Home /News /nation /

weather india meteorological department imd monsoon chhattisgarh odisha very heavy rain rks

मौसमः ओडिशा और छत्तीसगढ़ में भारी बारिश का अलर्ट, दिल्ली में अगले तीन दिन बरसेंगे बादल!

मौसम विभाग के मुताबिक 
दिल्ली में अगले 3 दिन हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है. (फाइल फोटो)

मौसम विभाग के मुताबिक दिल्ली में अगले 3 दिन हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है. (फाइल फोटो)

मौसम विभाग के मुताबिक आज छत्तीसगढ़ और ओडिशा में अलग-अलग जगहों पर भारी से बहुत भारी बरसात हो सकती है. वहीं राष्ट्रीय राजधानी में अगले तीन दिन हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना है.

नई दिल्ली. मौसम विभाग के अनुमान के मुताबिक आज छत्तीसगढ़ और ओडिशा में अलग-अलग जगहों पर भारी से बहुत भारी बरसात हो सकती है. इसके साथ ही हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, पूर्वी मध्य प्रदेश, बिहार, झारखंड, गंगीय पश्चिम बंगाल, असम और मेघालय में अलग-अलग जगहों पर भारी बारिश होने की संभावना है. मौसम विभाग के मुताबिक नागालैंड, मणिपुर, मेघालय और त्रिपुरा, गुजरात राज्य, कोंकण और गोवा, तटीय आंध्र प्रदेश और यनम, तेलंगाना, तटीय कर्नाटक और केरल और माहे में भी भारी बारिश हो सकती है.

वहीं राष्ट्रीय राजधानी में अगले तीन दिन हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना है. पिछले दो दिन में हुई हल्की से मध्यम बारिश के बाद कई हिस्सों में जलजमाव की खबरें सामने आई थी. दिल्ली में बीते बृहस्पतिवार की सुबह मानसून की पहली बारिश हुई. आईएमडी के आंकड़ों के अनुसार, राष्ट्रीय राजधानी में बृहस्पतिवार सुबह साढ़े आठ बजे से शुक्रवार सुबह साढ़े आठ बजे तक 117 मिलीमीटर बारिश हुई.

मौसम विभाग के मुताबिक हिमाचल प्रदेश, पूर्वी उत्तर प्रदेश, राजस्थान, मध्य प्रदेश, विदर्भ, छत्तीसगढ़, बिहार, झारखंड, पश्चिम बंगाल, सिक्किम, अरुणाचल प्रदेश, असम और मेघालय, नागालैंड, मणिपुर, मेघालय और त्रिपुरा में अलग-अलग जगहों पर बिजली गिरने की संभावना है. इसके साथ ही मराठवाड़ा, तटीय आंध्र प्रदेश और यनम, तेलंगाना, तटीय कर्नाटक, तमिलनाडु और पुडुचेरी में गरज और बिजली के साथ बौछारें पड़ सकती हैं.

मौसम विभाग ने कहा है कि दक्षिण पश्चिम अरब सागर और इससे सटे पश्चिम मध्य अरब सागर में 50-60 किमी. प्रति घंटे से लेकर 70 किमी. प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवाएं चलने की संभावना है. गुजरात तट, मन्नार की खाड़ी, कोमोरिन क्षेत्र और आसपास के दक्षिणपूर्व अरब सागर, उत्तरी तटीय आंध्र प्रदेश, ओडिशा और पश्चिम बंगाल के तटों के साथ लगे और उसके बाहरी समुद्र में तेज हवाएं (हवा की गति 40-50 किमी प्रति घंटे से 60 किमी प्रति घंटे तक) चलने की संभावना है. मछुआरों को इन समुद्रों में नहीं जाने की सलाह दी गई है.

मानसून ने राजस्थान में किया प्रवेश: मौसम विभाग ने की घोषणा, जानें आज किन जिलों में होगी बारिश

मौसम विभाग के मुताबिक असम और मेघालय के अधिकांश स्थानों पर अधिकतम तापमान सामान्य से काफी अधिक (3.1 डिग्री सेल्सियस से 5.0 डिग्री सेल्सियस) दर्ज किया गया है, जबकि अरुणाचल प्रदेश में कई स्थानों और राजस्थान में अधिकांश स्थानों पर अधिकतम तापमान सामान्य से काफी नीचे (-3.1 डिग्री सेल्सियस से -5.0 डिग्री सेल्सियस) दर्ज किया गया है. हरियाणा, चंडीगढ़ और दिल्ली, पूर्वी उत्तर प्रदेश और गुजरात के अधिकांश स्थानों पर अधिकतम तापमान सामान्य से नीचे (-1.6 डिग्री सेल्सियस से -3.0 डिग्री सेल्सियस) दर्ज किया गया है. मौसम विभाग के मुताबिक दीव (सौराष्ट्र और कच्छ) में अधिकतम अधिकतम तापमान 38.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है.

Tags: India Meteorological Department, Monsoon, Weather forecast

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर