तेलंगाना में जल प्रलय से स्‍कूल-कॉलेज बंद, हैदराबाद में 12 लोगों की मौत

हैदराबाद में बारिश से मची तबाही.
हैदराबाद में बारिश से मची तबाही.

Hyderabad Rain: मंगलवार देर रात चंद्रायनगुट्टा में एक पहाड़ से कुछ पत्थर लुढकर दो मकानों की दीवारों पर गिए गए, जिसके कारण 8 लोगों की मौके पर ही मौत हो गई और तीन अन्य लोग घायल हो गए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 14, 2020, 1:05 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. तेलंगाना (Telangana) की राजधानी हैदराबाद (Hyderabad) में पिछले 24 घंटे से बारिश (rain) हो रही है. इसके कारण शहर के कई हिस्‍से जलमग्‍न हो गए हैं. यहां बाढ़ जैसी स्थिति दिख रही है. बारिश के कारण इतना जलजमाव हुआ है कि कुछ क्षेत्रों में तो सड़े पर खड़े वाहन भी पानी में बह गए. वहीं कुछ इलाकों में फंसे लोगों को राज्‍य आपदा प्रबंधन की टीम ने बचाकर बाहर निकाला. अब तक शहर में 12 लोगोंं की मौत बारिश के कारण हुए हादसों में हो चुकी है. हैदराबाद में हो रही लगातार बारिश से कुछ इलाकों में बाढ़ जैसे हालात बन गए हैं. नाले-नदियां उफान पर हैं. इसके साथ ही राज्‍य में बारिश को देखते हुए सभी स्‍कूल-कॉलेज बंद कर दिए गए हैं.

हैदराबाद में हो रही लगातार बारिश से बने हालात पर मुख्‍यमंत्री के चंद्रशेखर राव भी नजर बनाए हुए हैं. तेलंगाना के चीफ सेक्रेटी सोमेश कुमार ने जानकारी दी है कि मुख्‍यमंत्री ने सभी जिलों के प्रशासन को बारिश के चलते अलर्ट रहने को कहा है. हैदराबाद में कई इलाके ऐसे हैं जहां पिछले 24 घंटे में रिकॉर्ड 20 सेमी बारिश दर्ज की गई है.
भारी बारिश के कारण सड़कों और निचले इलाकों में पानी भर गया है. चंद्रायनगुट्टा पुलिस थाना क्षेत्र में दीवार ढहने की दो घटनाओं में एक बच्चे समेत 10 लोगों की मौत हो गई. पुलिस ने बुधवार को बताया कि यहां भारी बारिश के कारण इब्राहिमपट्टनम इलाके में एक पुराने मकान की छत ढह जाने से 40 वर्षीय महिला और उसकी बेटी की मौत हो गई.एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि मंगलवार देर रात चंद्रायनगुट्टा में एक पहाड़ से कुछ पत्थर लुढकर दो मकानों की दीवारों पर गिए गए, जिसके कारण 8 लोगों की मौके पर ही मौत हो गई और तीन अन्य लोग घायल हो गए. घायलों का उपचार किया जा रहा है. अधिकारी ने बताया कि इलाके में बुधवार सुबह दो और लोगों की मौत होने की जानकारी मिली.हैदराबाद से लोकसभा सदस्य असदुद्दीन ओवैसी शहर में बचाव प्रयासों की निगरानी कर रहे हैं. आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, मंगलवार सुबह साढ़े आठ से रात नौ बजे तक मेडचल मल्काजगिरि जिले के सिंगापुर टाउनशिप में 292.5 मिमी बारिश हुई और यदाद्री-भोंगीर जिले के वर्केल पाल्ले में 250.8 मिमी बारिश दर्ज की गई.

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम (जीएचएमसी) के कई इलाकों में भारी से बहुत भारी बारिश हुई. जीएचएमसी में 98.9 मिमी औसत बारिश हुई. शहर में कई सड़कों और निचले इलाकों में पानी भर गया है. पुलिस दलों और एनडीआरएफ एवं जीएचएमसी के आपदा कार्रवाई बल (डीआरएफ) कर्मियों ने उन स्थानों से कई परिवारों को बाहर निकाला, जहां पानी भर गया था. कई इलाकों में बचाव कार्य जारी है. पुलिस ने बताया कि यहां उप्पल में जलभराव के कारण एक सरकारी बस के फंस जाने के बाद कम से कम 33 यात्रियों को बचाया गया.



भद्राद्री-कोठागुडेम जिले में जलाशयों में जलस्तर बढ़ गया है और प्रशासन ने लोगों को जलाशयों के पास नहीं जाने की सलाह दी है. इस बीच, नगर निकाय एवं पुलिस अधिकारियों ने लोगों से अपने घरों से बाहर नहीं निकलने को कहा है. जीएचएमसी आयुक्त डीएस लोकेश कुमार ने जर्जर इमारतों या झोपड़ियों में रह रहे लोगों से परिसर खाली करने की अपील की है.

उन्होंने बताया कि लोगों को सामुदायिक भवनों में अस्थायी निवास मुहैया कराया गया है. मौसम विज्ञान विभाग ने यहां बताया कि तेलंगाना में बुधवार को भी कहीं-कहीं गरज के साथ बौछारें पड़ने का अनुमान है. उसने बताया कि हैदराबाद समेत कुछ स्थानों पर बुधवार और बृहस्पतिवार को भारी एवं बहुत भारी बारिश होने का अनुमान है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज