Assembly Banner 2021

राहुल गांधी ने बच्चे को कराई कॉकपिट की सैर, समझाया कैसे काम करता है प्लेन; देखें वीडियो

वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है. (फोटो: rahul Gandhi/Instagram)

वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है. (फोटो: rahul Gandhi/Instagram)

Rahul Gandhi takes kid on cockpit tour: कांग्रेस के नेतृत्व वाली यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट (UDF) के लिए प्रचार में जुटे राहुल गांधी की सुमेश से मुलाकात कीजुरकुन्नू स्थित टी स्टॉल पर हुई थी. यहां दोनों के बीच बातचीत का एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर शेयर किया गया था.

  • Share this:
तिरुवनंतपुरम. चुनावी अभियान में लगे राहुल गांधी (Rahul Gandhi) लगातार प्रशंसकों के संपर्क में हैं. इसी क्रम में उनकी मुलाकात एक छोटे से बच्चे अद्वैत सुमेश से भी हुई, जो पायलट बनना चाहता है. जैसे ही गांधी को यह बात पता चली, तो उन्होंने बच्चे के लिए खास कॉकपिट टूर का इंतजाम किया. प्लेन की बारीकियों को इस तरह से देखकर बच्चा बेहद खुश नजर आ रहा था. इस मामले का वीडियो कांग्रेस नेता के इंस्टाग्राम (Instagram) अकाउंट पर भी शेयर किया गया था. लोग राहुल गांधी की काफी तारीफ कर रहे हैं.

कांग्रेस के नेतृत्व वाली यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट के लिए प्रचार में जुटे राहुल गांधी की सुमेश से मुलाकात कीजुरकुन्नू स्थित टी स्टॉल पर हुई थी. यहां दोनों के बीच बातचीत का एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर शेयर किया गया था. कुछ मीडिया रिपोर्ट्स बताती हैं कि बच्चे की अंग्रेजी और हिंदी ने कांग्रेस नेता को खासा प्रभावित किया था. इसके बाद बच्चे ने उन्हें बताया कि उसका सपना पायलट बनने का है.

यह भी पढ़ें: वादे के पक्के राहुल गांधी, 12 साल के बच्चे को भेजे स्पोर्ट्स शूज, जानें कहानी



इस मुलाकात के अगले दिन कांग्रेस नेता ने सुमेश को चार्टर्ड फ्लाइट के कॉकपिट में लाने की व्यवस्था की. बच्चा और उसके पिता कालीकट अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर पहुंच गए, जहां उनकी चार्टर्ड फ्लाइट मौजूद थी. सोशल मीडिया पर जारी वीडियो में नजर आ रहा है कि बच्चा कॉकपिट में पहुंचा. वहां पहले से ही एक महिला पायलट मौजूद है. राहुल गांधी यहां बच्चे को कॉकपिट और जहाज कैसे काम करता है, यह समझा रहे हैं.



सोशल मीडिया पर वीडियो शेयर कर गांधी ने लिखा, 'हमने अद्वैत के सपने को सच करने के लिए पहला कदम उठाया है. अब हमारा कर्तव्य है कि हम एक ऐसा समाज और ढांचा तैयार करें जो उसे उड़ान भरने का हर अवसर दे.'

जब बच्चे को तोहफे में दिए थे जूते
कुछ दिनों पहले गांधी ने तमिलनाडु के एक 12 साल के लड़के एंटनी फेलिक्स से किया वादा पूरा किया था. उन्होंने फेलिक्स से वादा किया था कि वो उसे स्पोर्ट्स शूज भेजेंगे. कुछ दिनों बाद ही उन्होंने बच्चे के लिए जूते भिजवाए. बच्चे ने खुलासा किया कि उसे दौड़ना अच्छा लगता है और 100 मीटर दौड़ का शानदार रनर है. राहुल ने सवाल किया कि उसे नंगे पैर दौड़ना अच्छा लगता है या जूते पहनकर. इसके बाद राहुल गांधी ने बच्चे को स्पोर्ट्स शूज दिलाने का वादा किया. साथ ही यह भी भरोसा दिलाया कि उसकी ट्रेनिंग के लिए एकेडमी में दाखिला दिलाने में भी मदद करेंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज