• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • आज आपके यहां शुरू हुई बारिश अगले तीन दिनों तक रह सकती है जारी, IMD ने जारी किया ओलों और आंधी का भी अलर्ट

आज आपके यहां शुरू हुई बारिश अगले तीन दिनों तक रह सकती है जारी, IMD ने जारी किया ओलों और आंधी का भी अलर्ट

28 मई तक केरल पहुंचेगा मानसून, जानिए आपके राज्य में कब देगा दस्तक?

28 मई तक केरल पहुंचेगा मानसून, जानिए आपके राज्य में कब देगा दस्तक?

भारतीय मौसम विभाग (IMD) के अनुसार तीन मई से अगले तीन दिनों के बीच बिजली की चमक (Hailstorm) और गरज के साथ भारी बारिश (Heavy Rain), ओले गिरने, बिजली गिरने और तेज हवाओं के चलने की संभावना है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. राजधानी दिल्ली और आसपास के इलाकों सहित (Delhi Rains) उत्तर भारत के विभिन्न हिस्सों में आज सुबह से ही घने बादल छाए हैं और बारिश हो रही है. दरअसल भारतीय मौसम विभाग (IMD) ने पहले ही पश्चिमी उत्तर भारत के सभी क्षेत्रों में तीन मई से अगले तीन दिनों के बीच में बिजली की चमक (Hailstorm) और गरज के साथ भारी बारिश (Heavy Rain), ओले गिरने, बिजली गिरने और तेज हवाओं (30-40 किमी प्रति घंटे) के चलने की संभावना जताई थी.

    आईएमडी ने 3 से 6 मई के बीच उत्तर-पश्चिम भारत के अधिकांश हिस्सों के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है. क्षेत्रीय मौसम पूर्वानुमान केंद्र दिल्ली के अनुसार हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, जम्मू और कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड और राजस्थान के कुछ हिस्सों में, जहां ताज़ा और तीव्र पश्चिमी विक्षोभ के कारण गरज, धूल भरी आंधी और धूल भरी हवाएं चलने की चेतावनी है.

    पश्चिमी विक्षोभ होगा तेज
    क्षेत्रीय मौसम पूर्वानुमान केंद्र दिल्ली के प्रमुख कुलदीप श्रीवास्तव ने बताया था, 'पश्चिमी विक्षोभ तेज होगा, क्योंकि निम्न दबाव का क्षेत्र बनेगा और अरब सागर से नमी पैदा होगी. इससे 3 मई की रात को पश्चिम राजस्थान के ऊपर एक चक्रवाती मौसम विकसित होने की संभावना है. इसके चलते अगले तीन, चार दिनों के लिए पूरे उत्तर पश्चिमी क्षेत्र में 40 से 50 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से बारिश, गरज, तेज हवाएं चल सकती हैं. साथ ही पश्चिमी हिमालय के ऊपरी इलाकों में बर्फबारी हो सकती है.'

    इस बीच इस मौसम का पहला चक्रवाती तूफान अंफन दक्षिण अंडमान समुद्र के ऊपर बन रहा है. शुक्रवार को दक्षिण अंडमान सागर और इससे सटे दक्षिण-पूर्वी बंगाल की खाड़ी के ऊपर कम दबाव का क्षेत्र बना. आईएमडी ने अपने शुक्रवार के बुलेटिन में कहा कि इसकी तेजी में धीमी और देरी होने की उम्मीद है. बुलेटिन के अनुसार अगले 48 घंटों के दौरान एक ही क्षेत्र में रहने की संभावना है. बाद के 48 घंटों के दौरान तूफान अंडमान सागर और उससे सटे दक्षिण-पूर्वी खाड़ी बंगाल पर होगा और इसके बाद और तेज हो सकता है.'

    5 मई तक उत्तर-उत्तर-पश्चिम की ओर धीरे-धीरे बढ़ेगा तूफान
    तूफान के 5 मई तक उत्तर-उत्तर-पश्चिम की ओर धीरे-धीरे बढ़ने की संभावना है. इसके प्रभाव में, दक्षिण अंडमान सागर और बंगाल के दक्षिण-पूर्व की खाड़ी और अगले पांच से अधिक दिन तक अंडमान-निकोबार द्वीप समूह के ऊपर भारी बारिश और गरज के साथ वर्षा होने की संभावना है.

    बुलेटिन के अनुसार, 1 से 5 मई तक दक्षिण अंडमान सागर और बंगाल की दक्षिण-पूर्वी खाड़ी के ऊपर समुद्र की स्थिति बहुत खराब हो जाएगी. विभाग ने मछुआरों को 1 मई को दक्षिण अंडमान सागर में बंगाल की दक्षिण-पूर्वी खाड़ी में न जाने की सलाह दी है. यह 2 और 3 मई को दक्षिण पूर्व बंगाल की खाड़ी, और अंडमान सागर और 4 और 5 मई को बंगाल की दक्षिण-पूर्वी खाड़ी तक पहुंच सकता है.

    यह भी पढ़ें: केरल से लौट रहे हजारों मजदूर, सरकार दे रही है पूरे रास्ते के लिए मुफ्त खाना

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज