Weather Updates: पश्चिमी राजस्थान से वापसी कर रहा मानसून, जल्द ठंड आने के मिले संकेत

weather updates: मौसम ​विभाग के मुताबिक देश में अगले 10 से 12 दिन अभी और गर्मी सताएगी.
weather updates: मौसम ​विभाग के मुताबिक देश में अगले 10 से 12 दिन अभी और गर्मी सताएगी.

Weather Updates: भारतीय मौसम विभाग (Indian Meteorological Department) के मुताबिक अगले एक दो दिन में मानसून (Monsoon) की वापसी को लेकर हालात और अनुकूल हो जाएंगे. वही उत्तर भारत में अभी कुछ दिन गर्मी और सताएगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 20, 2020, 10:03 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. मौसम (Weather) में पिछले कई दिनों से लगातार बदलाव देखने को मिल रहा है. किसी दिन तेज बारिश हो जाती है तो किसी दिन लोग उमस भरी गर्मी से परेशान हो जाते हैं. हालां​कि उमस और गर्मी के बीच राहत की खबर ये है दक्षिण पश्चिम मानसून (Monsoon) के अगले सप्ताह से पश्चिमी राजस्थान (western Rajasthan) से वापसी के संकेत मिले हैं. इसका मतलब है कि अब बारिश भले ही न हो लेकिन सर्दी की आहट जरूर मिलने वाली है. भारतीय मौसम विभाग (Indian Meteorological Department) के मुताबिक अगले एक दो दिन में मानसून की वापसी को लेकर हालात और अनुकूल हो जाएंगे. वही उत्तर भारत में अभी कुछ दिन गर्मी और सताएगी.

भारतीय मौसम विभाग के महानिदेशक मृत्युंजय मोहपात्रा ने बताया, इस समय मानसून में जिस तरह के हालात देखने को मिल रहे हैं उसे देखने से लगता है कि 20 सितंबर से पश्चिमी राजस्थान में मानसूनी बारिश नहीं होगी. मौसम विभाग के मुताबिक 17 सितंबर से मानसून ने लौटना शुरू किया है. हालांकि बंगाल की खाड़ी में कम दबाव का क्षेत्र बनने से इसमें कुछ देरी होने की संभावना बढ़ गई है. पश्चिमी राजस्थान से मानसून लौटने के साथ ही सर्दी आने की परिस्थितियां बनने लगती हैं.

पूर्वानुमान के मुताबिक अगले एक से दो दिन में केंद्रीय और दक्षिण भारत में भारी बारिश होने की संभावना है. इसके साथ ही मौसम विभाग ने रविवार को महाराष्ट्र, केरल, गोवा और कर्नाटक के कुछ हिस्सों में ऑरेंज वार्निंग का अलर्ट जारी किया है.
इसे भी पढ़ें :- Weather Alert: राजस्थान में येलो अलर्ट जारी, आज इन जिलों में गरज के साथ हो सकती है झमाझम बारिश



10 से 12 दिन अभी बनी रहेगी गर्मी
विशेषज्ञों की मानें तो अगले 10 से 12 दिनों तक उमस भरी गर्मी परेशान कर सकती है. ये हालात तब तक बने रहेंगे जब तक मानसून पूरी तरह से बिना बारिश के वापस नहीं आ जाता. मौसम विज्ञान विभाग के मुताबिक सितंबर में भारत के उत्तरी भाग में सबसे कम बारिश दर्ज की गई है. वहीं कर्नाटक, आंध्र प्रदेश और तेलंगाना के दक्षिणी राज्यों में इसी दौरान 50 प्रतिशत अधिक बारिश हुई.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज