मनोहर पर्रिकर बहुत बीमार हैं, बचने की कोई संभावना नहीं: गोवा के डिप्टी स्पीकर

गोवा विधानसभा के डिप्टी स्पीकर और बीजेपी विधायक माइकल लोबो ने कहा, 'कल रात पर्रिकर की तबीयत बेहद खराब हो गई थी इस वजह से इमरजेंसी बैठक बुलाई गई थी. वह डॉक्टरों की निगरानी में हैं.'

News18Hindi
Updated: March 17, 2019, 7:34 AM IST
मनोहर पर्रिकर बहुत बीमार हैं, बचने की कोई संभावना नहीं: गोवा के डिप्टी स्पीकर
गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर लंबे वक्त से बीमार चल रहे हैं.
News18Hindi
Updated: March 17, 2019, 7:34 AM IST
गोवा के बीजेपी विधायक और डिप्टी स्पीकर माइकल लोबो ने शनिवार को कहा कि वे मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर के ठीक होने की प्रार्थना कर रहे हैं लेकिन उनके बचने की संभावना नहीं है. उन्होंने कहा, 'गोवा में नेतृत्व नहीं बदलेगा. जब तक पर्रिकर हैं वही गोवा के मुख्यमंत्री रहेंगे और किसी ने उनकी जगह लेने की मांग नहीं की है. हम प्रार्थना कर रहे हैं कि वह ठीक हो जाएं लेकिन इसकी कोई संभावना नहीं है. यदि उन्हें कुछ हो जाता है तो अगला मुख्यमंत्री बीजेपी से ही होगा.'

लोबो ने आगे कहा, 'कल रात पर्रिकर की तबीयत बेहद खराब हो गई थी इस वजह से इमरजेंसी बैठक बुलाई गई थी. वह डॉक्टरों की निगरानी में हैं और उनका कहना है कि वह ठीक हो जाएंगे. तीन विधानसभा सीटों पर उपचुनाव होने हैं. बैठक इन सीटों पर उम्मीदवारों की घोषणा को लेकर थी.'

गोवा में कांग्रेस ने पेश किया सरकार बनाने का दावा, कहा- BJP के पास बहुमत नहीं



इससे पहले पर्रिकर के स्वास्थ्य को लेकर सीएम कार्यालय ने ट्वीट किया था, 'मीडिया में कुछ रिपोर्टों के संबंध में, यह स्पष्ट किया जाता है कि मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर की हालत स्थिर है.' कुछ दिनों पहले माइकल लोबो ने कहा था कि पर्रिकर बहुत बीमार हैं और वह सिर्फ भगवान भरोसे जिंदा हैं.


Loading...



मनोहर पर्रिकर के दफ्तर ने अफवाहों को किया खारिज, कहा- गोवा सीएम की हालत स्थिर

बता दें कि गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर लंबे वक्त से बीमार चल रहे हैं. पैनक्रियाटिक कैंसर से पीड़ित 61 वर्षीय पर्रिकर को 31 जनवरी को अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) में भर्ती कराया गया था. हाल ही में बीमार मुख्यमंत्री ने 3 मार्च को गोवा मेडिकल कॉलेज और अस्पताल (जीएमसीएच) में चेक-अप कराया था. फरवरी में पर्रिकर का जीएमसीएच में एक ऑपरेशन भी हुआ था.

इससे पहले विपक्ष ने कहा था कि पर्रिकर को उनकी बीमारियों के कारण उनके कर्तव्यों से मुक्त कर दिया जाना चाहिए. हालांकि, गोवा के बिजली मंत्री निलेश कैबरल ने गुरुवार को एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि पर्रिकर आगामी चुनाव के लिए गोवा भाजपा के अभियान के लिए मार्गदर्शक बने रहेंगे.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...

और भी देखें

पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...