अपना शहर चुनें

States

आज का मौसम: दिल्ली में आज बारिश से ठंड और बढ़ने के आसार, निवार तूफान से जूझने को तैयार दक्षिणी राज्य

बंगाल की खाड़ी के ऊपर बना गहरे दबाव का क्षेत्र चक्रवाती तूफान 'निवार' में परिवर्तित चुका है. इसके बुधवार को और विकराल रूप धारण करने की आशंका है. (PTI)
बंगाल की खाड़ी के ऊपर बना गहरे दबाव का क्षेत्र चक्रवाती तूफान 'निवार' में परिवर्तित चुका है. इसके बुधवार को और विकराल रूप धारण करने की आशंका है. (PTI)

आज का मौसम (weather forecast Today): चक्रवाती तूफान 'निवार' पुडुचेरी से 410 तथा तमिलनाडु से 450 किलोमीटर दूर है. अगले कुछ घंटे में चक्रवाती तूफान के और विकराल रूप धरने की आशंका है. अगले 12 घंटे में इसके पश्चिम-उत्तर की ओर बढ़ने और इसके बाद उत्तर-पश्चिम की तरफ बढ़ने की प्रबल आशंका जताई गई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 25, 2020, 7:05 AM IST
  • Share this:
Weather Report of 25th November (आज का मौसम): कश्मीर के बड़े हिस्से में इस सीजन की पहली बर्फबारी (snowfall in kashmir) के कारण उत्तर भारत में अभी से कड़ाके की ठंड पड़ने लगी है. दिल्ली में इस बार नवंबर में पड़ी ठंड (Cold in Delhi) ने 17 साल का पुराना रिकॉर्ड तोड़ दिया है. राजधानी में मंगलवार को न्यूनतम तापमान 6.3 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया, जो 2003 के बाद से नवंबर में सबसे कम तापमान है. मौसम विभाग ने आज भी दिल्ली में न्यूनतम तापमान 7 डिग्री सेल्सियस रहने का अनुमान लगाया है. वहीं, बंगाल की खाड़ी के ऊपर बना गहरे दबाव का क्षेत्र चक्रवाती तूफान 'निवार' में परिवर्तित चुका है. इसके बुधवार को और विकराल रूप धारण करने की आशंका है. मौसम विज्ञान विभाग ने बताया कि ये तूफान आज को तमिलनाडु और पुडुचेरी के तट से टकरा सकता है.

चक्रवाती तूफान तमिलनाडु, पुडुचेरी में भारी से बहुत भारी बारिश की आशंका
मौसम विभाग ने कहा कि बंगाल की खाड़ी के दक्षिण पश्चिमी हिस्से के ऊपर निर्मित हुआ गहरे दबाव का क्षेत्र पश्चिम-उत्तर की ओर बढ़ा और चक्रवाती तूफान निवार में तब्दील हो गया. आज चक्रवाती तूफान 'निवार' के कारण तमिलनाडु, पुडुचेरी और कराईकल के ज्यादातर हिस्सों में बारिश हो सकती है. कुछ स्थानों पर भारी से बहुत भारी बारिश भी हो सकती है. अधिकारियों ने बताया कि यहां चेम्बरमबक्कम समेत कई जलाशयों पर लगातार निगरानी रखी जा रही है. निचले स्थानों पर रहने वाले लोगों को सुरक्षित जगह पर ले जाया जा रहा है.

दिल्ली में ठंड ने तोड़ा 14 साल का रिकॉर्ड, नवंबर महीने में ही पड़ रही है दिसंबर जैसी सर्दी
'निवार' के कारण तमिलनाडु, पुडुचेरी की फ्लाइट्स कैंसिल


आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु और पुडुचेरी में चक्रवात 'निवार' के आने की आशंका के मद्देनजर प्राधिकारी इससे निपटने की तैयारियों में जुट गए हैं. कैबिनेट सचिव राजीव गौबा की अध्यक्षता वाली राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन समिति ने सोमवार को यहां बैठक की. इसके बाद तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश और पुडुचेरी में कुल 22 दलों को पहले ही तैनात किया जा चुका है और आठ दलों को तैयार रखा गया है. इन 30 दलों में से 12 को तमिलनाडु, सात को आंध्र प्रदेश और तीन को पुडुचेरी में तैनात किया गया है. आज और कल इंडिगो और एयर इंडिया ने आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु और पुडुचेरी जाने वाली सभी फ्लाइट्स कैंसिल कर दी हैं. तीन राज्यों में सार्वजनिक छुट्टी घोषित किया गया हैं.

दिल्ली में अभी और बढ़ेगी ठंड
मौसम विभाग के मुताबिक, एक तो पहाड़ों में बर्फबारी और ऊपर से वेस्टर्न डिस्टरबेंस के चलते दिल्‍ली में बारिश होनी है, जिससे ठंड और बढ़ेगी. मौसम विभाग के अनुसार, 24 और 25 नवंबर को भी आंशिक तौर पर बादल छाए रहेंगे. वहीं, 26 नवंबर को बूंदाबांदी की आशंका है. 27 नवंबर से न्यूनतम तापमान में एक बार फिर गिरावट शुरू हो जाएगी. दिल्ली में नवंबर में पिछले साल 11.5 डिग्री सेल्सियस, 2018 में 10.5 डिग्री सेल्सियस और 2017 में 7.6 डिग्री सेल्सियस सबसे कम न्यूनतम तापमान दर्ज किया गया था. नवंबर में अब तक का सबसे कम 3.9 डिग्री सेल्सियस तापमान 28 नवंबर 1938 को दर्ज किया गया था.

प्रदूषण से भी लोगों का हाल बेहाल
दिल्ली में वायु प्रदूषण से भी लोगों का हाल बेहाल हो गया है. वायु गुणवत्ता (AQI) धीरे-धीरे बेहद खराब होती जा रही है. इससे लोगों का स्‍वच्‍छ हवा में सांस लेना दूभर हो गया है. प्रदूषण का आलम यह है कि कई स्थानों पर विजिबिलिटी काफी कम हो गई है. रविवार सुबह दिल्ली के कई इलाकों में धुंध छाई हुई थी. इससे किसी भी चीज को देख पाना मुश्किल हो गया. प्रदूषण की वजह से लोगों की आंखों में जलन हो रही है. वहीं, प्रदूषण को कम करने के लिए पानी का छिड़काव भी किया जा रहा है.

एक्‍यूआई 400 के पार
दिल्ली प्रदूषण नियंत्रण समिति (DPCC) के अनुसार, मंगलवार को वायु गुणवत्ता सूचकांक (AQI) आनंद विहार में 481, IGI हवाई अड्डे के क्षेत्र में 444 में, ITO में 457, और लोधी रोड क्षेत्र में 414 दर्ज किया गया जो कि गंभीर श्रेणी में हैं. जबकि, शनिवार को उत्तरी दिल्ली नगर निगम द्वारा सदर बाज़ार क्षेत्र में वायु प्रदूषण के खिलाफ उपाय के रूप में पानी का छिड़काव किया गया. मेयर जय प्रकाश (Mayor Jai Prakash) का कहना है कि प्रदूषण को नियंत्रित करने की ज़िम्मेदारी दिल्ली सरकार की है, लेकिन वह सो रही है. वहीं, हम दूसरी ओर काम कर रहे हैं.

Delhi Cold Alert: हाड़ कंपाने वाली ठंड के लिए रहें तैयार, 3 से 4 डिग्री तक गिर सकता है पारा

माउंट आबू में जम गया नलों का पानी
हरियाणा के हिसार में राज्य में सबसे कम न्यूनतम तापमान (5.9 डिग्री सेल्सियस) दर्ज किया गया, जबकि पंजाब में बठिंडा सबसे ठंडा स्थान रहा और वहां न्यूनतम तापमान 5.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. राजस्थान के एकमात्र पर्वतीय पर्यटन स्थल माउंट आबू में पारा जीरो डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया. (PTI इनपुट के साथ)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज