइरीन गैस के प्रभाव को खत्म या उदासीन बनाने में काम आने वाले रसायन पीटीबीसी का उत्पादन सिर्फ राज्य के वापी कस्बे में होता है.

आज तड़के एलजी पॉलीमर फैक्ट्री से स्टाइरीन गैस के रिसाव का असर आसपास के पांच किलोमीटर के दायरे में हुआ है. केंद्र सरकार के मुताबिक, इस हादसे में 11 लोगों की मौत हुई है, जबकि 1000 अन्य प्रभावित हुए हैं. गुजरात के मुख्यमंत्री कार्यालय में सचिव अश्वनी कुमार ने बताया कि विशाखापत्तनम में फैक्ट्री से रिसने वाली गैसे के प्रभाव को बेअसर करने के लिए फिल्हाल पीटीबीसी (पारा-टरशिअरी ब्युटाइल कैटेकोल) का इस्तेमाल किया जा रहा है.

हवाई मार्ग से भेजा जाएगा रसायन
कुमार ने कहा, 'हवा में रिसी गैस के प्रभाव को बेअसर करने के लिए जिस रसायन का प्रयोग हो रहा है उसका उत्पादन सिर्फ वापी में होता है. आंध्रप्रदेश सरकार ने गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी से अनुरोध किया कि वह जितनी जल्दी संभव हो सके वापी से हवाई मार्ग से यह रसायन मौके पर भेजने का प्रबंध करें.'



वरिष्ठ अधिकारियों को दिए गए निर्देश


रुपाणी से मिले निर्देश के अनुसार, वरिष्ठ अधिकारियों ने वल्साड के जिलाधिकारी से कहा है कि वह 500 किलोग्राम रसायन की खरीद की व्यवस्था करें. उन्होंने बताया कि रसायन को वापी से सड़क मार्ग से दमन ले जाया जाएगा, जहां से उसे हवाई मार्ग से विशाखापत्तनम भेजा जाएगा.

ये भी पढ़ेंः-
Pics: विशाखापट्टनम गैस हादसे ने ताजा कीं 36 साल पुरानी भोपाल गैस कांड की यादें
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading