DRDO की 'रामबाण' दवा पर सरकार का बड़ा बयान, कोरोना इलाज के प्रोटोकॉल में होगी शामिल?

2-DG के आपातकालीन इस्तेमाल को मिली है मंजूरी. (सांकेतिक तस्वीर)

2-DG के आपातकालीन इस्तेमाल को मिली है मंजूरी. (सांकेतिक तस्वीर)

नीति आयोग के सदस्य डॉ. वीके पॉल (Dr. VK Paul) ने कहा है-इस दवा को कोरोना इलाज प्रोटोकॉल में शामिल करने को लेकर कोविड19 नेशनल टास्क फोर्स जांच करेगी. ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया ने इस दवा को इमरजेंसी यूज की अनुमति दे दी है.

  • Share this:

नई दिल्ली. कोरोना के इलाज के लिए 'रामबाण' कही जा रही DRDO की दवा 2-DG को इलाज के प्रोटोकॉल में शामिल करने पर विचार हो सकता है. नीति आयोग के सदस्य डॉ. वीके पॉल (Dr. VK Paul) ने कहा है-इस दवा को कोरोना इलाज प्रोटोकॉल में शामिल करने को लेकर कोविड19 नेशनल टास्क फोर्स जांच करेगी. ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया ने इस दवा को इमरजेंसी यूज की अनुमति दे दी है. कोरोना वायरस के सिंगापुर वेरियंट के सवाल पर वी.के.पॉल ने कहा कि ये दख जा रहा है कि किस वेरियंट की बात हो रही है. ऑथेंटिक जानकारी लेकर इस पर जवाब दिया जाएगा.

डॉ. पाल ने कहा है-भारत की स्वदेशी वैक्सीन कोवैक्सीन के 2-18 आयु समूह में दूसरे/तीसरे फेज के ट्रायल की अनुमति दी जा चुकी है. मुझे बताया गया है कि ये ट्रायल अगले 10-12 दिनों के भीतर शुरू कर दिया जाएगा.

भारत में लगातार घट रहे हैं कोरोना के नए मामले, रिकवरी रेट में जारी है सुधार

इससे पहले स्वास्थ्य मंत्रालय ने मंगलवार को जानकारी दी है कि देश में कोरोना रिकवरी रेट अब 85.6 फीसदी हो चुका है जो 3 मई को 81.7 फीसदी था. वहीं बीते 24 घंटे के दौरान 4,22,436 रिकवरी हुई है जो अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा है. मंत्रालय के ज्वाइंट सेक्रेटरी लव अग्रवाल ने कहा है कि ये स्पष्ट तौर पर एक पॉजिटिव ट्रेंड है.

Youtube Video

मंत्रालय द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक केरल में 99,651 रिकवरी नोट की गई. उन्होंने कहा कि हम रिकवरी में क्लियर पॉजिटिव ट्रेंड नोट कर रहे हैं और सक्रिय मामलों में भी कमी आ रही है. केवल 8 राज्य ही ऐसे हैं जहां प्रतिदिन 10,000 से अधिक मामले आ रहे हैं. 26 राज्य ऐसे हैं जहां रिकवरी प्रतिदिन रिपोर्ट होने वाले मामलों से अधिक है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज