पीएम, राष्ट्रपति को मिलेगी फौलादी सुरक्षा, भारत पहुंचा पहला VVIP विमान 'एयर इंडिया वन'

फोटो साभारः ANI
फोटो साभारः ANI

VVIP aircraft Air India One for President and PM Modi: वीवीआईपी विमान एयर इंडिया वन अमेरिका से दिल्ली अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे पर पहुंच चुका है. अमेरिका के राष्ट्रपति के एयरफोर्स वन जैसी अद्भुत क्षमताओं से लैस VVIP विमान 'एयर इंडिया वन' आसमान में उड़ता एक 'अभेद्य किला' है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 1, 2020, 9:20 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. प्रधानमंत्री (Prime Minister) और राष्ट्रपति (President ) के लिए अमेरिका में तैयार विशेष विमान बोइंग 777 भारत पहुंच चुका है. वीवीआईपी विमान एयर इंडिया वन (VVIP aircraft Air India One) की गुरुवार को अमेरिका से दिल्ली अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे पर लैंडिंग हुई. अमेरिका के राष्ट्रपति के एयरफोर्स वन जैसी अद्भुत क्षमताओं से लैस VVIP विमान 'एयर इंडिया वन' आसमान में उड़ता एक 'अभेद्य किला' है.

भारत पहुंचने में इस विमान को थोड़ी देर हो गई है. पहले यह विमान 25 अगस्त को भारत आने वाला था, लेकिन तकनीकी कारणों से इसका भारत आना स्थगित कर दिया गया था. ये एयर क्राफ़्ट 17 घंटे तक लगातार बिना रीफ्यूल के उड़ सकता है. ये विमान एक पूरी तरह से उड़ते हुए कमांड सेंटर की तरह काम करने में सक्षम है, चूंकि ये एक उन्नत और सुरक्षित कम्यूनिकेशन सिस्टम से लैस हैं, जिसमें हैक या टैप किए बिना, ऑडियो और वीडियो कम्यूनिकेशन की सुविधा दी गई है, ठीक वैसी ही, जैसे अमेरिकी एयर फोर्स वन में है.अब तक जिस विमान में वीवीआईपी उडान भरा करते है वो 10 घंटे उडान के बाद रीफ्यूल की जरूरत होती है.
देखें VIDEO...







क्यों खास है ये विमान ?

- B777 विमान स्टेट-ऑफ-द-आर्ट मिसाइल डिफेंस सिस्टम्स से लैस हैं.
- एक बार ईंधन भरने पर यह अमेरिका से भारत तक की उड़ान भर सकता है.
- बोइंग-777 एक बार में 6,800 मील की दूरी तय कर सकता है.
- दोनों विमानों की कीमत करीब 8458 करोड़ रुपये बताई जा रही है.
- यह आधुनिक इंफ्रारेड सिग्नल से चलने वाली मिसाइल को कन्फ्यूज कर सकता है.

अब तक होता था बोइंग-747 का इस्तेमाल
जानकारी के लिए बता दें कि अब तक भारत के प्रधानमंत्री एयर इंडिया-वन कॉल साइन से बोइंग-747 इस्तेमाल करते रहे हैं. बोइंग 747 का इस्तेमाल प्रधानमंत्री, राष्ट्रपति या उप-राष्ट्रपति द्वारा तब किया जाता है जब वे आधिकारिक विदेशी दौरे होते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज