Assembly Banner 2021

Tamil Nadu Election: तमिलनाडु में 6 अप्रैल को डाले जाएंगे वोट, पार्टियों की अंतर्कलह बिगाड़ सकती हैं समीकरण

तमिलनाडु में केवल एक ही चरण में चुनाव आयोजित किए जाएंगे. तमिलनाडु में 6 अप्रैल को वोट डाले जाएंगे और 2 मई को नतीजे घोषित किए जाएंगे.

तमिलनाडु में केवल एक ही चरण में चुनाव आयोजित किए जाएंगे. तमिलनाडु में 6 अप्रैल को वोट डाले जाएंगे और 2 मई को नतीजे घोषित किए जाएंगे.

Tamil Nadu Election: राज्य में डीएमके के अलागिरी और एआईएडीएमके की शशिकला चुनाव में बड़ी भूमिका निभा सकते हैं. हालांकि, दोनों मामलों में कलह पार्टी के अंदर ही है. इसके अलावा रजनीकांत और कमल हासन की मौजूदगी चुनाव में बड़ा फैक्टर साबित हो सकती है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 27, 2021, 1:35 PM IST
  • Share this:
चेन्नई. तमिलनाडु (Tamil Nadu) में होने जा रहे विधानसभा चुनावों (Assembly Elections) में वोटिंग 6 अप्रैल को होगी. केरल और पुडुचेरी की तरह ही यहां भी चुनाव एक चरण में संपन्न हो जाएंगे. खास बात है कि चुनावी हलचल के लिहाज से देखें तो पश्चिम बंगाल के बाद तमिलनाडु खासा सक्रिय है. यहां AIADMK और DMK के बीच कड़ा मुकाबला है. फिलहाल राज्य में AIADMK की सत्ता है. हालांकि, पूर्व मुख्यमंत्री जे जयलललिता की करीबी रहीं वीके शशिकला के लौटने से राज्य का सियासी पारा बढ़ा है.

तमिलनाडु में 234 सीटों पर जनता 6 अप्रैल को मतदान करेगी. इसके बाद 2 मई को नतीजों की घोषणा की जाएगी. राज्य में डीएमके के अलागिरी और एआईएडीएमके की शशिकला चुनाव में बड़ी भूमिका निभा सकते हैं. हालांकि, दोनों मामलों में कलह पार्टी के अंदर ही है. भ्रष्टाचार मामले में 4 साल की सजा काटने के बाद जेल से लौटीं शशिकला ने पार्टी में नेतृत्व के खिलाफ दावा पेश कर दिया है. उन्होंने चेन्नई कोर्ट में याचिका दायर की है. मामले की सुनवाई मार्च में होनी है.

Youtube Video




राज्य में फिल्मी एंगल भी बड़ी भूमिका निभा सकता है. बीते साल सुपरस्टार रजनीकांत ने सियासी डेब्यू की घोषणा की थी, लेकिन बाद में उन्होंने कदम पीछे ले लिए थे. वहीं, साउथ के एक और सुपरस्टार कमल हासन भी अपनी पार्टी मक्कल निधि मैयम के साथ चुनाव में हुंकार भरने के लिए तैयार हैं. इस साल होने जा रहे चुनावों को लेकर आयोग भी खासा सतर्क है.

समाचार एजेंसी एएनाआई की खबर के अनुसार, आयोग ने चुनाव के दौरान सुरक्षा भी खास ध्यान रखा है. पांच राज्यों के लिए सीएपीएफ की कंपनियां रवाना हो गईं हैं. न्यूज एजेंसी से मिली जानकारी के अनुसार, तमिलनाडु में 45 कंपनियां भेजी जा रहीं हैं. हालांकि, 125 की संख्या के साथ सबसे ज्यादा सुरक्षा पश्चिम बंगाल को दी गई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज