अपना शहर चुनें

States

तमिलनाडुः चार वर्ष की जेल की सजा पूरी करने के बाद शशिकला रिहा

तमिलनाडु के मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी की अगुवाई वाली सत्तारूढ़ अन्नाद्रमुक ने कई बार कहा है कि शशिकला को पार्टी में दोबारा शामिल करने की कोई गुंजाइश नहीं है. फाइल फोटो
तमिलनाडु के मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी की अगुवाई वाली सत्तारूढ़ अन्नाद्रमुक ने कई बार कहा है कि शशिकला को पार्टी में दोबारा शामिल करने की कोई गुंजाइश नहीं है. फाइल फोटो

वीके शशिकला (VK Sasikala) के वकील राजा सेंतूर पांडियन ने कहा कि शशिकला ने उनसे तमिलनाडु के लोगों को यह बताने को कहा है कि वह उनसे जल्द मिलेंगी. आगामी अप्रैल-मई महीने में तमिलनाडु में विधानसभा चुनाव (Tamilnadu Assembly Election 2021) होने वाले हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 28, 2021, 12:01 AM IST
  • Share this:
बेंगलुरु. अन्नाद्रमुक से निष्कासित नेता वीके शशिकला (VK Sasikala) को आय से अधिक संपत्ति के एक मामले में चार वर्ष की कैद की सजा पूरी करने के बाद बुधवार को जेल से रिहा कर दिया गया. इसके बाद तमिलनाडु और कर्नाटक में उनके समर्थकों ने जश्न मनाया. तमिलनाडु की पूर्व मुख्यमंत्री दिवंगत जे जयललिता (J Jayalalitha) की करीबी रही 66 वर्षीय शशिकला कोरोना वायरस (Coronavirus) से संक्रमित होने के बाद विक्टोरिया अस्पताल में भर्ती हैं और उन्हें कुछ और दिन अस्पताल में ही रहना होगा. पारापन्ना अग्रहारा कारागार के अधीक्षक वी शेषमूर्ति ने ‘पीटीआई-भाषा’ से कहा कि शशिकला (VK Sasikala) को रिहा कर दिया गया है. उन्हें 15 फवरी 2017 को जेल में लाया गया था.

शशिकला के समर्थकों ने उनकी रिहाई पर खुशी मनाई, मिठाइयां बांटी और पूजास्थलों पर प्रार्थना की. इस बीच ऐसी संभावना है कि वह अन्नाद्रुमक पर नियंत्रण हासिल कर सकती हैं, जहां से उन्हें अंतरिम महासचिव के पद से निष्कासित किया गया था. उनके वकील राजा सेंतूर पांडियन ने पत्रकारों से कहा कि शशिकला ने उनसे तमिलनाडु के लोगों को यह बताने को कहा है कि वह उनसे जल्द मिलेंगी. उन्होंने बताया कि उन्हें रिहा किए जाने के बाद अस्पताल में लगाई गई सुरक्षा को वापस ले लिया गया है.

शशिकला की रिहाई पर खुशी जताते हुए एएमएमके पार्टी के महासचिव टीटीवी दिनाकरण ने कहा कि शशिकला को अस्पताल में अच्छा इलाज दिया गया है और डॉक्टरों की सलाह पर वह कुछ और दिन अस्पताल में रह सकती हैं. उन्होंने कहा कि तमिलानाडु के लोग एवं उनकी पार्टी के कार्यकर्ता उनका जोरदार स्वागत करेंगे. एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि वर्षों पहले एएमएमके गठित करने का मकसद अन्नाद्रमुक को पुनः हासिल करना और तमिलनाडु में अम्मा की 'सच्ची' सरकार बनाना है और इसके लिए प्रयास जारी हैं.



उन्होंने कहा, ' चिन्नाम्मा (शशिकला) वापस आ रही हैं. हम तमिलनाडु में अम्मा (जयललिलता की) सरकार बनाएंगे.' उपमुख्यमंत्री ओ पनीरसेल्वम और मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी की अगुवाई वाली सत्तारूढ़ अन्नाद्रमुक ने कई बार कहा है कि शशिकला को पार्टी में दोबारा शामिल करने की कोई गुंजाइश नहीं है. अस्पताल सूत्रों के अनुसार, पीपीई किट पहने जेल अधिकारियों ने अस्पताल के कोविड-19 वार्ड में औपचारिकताएं पूरी कीं. इसी अस्पताल में उनकी रिश्तेदार जे इलावारसी भी भर्ती हैं.
शशिकला को कम से कम अगले तीन दिनों तक अस्पताल में भर्ती रहना होगा. हालांकि उनमें संक्रमण के कोई लक्षण नहीं हैं. अस्पताल ने एक आधिकारिक बुलेटिन में कहा,‘‘ प्रोटोकॉल के अनुसार, अगर उन्हें तीन दिन तक ऑक्सीजन की जरूरत नहीं पड़ी और उनमें संक्रमण का कोई लक्षण नहीं दिखाई देता है तो उन्हें 10वें दिन (30 जनवरी) अस्पताल से छुट्टी दी जाएगी.’’

अस्पताल के बाहर शशिकला के समर्थक एकत्र हो गए और उन्होंने अपनी नेता के पक्ष में नारेबाजी की. समर्थकों ने इस दौरान मिठाइयां भी बांटी. जेल अधिकारियों द्वारा रिहा किए जाने के बाद शशिकला के रिश्तेदार एवं निर्दलीय विधायक दिनाकरण अस्पताल पहुंचे.

शशिकला आय से अधिक 66 करोड़ रुपये की संपत्ति के मामले में फरवरी 2017 से यहां केन्द्रीय कारागार में बंद थीं. उनके साथ उनकी रिश्तेदार इलावरासी और दिवंगत जयललिता के दत्तक पुत्र वी एन सुधाकरण को भी सजा सुनाई गई थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज