लाइव टीवी

केरल में कोरोना वायरस के सभी तीन मरीज हुए ठीक, मलेशिया से आए एक शख्स में पाए गए लक्षण

News18Hindi
Updated: February 28, 2020, 11:22 PM IST
केरल में कोरोना वायरस के सभी तीन मरीज हुए ठीक, मलेशिया से आए एक शख्स में पाए गए लक्षण
तीन छात्र जिनमें कोरोनावायरस के लक्षण पाए गए थे उन्हें पृथक रखा गया था उनकी हालत में सुधार है (File Photo)

केरल की स्वास्थ्य मंत्री केके शैलजा (Kerala Health Minister KK Shailaja) ने शुक्रवार को जानकारी दी कि हमें कोरोनावायरस (Corona Virus) से निपटने के पहले पड़ाव में हमें सफलता मिली है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 28, 2020, 11:22 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दुनिया भर में कोरोना वायरस (Corona Virus) धीरे-धीरे अपने पैर पसार रहा है. चीन (China) के बाद ईरान (Iran) और इटली (Italy) में इस वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़ती जा रही है. चीन और जापान (Japan) के एक क्रूज में फंसे भारतीयों को भी वापस लाया जा चुका है. कोरोना वायरस के फैलने के बाद भारत आए तीन भारतीयों में इस संक्रमण से जुड़े लक्षण पाए गए थे. जिसके बाद उन्हें अलग रखकर उनका उपचार किया गया था.

केरल की स्वास्थ्य मंत्री केके शैलजा ने शुक्रवार को जानकारी दी कि हमें कोरोनावायरस से निपटने के पहले पड़ाव में हमें सफलता मिली है. तीन छात्र जिनमें कोरोनावायरस के लक्षण पाए गए थे उन्हें पृथक रखा गया था उनकी हालत में सुधार है और वह बिल्कुल ठीक हैं.

पृथक रखे गए थे 3500 लोग
शैलजा ने बताया कि कुल 3,500 लोग क्वेरन्टाइन में थे. जब इसकी 28 दिन की अवधि समाप्त हो गई, तब हमने उन्हें घर भेज दिया, अब 135 लोग घर में ही पृथक रूप से रह रहे हैं.



शैलजा ने आगे बताया कि मलेशिया का एक शख्स एर्नाकुलम एयरपोर्ट पर आया था. उसमें खराश, बुखार जैसे लक्षण थे. हम नहीं कह सकते कि यह कोरोनावायरस है लेकिन हमने उसे पृथक रखा हुआ है. उसके सैंपल वायरोलॉजी संस्थान भेजे गए हैं. मुझे लगता है कि उसके नतीजे शनिवार तक आ जाएंगे.

ईरान में अब तक 34 लोगों की मौत
ईरान के स्वास्थ्य मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा है कि देश में घातक कोरोना वायरस के संक्रमण के 388 पुष्ट मामलों में 34 लोगों की मौत हो चुकी है. ईरान के स्वास्थ्य मंत्रालय के प्रवक्ता किनोश जहांपौर ने शुक्रवार को तेहरान में संवाददाता सम्मेलन में मृतकों की संख्या के बारे में बताया. इसके बाद से पश्चिम एशिया में वायरस से संक्रमण के 500 से अधिक पुष्ट मामले सामने आए हैं.

चीन के बाद ईरान में कोरोना वायरस से सबसे अधिक मौतें हुई हैं साथ ही संक्रमण के पुष्ट मामलों में भी चीन के बाद यह दूसरा देश है.

जर्मनी में भी 50 मामले आए सामने
जर्मनी के सबसे अधिक आबादी वाले राज्य नॉर्थराइन-वेस्टफेलिया में शुक्रवार को कोरोना वायरस से संक्रमण के 50 से अधिक मामलों की पुष्टि होने के साथ ही लगभग 1000 लोगों को संक्रमण के संदेह में पृथक रखा गया.

नॉर्थराइन-वेस्टफेलिया के हेन्सबर्ग जिले में फरवरी के मध्य में एक संक्रमित जोड़े ने लोगों के साथ कार्निवल समारोहों में भाग लिया था जिसके कारण एहतियातन लगभग 1,000 लोगों को पृथक रखना पड़ रहा है. जिले में संक्रमण के 20 मामलों की पुष्टि हुई है जिसे देखते हुए सभी स्कूलों को बंद रखने का आदेश दिया गया है.

ये भी पढ़ें-
दुनिया पर मंडरा रहा है 10 साल का सबसे बड़ा संकट, डूब सकते हैं 210 लाख करोड़ रु

चीन के बाद साउथ कोरिया में बढ़ा कोरोना वायरस का कहर, 2000 से अधिक लोग संक्रमित

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 28, 2020, 11:22 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर