किसान आंदोलन जब से शुरू हुआ तब से पाकिस्तान से ड्रोन से लगातार आ रहे हैं हथियार:कैप्टन

अमरिंदर सिंह ने यह चेतावनी ऐसे समय में दी है जब सरकार किसान आंदोलन में खालिस्तानयों का हाथ होने का आरोप लगा रही है.

अमरिंदर सिंह ने यह चेतावनी ऐसे समय में दी है जब सरकार किसान आंदोलन में खालिस्तानयों का हाथ होने का आरोप लगा रही है.

कैप्टन का कहना है कि उड़ान भरने वाले लोअर फ्लाइंग ड्रोन को खत्म करने के लिए हमें उन्नत किस्म के रडार चाहिए. वह कहते हैं कि हमारे पास BSF और वायु सेना है लेकिन उनके इस किस्म के ड्राने से लड़ने की क्षमता नहीं है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 21, 2021, 4:20 PM IST
  • Share this:
चंडीगढ़. पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह (Punjab Chief Minister Capt. Amarinder Singh) ने कहा है कि जब से पंजाब में किसान आंदोलन (Kisan andolan) शुरू हुआ है तब से यहां लगातार पाकिस्तान (Pakistan) से हथियार आ रहे हैं. उन्होंने कहा कि हमारे पास इसकी जानकारी है कि किसान आंदोलन शुरू होने के बाद से अक्टूबर से पंजाब में बहुत सारे हथियार आ रहे हैं.

उन्होंने ‘द इंडियन एक्सप्रेस’को दिए एक इंट्रव्यू में कहा है कि अभी पंजाब में स्लीपर सेल के पास इन हथियारों का इस्तेमाल करने के लिए युवा नहीं हैं. वह कहते हैं कि हमें सोचना चाहिए कि ये लोग आंदोलन के दौरान इन गुस्साए युवाओं को इस्तेमाल कर सकते हैं. क्योंकि ये लोग पंजाब में अशांत परिस्थतियां पैदा करना चाहते हैं.

उन्होंने बताया कि पहले पाकिस्तान की ओर से सुरंगें बनाकर हथियार सीमा पार से आते थे। अब वे ड्रोन के इन्हें ड्रोन के जरिए सीमा के अंदर हथियार भिजवा रहे हैं. वह कहते हैं कि इसीलिए इस विषय को केंद्रीय गृह मंत्री को अवगत करवाया था. उस दौरान लोगों को लगा था कि मैं किसानों की तरफ से गृह मंत्री को मिलने गया था लेकिन ऐसा नहीं था, उस दौरान करीब छह-सात ड्रोन बरामद किए गए थे.

ये भी पढ़ेंः- Covid-19: राज्य बढ़ाएं RT-PCR टेस्टिंग की रफ्तार, बढ़ते मामलों के बीच केंद्र ने दी सलाह
Youtube Video


कैप्टन का कहना है कि उड़ान भरने वाले लोअर फ्लाइंग ड्रोन को खत्म करने के लिए हमें उन्नत किस्म के रडार चाहिए. वह कहते हैं कि हमारे पास BSF और वायु सेना है लेकिन उनके इस किस्म के ड्राने से लड़ने की क्षमता नहीं है. जबकि राज्य में ड्रोन से हथियारों की सप्लाई राज्य में चिंताजनक है.अमरिंदर सिंह ने यह चेतावनी ऐसे समय में दी है जब सरकार किसान आंदोलन में खालिस्तानयों का हाथ होने का आरोप लगा रही है. वह कहते हैं कि अशांत पंजाब पाकिस्तान की परिस्थतियों के अनुकूल बैठता है. कश्मीर में उन्होंने अशांति फैला रखी है.अब चीन और पाकिस्तान के घनिष्ठ संबध भी हमारे लिए ठीक नहीं है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज