अपना शहर चुनें

States

ममता बनर्जी की BJP को खरी-खरी, कहा- हम केवल चुनावी साल में नेताजी का जन्मदिन नहीं मनाते

ममता बनर्जी ने नेताजी की जयंती पर राष्ट्रीय अवकाश घोषित करने की मांग की है. (फाइल फोटो)
ममता बनर्जी ने नेताजी की जयंती पर राष्ट्रीय अवकाश घोषित करने की मांग की है. (फाइल फोटो)

सीएम ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने सरकार पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा हम नेताजी का जन्मदिन केवल उन सालों में नहीं मनाते, जब चुनाव होने हों. हम बड़े पैमाने पर उनकी 125वीं जयंती मना रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 23, 2021, 6:25 PM IST
  • Share this:
कोलकाता. नेताजी सुभाष चंद्र बोस (Netaji Subhas Chandra Bose) की आज 125वीं जयंती है. इस मौके पर पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी की सरकार ने शनिवार को बड़े समारोह का आयोजन किया है. सीएम बनर्जी ने बोस को श्रद्धांजलि देने के लिए एक भव्य जुलूस का आयोजन किया है. हालांकि, इस दौरान भी उन्होंने बगैर नाम लिए भारतीय जनता पार्टी पर तंज कसा है. बंगाल में इस साल विधानसभा चुनाव होने हैं.

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने शनिवार को एक जुलूस के जरिए सुभाष चंद्र बोस की जयंती मनाई. यह जुलूस कोलकाता के श्यामबाजार इलाके से शुरू हुआ था. खास बात है कि इस दौरान सीएम ने जुलूस शुरू होने के पहले ठीक 12.15 मिनट पर शंख फूंका. यह वही समय है, जब नेताजी का 1897 में जन्म हुआ था. इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) का भी कोलकाता पहुंचने का कार्यक्रम था.





इस दौरान सीएम बनर्जी ने सरकार पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा हम नेताजी का जन्मदिन केवल उन सालों में नहीं मनाते, जब चुनाव होने हों. हम बड़े पैमाने पर उनकी 125वीं जयंती मना रहे हैं. उन्होंने कहा नेताजी देश के महान स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों में से एक थे. वे एक महान दार्शनिक थे. बनर्जी ने ट्वीट के जरिए बोस और उनकी आजाद हिंद फौज (Azad Hind Fauj) के नाम पर कई विकास कार्यों की घोषणा भी की है.
नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125वीं जयंती से जुड़े लाइव अपडेट्स के लिए यहां क्लिक करें

एक ओर सरकार ने इस दिन को पराक्रम दिवस के तौर पर मनाने की बात कही है. वहीं, दूसरी ओर बनर्जी इसे देशनायक दिवस बता रही हैं. उन्होंने कहा रविंद्रनाथ टैगोर ने नेताजी को देशनायक बताया था. यही कारण है कि हमने इस दिन को देशनायक दिवस के रूप में मनाने का फैसला किया है. सीएम ने भारत सरकार से इस दिन पर राष्ट्रीय अवकाश घोषित करने की बात कही थी.

इस 7 किमी लंबे जुलूस का समापन रेड रोड स्थित नेताजी की मुर्ति के पास संपन्न हुआ. यहां सीएम ने सभा को संबोधित किया. इस रैली में तृणमूल कांग्रेस के कई बड़े नेता और सांसद शामिल हुए थे. वहीं, राज्य में मुख्य सचिव अलापन बंदोपाध्याय समते कई राज्य सरकार के अन्य अधिकारी भी रैली में मौजूद रहे. इस दौरान सभी ने बोस को श्रंद्धांजलि दी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज